नई दिल्ली. सोशल मीडिया पर चंद्रयान-2 से जोड़कर कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं। दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीरें चंद्रयान-2 द्वारा ली गईं, जिसे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने जारी किया है। लेकिन वायरल तस्वीर और उसके साथ किया जा रहा दावा झूठ है।

वायरल न्यूज में क्या है?
वायरल न्यूज में दावा किया जा रहा है कि चंद्रयान -2 ने धरती माता की पहली तस्वीर क्लिक की। आप भी देखें और खुश रहें। ब्रह्मांड में हम कितने अद्भुत हैं। पूरी दुनिया को सच्चाई दिखाने के लिए देने के लिए इसरो को धन्यवाद। हम सभी को इस खूबसूरत धरती को बचाना है। इसी संकल्प से हम सब अपने जीवन का लक्ष्य तय करें कि हम इस धरती पर भला आये क्यों हैं।

वायरल न्यूज की पड़ताल


पहली तस्वीर- हमने रूसी सर्च इंजन यैंडेक्स (Yandex) का उपयोग करके रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसमें पाया कि यह तस्वीर छह साल पहले टंबलर पर अपलोड की गई थी। 

दूसरी तस्वीर- दूसरी वायरल तस्वीर की पड़ताल भी रिवर्स इमेज सर्च के जरिए की गई, जिसमें पता चला कि इसे नासा ने जुलाई 2008 में अपलोड किया था। यह चंद्रयान-2 से भेजी गई तस्वीर नहीं है।

तीसरी तस्वीर- तीसरे वायरल तस्वीर को 10 सेकंड के एनिमेटेड वीडियो से लिया गया है।  

चौथी तस्वीर- गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर पता चला कि चौथी तस्वीर 2009 में रिलीज हुई नॉइंग नाम की साइंस फिक्शन हॉलीवुड फिल्म के पोस्टर से ली गई है। 

पांचवी तस्वीर- रिवर्स इमेज सर्च करने पर पांचवी तस्वीर एक वॉलपेपर निकली। यह अंतरिक्ष से क्लिक की गई वास्तविक तस्वीर नहीं है। 

चंद्रयान-2 द्वारा ली गई तस्वीर कौन सी है? 

इसरो ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर चंद्रयान-2 द्वारा ली गई तस्वीरों को पोस्ट किया है।