Asianet News HindiAsianet News Hindi

Video: वो लोग जो बने 7 लोगों की हत्यारी मां शबनम के बेटे के माता पिता... नहीं पैदा की खुद की औलाद

वीडियो डेस्क। अपने ही परिवार को मौत के घाट सुलाने वाली शबनम वारदात के वक्त 2 महीने की गर्भवती थी। जेल में बच्चे को जन्म दिया। जेल में ही उसने अपने बच्चे की देखभाल की। प्रेमी के साथ मिलकर शबनम  ने अपने ही परिवार के सोए हुए 7 लोगों को मौत के घाट उतार दिया।  शबनम गर्दन पकड़ती और प्रेम सलीम कुल्हा़ड़ी से गर्दन अलग करता है। इतने क्रूर अपराध के बाद शबनम प्रेमी के साथ सुखी जीवन जीना चाहती थी। लेकिन हुआ उसके उलट शबनम को उसके कर्मों की मौत की सजा मुकर्रर की गई है। लेकिन ऐसे में सवाल उठता है कि शबनम का बेटा कहां हैं जिसने जेल में जन्म लिया दरअसल शबनम ने जहां से अपनी पढ़ाई पूरी की वहीं उसी कॉलेज के एक उस्मान नाम के व्यक्ति ने ये ठान लिया कि वो शबनम के बच्चे को गोद लेकर उसका पालन पोषण करेगा। शबनम उस्मान की सीनियर थी कई बार शबनम ने उस्मान की पढ़ाई और फीस भरने में मदद की थी उसी का कर्ज उतारने के लिए उस्मान शबनम के बच्चे को गोद लेना चाहता था। लेकिन ये सब आसान नहीं थी उस्मान को बच्चे को गोद लेने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। उसने पहले वंदना नाम की लड़की को शादी की क्यों कि बिना शादी किए बच्चा गोद लेना मुश्किल था। उस्मान और वंदना ने खुद अपनी अलौद पैदा नहीं की ताकि शबनम के बेटे के लिए उनका प्यार कम ना हो। शबनम का बेटा बड़ा होकर एक अच्छा और सफल इंसान बनना चाहता है। 

Feb 25, 2021, 2:55 PM IST

वीडियो डेस्क। अपने ही परिवार को मौत के घाट सुलाने वाली शबनम वारदात के वक्त 2 महीने की गर्भवती थी। जेल में बच्चे को जन्म दिया। जेल में ही उसने अपने बच्चे की देखभाल की। प्रेमी के साथ मिलकर शबनम  ने अपने ही परिवार के सोए हुए 7 लोगों को मौत के घाट उतार दिया।  शबनम गर्दन पकड़ती और प्रेम सलीम कुल्हा़ड़ी से गर्दन अलग करता है। इतने क्रूर अपराध के बाद शबनम प्रेमी के साथ सुखी जीवन जीना चाहती थी। लेकिन हुआ उसके उलट शबनम को उसके कर्मों की मौत की सजा मुकर्रर की गई है। लेकिन ऐसे में सवाल उठता है कि शबनम का बेटा कहां हैं जिसने जेल में जन्म लिया दरअसल शबनम ने जहां से अपनी पढ़ाई पूरी की वहीं उसी कॉलेज के एक उस्मान नाम के व्यक्ति ने ये ठान लिया कि वो शबनम के बच्चे को गोद लेकर उसका पालन पोषण करेगा। शबनम उस्मान की सीनियर थी कई बार शबनम ने उस्मान की पढ़ाई और फीस भरने में मदद की थी उसी का कर्ज उतारने के लिए उस्मान शबनम के बच्चे को गोद लेना चाहता था। लेकिन ये सब आसान नहीं थी उस्मान को बच्चे को गोद लेने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। उसने पहले वंदना नाम की लड़की को शादी की क्यों कि बिना शादी किए बच्चा गोद लेना मुश्किल था। उस्मान और वंदना ने खुद अपनी अलौद पैदा नहीं की ताकि शबनम के बेटे के लिए उनका प्यार कम ना हो। शबनम का बेटा बड़ा होकर एक अच्छा और सफल इंसान बनना चाहता है। 

Video Top Stories