Asianet News HindiAsianet News Hindi

Rafale जेट में आखिर वो क्या-क्या खासियत है, जिसे देख दुश्मनों का छूट रहा पसीना

राफेल में किसी भी सुरक्षित एयरस्पेस को भेदने की क्षमता है। राफेल की स्पीड 2222 किमी प्रति घंटा है।  भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस सरकार के साथ 36 राफेल खरीदने की समझौता किया था।

India's Rafale: all the special features of the advanced fighter jet push pressure on Enemies
Author
New Delhi, First Published Nov 14, 2019, 11:52 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश को इस साल दुनिया का सबसे बेहतर फाइटर जेट राफेल सौंपा गया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने फ्रांस जाकर औपचारिक तौर पर इसको देश के लिए सौंपा।  फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट राफेल का निर्माण करती है। भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस सरकार के साथ 36 राफेल खरीदने की समझौता किया था। यह डील करीब 7.87 बिलियन यूरो में हुई है, जिसमें 28 सिंगल सीटर और 8 ट्वीन सीटर शामिल है। 

India's Rafale: all the special features of the advanced fighter jet push pressure on Enemies

 

राफेल की खासियत 


1.  राफेल में Su30MKI फाइटेर जेट से डेढ़ गुना ज्यादा LOITERING क्षमता है। 

2. रेंज की बात करें तो 780-1055 किमी है।

3. राफेल की स्पीड 2222 किमी प्रति घंटा है

4. राफेल 15,240 मीटर तक की ऊंचाई (करीब 50 हजार फीट) पर उड़ान भर सकता है

India's Rafale: all the special features of the advanced fighter jet push pressure on Enemies

 

5. यह एक लंबी दूरी की जमीन पर हमला करने वाली मिसाइल है। जो अत्यधिक सटीकता के साथ लक्ष्य निकाल सकती है। इसको बालाकोट जैसे हमले के लिए नियंत्रण रेखा पार करने की आवश्यकता नहीं होगी। इसको भारतीय हवाई क्षेत्र के भीतर से ही संचालित किया जा सकता है।

6. राफेल में किसी भी सुरक्षित एयरस्पेस को भेदने की क्षमता है। इसे समझने के लिए भारतीय पायलटों को कम से कम 5-6 महीने की ट्रेनिंग लेनी पड़ेगी। 

 

India's Rafale: all the special features of the advanced fighter jet push pressure on Enemies

 

F-16 से ज्यादा शक्तिशाली

राफेल आधुनिक विमान है। इसकी हथियार प्रणाली पाकिस्तान के एफ-16 से ज्यादा शक्तिशाली और ताकतवार है। इसका रडार सिस्टम 84 किमी तक टारगेट को आसानी से डिटेक्ट कर सकता है। यह 100 किमी के दायरे में 40 टारगेट को एक साथ डिटेक्ट कर सकता है। 

कुल 36 राफेल को मई 2022 तक देश को सौंप दिया जाएगा। इससे देश की वायुसेना शक्ति मजबुत होगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios