Asianet News Hindi

Fact Check: मल्टीविटामिन खाने से कोसो दूर भगेगा कोरोना? संक्रमण ठीक करने को लेकर वायरल हुआ भ्रामक दावा

एक यूजर ने ट्वीट का लिंक शेयर किया है, जिसपर ये दावा किया गया है। इस ट्वीट में लिखा है, ‘कोरोना की रोकथाम हेतु सभी को अभियान चलाकर एक सप्ताह तक हानिरहित दवाओं (मल्टीविटामिन, विटामिन सी और जिंक) की खुराक दी जानी चाहिए। जिसे कोरोना होगा वह ठीक हो जाएगा और जिसे नहीं है उसे होगी ही नहीं, मतलब संक्रमण रुक जाएगा।’

vitamins or supplements known to prevent or cure covid 19 viral post misleading kpt
Author
New Delhi, First Published Oct 17, 2020, 4:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही एक पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि एक सप्ताह तक मल्टीविटामिन, विटामिन सी और जींक की खुराक देने से कोरोना संक्रमण ठीक हो जाएगा। फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि सच क्या है? 

वायरल पोस्ट क्या है? 

एक यूजर ने ट्वीट का लिंक शेयर किया है, जिसपर ये दावा किया गया है। इस ट्वीट में लिखा है, ‘कोरोना की रोकथाम हेतु सभी को अभियान चलाकर एक सप्ताह तक हानिरहित दवाओं (मल्टीविटामिन, विटामिन सी और जिंक) की खुराक दी जानी चाहिए। जिसे कोरोना होगा वह ठीक हो जाएगा और जिसे नहीं है उसे होगी ही नहीं, मतलब संक्रमण रुक जाएगा।’

यहां इस ट्वीट को ज्यों का त्यों पेश किया गया है। इस ट्वीट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

 

 

फैक्ट चेक 

सबसे पहले इस दावे को इंटरनेट पर खोजा। हमने जरूरी कीवर्ड्स (multivitamin, vitamin c, zinc, coronavirus cure) की मदद से इंटरनेट सर्च किया। इंटरनेट पर सर्च के दौरान हम विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचे। WHO की वेबसाइट पर Coronavirus disease (COVID-19) advice for the public: Mythbusters यानी कोरोना के बारे में लोगों को सलाह और इससे जुड़े मिथकों के बारे में जानकारी दी गई है।

इस सेक्शन में साफ लिखा है कि विटामिन और मिनरल सप्लिमेंट्स कोविड-19 का इलाज नहीं कर सकते हैं। यहां बताया गया है कि माइक्रोन्यूट्रिएंट्स जैसे विटामिन डी, विटामिन सी और जिंक इम्यून सिस्टम के ठीक से काम करने और स्वास्थ्य व पोषण कल्याण को बढ़ावा देने के लिए जरूरी हैं, लेकिन ये कोविड-19 का उपचार नहीं हैं। WHO के मुताबिक, अभी कोविड-19 के संक्रमण का उपचार करने वाली दवाएं खोजी जा रही हैं। WHO की साइट पर मौजूद इस जानकारी को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

 

 

इस संबंध में राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (RIMS), रांची के कोरोना नोडल ऑफिसर डॉ. बृजेश मिश्रा ने बताया कि मल्टीविटामिन, विटामिन सी और जिंक का इम्यून सिस्टम को दुरुस्त रखने में अहम रोल है, लेकिन इसे कोरोना का इलाज बताना गलत है। उनके मुताबिक, ऐसा भी नहीं कहा जा सकता कि इसे लेने वालों को कोरोना नहीं हो सकता। डॉ. बृजेश मिश्रा ने बताया कि एक्सपर्ट डॉक्टर की देखरेख में ही कोरोना संक्रमण का उपचार होना चाहिए।

ये निकला नतीजा 

मल्टीविटामिन, विटामिन सी और जिंक जैसी चीजें इम्युनिटी बढ़ाने के लिए जरूरी हैं, लेकिन इनसे कोरोना वायरस के संक्रमण के इलाज का दावा सही नहीं है। WHO ने भी इस दावे को नकारा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios