Asianet News HindiAsianet News Hindi

Career Options: 10वीं के बाद करियर में आगे बढ़ने 8 ऑप्शन, चुन सकते हैं ये राह

हाईस्कूल किसी भी स्टूडेंट की लाइफ का सबसे अहम पड़ाव होता है। कई छात्र यहां से करियर चुनने को लेकर गलतियां कर देते हैं। ये गलतियां कभी स्ट्रीम को लेकर होती है या कभी कोर्स को। इसलिए 10वीं के बाद करियर में आगे बढ़ने के लिए इन गलतियों से बचना बहुत जरूरी होता  है..
 

Education News best Career Options after class 10th high school stb
Author
First Published Aug 31, 2022, 7:00 AM IST

करियर डेस्क : किसी भी स्टूडेंट्स के करियर का टर्निंग पॉइंट 10वीं क्लास माना जाता है। कई छात्र को काफी एक्टिव होते हैं और उन्हें पता होता है कि आगे क्या करना है लेकिन कई ऐसे हैं,  जो करियर (Career) को लेकर कन्फ्यूज रहते हैं। उनके मन में यही चलता रहा है कि आखिर 10वीं पास कर लिए हैं या करने वाले हैं, इसके बाद क्या करना चाहिए? कौन सी स्ट्रीम चुन सकते हैं या कौन सा सब्जेक्ट बेस्ट होगा? कुछ ऐसे भी होते हैं जो हाईस्कूल के बाद आगे की पढ़ाई नहीं करना चाहते हैं और जॉब की राह चुनना पसंद करते हैं। आज हम आपको बता रहे हैं 10वीं के बाद करियर के वो ऑप्शन (Career Options) जिसे आप चुन सकते हैं...

1. साइंस में आगे की पढ़ाई
10वीं के बाद आप साइंस स्ट्रीम से इंटरमीडिएट की पढ़ाई कर सकते हैं। यह काफी अहम माना जाता है। ज्यादातर स्टूडेंट्स की यह पसंद भी होती है। साइंस स्ट्रीम से 12वीं के बाद काफी मौके होते हैं। इसके बाद आप चाहें तो ग्रेजुएशन में स्ट्रीम भी बदल सकते हैं या साइंस के साथ आगे बढ़ सकते हैं। साइंस स्ट्रीम दो पार्ट में डिवाइड किया गया है। पहला मेडिकल (PCB) और दूसरा नॉन-मेडिकल (PCM)। दोनों में फिजिक्स और केमिस्ट्री दोनों में कॉमन सब्जेक्ट होते हैं। PCM में मैथ्य होता है और PCB में बायोलॉजी(Biology)..मेडिकल (PCB) में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी के साथ मैथमेटिक्स (PCB-M) का ऑप्शन भी चुन सकते हैं। साइंस से पढ़ाई के बाद आप डॉक्टर, इंजीनियर, आईटी, रिसर्च, एविएशन, मर्चेंट नेवी. फॉरेंसिक साइंस, एथिकल हैकिंग जैसे फील्ड में करियर बना सकते हैं।

2. कॉमर्स में करियर
अगर आपको बिजनेस की बातें अच्छी लगती हैं, हिसाब-किताब में मजा आता है तो आप 10वीं के बाद आप कॉमर्स स्ट्रीम से इंटरमीडिएट और आगे की पढ़ाई कर सकते हैं। इसमें डिग्री हासिल कर आप अकाउंटेंट, कंपनी सेक्रेटरी (CS), एमबीए (MBA), फाइनेंशियल प्लानर, मैनेजमेंट अकाउंटिंग, चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) बनकर अपना करियर संवार सकते हैं।

3. आर्ट्स या ह्यूमिनिटीस स्ट्रीम 
आर्ट्स में कई सारे करियर ऑप्शन होते हैं। 10वीं के बाद आप आर्ट्स स्ट्रीम से 12वीं की पढ़ाई कर सकते हैं और शानदार करियर बना सकते हैं। ग्रेजुएशन लेवल और पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल के बाद करियर को पंख लग जाते हैं। सरकारी नौकरी की चाह रखने वालों को लिए यह स्ट्रीम काफी बेहतर होता है। कई बड़े एग्जाम जैसे UPSC, SSC या अन्य में आर्ट्स सैलेबस से ही ज्यादतर टॉपिक्स आते हैं। इसके अलावा आप जर्नलिस्ट, ग्राफिक डिजाइनर, एडवोकेट, इवेंट मैनेजर, टीचर, एनिमेटर और कई क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं।

4. पॉलीटेक्निक
10वीं के बाद अगर आप इंटरमीडिएट की पढ़ाई नहीं करना चाहते तो आपके पास पॉलीटेक्निक का शानदार ऑप्शन है। 3 साल का टेक्निकल कोर्स कर आप अच्छी जॉब पा सकते हैं। पॉलीटेक्निक के बाद आप आगे पढ़ना चाहते हैं तो बीटेक कर सकते हैं। आपको डायरेक्ट बीटेक सेंकेड ईयर में एडमिशन मिलेगा। हालांकि IITs में ये फैसेलिटीज नहीं हैं। इसके अलावा आप कई क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं। पॉलिटेक्निक के इन कोस् में आप एडमिशन ले सकते हैं..

