Asianet News HindiAsianet News Hindi

भारतीय वायुसेना: गौरवशाली इतिहास के 88 साल; इसे सुनकर हर भारतीय को होगा गर्व

Oct 8, 2020, 9:24 AM IST

वीडियो डेस्क। 8 अक्टूबर 1932 को इंडियन एयरफोर्स की स्थापना हुई। भारतीय वायुसेना आज अपना 88वां स्थापना दिवस मना रही है। पहली बार वायुसेना ने एक अप्रैल 1933 को उड़ान भरी थी। पहला ऑपरेशन वजीरिस्तान में कबाइलियों के खिलाफ था। दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान इसे विस्तार दिया गया। इस दौरान बर्मा में इसकी भूमिका महत्वपूर्ण रही। 1945 में यह रॉयल इंडियन एयर फोर्स कहलाई, लेकिन 1950 में गणराज्य बनते ही रॉयल शब्द हटा दिया गया। 88वां स्थापना दिवस पर हमने पूर्व विंग कमांडर अनुमा आचार्य से जाना हिंदुस्तान के कई जंगी विमान का गौरवशाली इतिहास। उन्होंने बताया कि भारतीय वायु सेना  के पास 1600 एयरक्राफ्ट है। साल 1965 के वॉर में  पाकिस्तानी सेबर जेट जहाजों को परास्त किया था।साल 1971 की लड़ाई में भारत की जीत का सेहरा  मिग 21 को बंधा।  साल 1980 में मिराज लड़ाकू विमान खरीदे। साल 1990 में हमने सुखोई एसयू-३० एमकेआई खरीदे। साल 1999 एयरपोर्स ने 1700 फाइटर मिशन किए। कारगिल में 2200 से ज्यादा हेलिकॉप्टर मिशन भी हुए।फाइटर एयरक्राफ्ट के अलावा एयरफोर्स ने ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट भी खरीदे। भारतीय वायु सेना ने लगातार अपनी ताकत में इजाफा किया।अब भारत के अटैक हेलीकॉप्टर भी आ गए हैं। अब भारत की वायुसेना में सबसे जंगी जहाज़ राफेल भी हैं।

Video Top Stories