  • डिप्लोमा इन केमिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन कंप्यूटर इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इंस्ट्रूमेंटेशन टेक्नोलॉजी
  • डिप्लोमा इन एयरोस्पेस इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन बायोटेक्नोलॉजी इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग

5. ITI कर संवाए करियर
10वीं के बाद अगर आप तत्काल जॉब पाना चाहते हैं तो ITI (Industrial Training Institutes) कर सकते हैं। यह एक से तीन साल तक का कोर्स होता है। तीन साल का सिर्फ ही कोर्स है, बाकी एक या दो साल में पूरे हो जाएंगे और आपकी नौकरी लग जाएगी। यह ऐसा कोर्स है, जिससे विदेश में भी जॉब के चांसेस रहते हैं। आईटीआई के ये कोर्स आप कर सकते हैं...

  • पंप ऑपरेटर (1 साल का कोर्स)
  • मैन्युफैक्चर फूट वियर (1 साल का कोर्स)
  • रेफ्रिजरेशन इंजीनियरिंग (1 साल का कोर्स)
  • फ्रूट एंड वेजिटेबल प्रोसेसिंग (1 साल का कोर्स)
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (1 साल का कोर्स)
  • फिटर इंजीनियरिंग (2 साल का कोर्स)
  • टूल एंड डाई मेकर इंजीनियरिंग (3 साल का कोर्स)

6. पैरामेडिकल फील्ड में करियर
इन सबसे अलग अगर 10वीं के बाद मेडिकल सेक्टर में करियर बनाना है तो आप पैरामेडिकल कोर्स कर सकते हैं। ये कोर्स 10वीं के बाद किए जा सकते हैं। हेल्थ केयर सेक्टर काफी डिमांड बढ़ रही है। 10वीं के बाद पैरामेडिकल कोर्स दो तरह से होते हैं। पहला-सर्टिफिकेट कोर्स, दूसरा-डिप्लोमा कोर्स। सर्टिफिकेट कोर्स 3 महीने से 1 साल के कोर्स होते हैं। जबकि डिप्लोमा की अवधि 1साल से 2 साल तक होती है। पैरामेडिकल में आप 10वीं बाद ये कोर्स कर सकते हैं...

  • सर्टिफिकेट इन मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी (6-12 माह का कोर्स)
  • MRI टेक्नीशियन (3-12 महीने का सर्टिफिकेट कोर्स)
  • डिप्लोमा इन रूरल हेल्थ केयर (1 साल का कोर्स)
  • डिप्लोमा इन नर्सिंग केयर असिस्टेंट (1-2 साल का कोर्स)
  • डिप्लोमा इन एक्सरे टेक्नोलॉजी (2 साल का कोर्स)
  • डिप्लोमा इन डायलिसिस टेक्निक (2 साल का कोर्स)
  • डिप्लोमा इन ECG टेक्नोलॉजी (2 साल का कोर्स)
  • डिप्लोमा इन मेडिकल रिकॉर्ड टेक्नोलॉजी (2 साल का कोर्स)

7. शॉर्ट टर्म  कोर्स कर सकते हैं
आजकर स्किल डेवलपमेंट की खूब बातें हो रही हैं। ऐसे में 10वीं के बाद आप भी अपने इंट्रेस्ट के हिसाब से कोई शॉर्ट टर्म कोर्स कर अच्छी कमाई और करियर बना सकते हैं। ये कुछ शॉर्ट टर्म कोर्स, जिन्हें आप 10वीं के बाद कर सकते हैं...

  • सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन MS office
  • साइबर सिक्योरिटी
  • होटल मैनेजमेंट
  • ग्राफिक डिजाइनिंग
  • इवेंट मैनेजमेंट
  • SEO एनालिस्ट
  • सर्टिफिकेट इन पोल्ट्री फार्मिंग
  • डिजिटल मार्केटिंग

8. हाइस्कूल को बाद जॉब
अब अगर 10वीं के बाद कोई छात्र पढ़ाई नहीं करना चाहता और नौकरी सर्च करते हैं तो उनके लिए प्राइवेट और सरकारी दोनों सेक्टर में जॉब की संभावनाएं हैं। हालांकि नौकरी ज्यादा पड़ी नहीं मिलेगी लेकिन आप मेहनत कर अच्छे पैसे कमा सकते हैं। प्राइवेट सेक्टर में क्लर्क, डाटा एंट्री ऑपरेटर जैसे पदों पर काम कर सकते हैं। वहीं, अगर सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आपके पास भारतीय सेना (आर्मी, एयरफोर्स और नेवी),, पैरामिलिट्री फोर्सेस (BSF, CISF, ITBP जैसे), भारतीय रेलवे और पोस्ट ऑफिस में नौकरी का मौका रहता है।

इसे भी पढ़ें
गांव में करियर बनाएं, पैसे कमाएं: ये पांच काम आपको बना सकते हैं मालामाल, डिग्री की जरुरत भी नहीं 

Career in Sports: खिलाड़ी बनकर ही नहीं स्पोर्ट्स में ऐसे भी बना सकते हैं करियर, होगी अलग पहचान


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios