Asianet News Hindi

10वीं पास स्टूडेंट्स के लिए सुनहरा विकल्प, वोकेशनल कोर्स कर संभाल सकते हैं अपना फ्यूचर

First Published Jun 4, 2021, 3:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. अगर आप वोकेशनल कोर्स (vocational course ) किए हैं तो अपने मन चाहे फील्ड में जॉब कर सकते हैं। वोकेशनल कोर्स में क्लासरूम की जगह प्रैक्टिकल नॉलेज और स्किल्स ज्यादा सिखाई जाती है। इन कोर्सेज को करने में ट्रेडिशनल कोर्स की तुलना में समय कम लगता है। पिछले कुछ सालों में वोकेशनल कोर्स की ट्रेंड बढ़ा है। हाल ही में आईटीआई और पॉलिटेक्निक में कई खास कोर्स शुरू किए गए हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में। 

स्किल सेंटर से जुड़ें
दिल्ली सरकार के वर्ल्ड क्लास स्किल सेंटर से जुड़कर स्टूडेंट्स वोकेशनल कोर्स कर सकते हैं। इस सेंटर से चार वोकेशनल कोर्स चलते हैं। रिटेल सर्विसेज, हॉस्पिटैलिटी, फाइनेंस एंड अकाउंट्स व इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी। 

स्किल सेंटर से जुड़ें
दिल्ली सरकार के वर्ल्ड क्लास स्किल सेंटर से जुड़कर स्टूडेंट्स वोकेशनल कोर्स कर सकते हैं। इस सेंटर से चार वोकेशनल कोर्स चलते हैं। रिटेल सर्विसेज, हॉस्पिटैलिटी, फाइनेंस एंड अकाउंट्स व इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी। 

कौन-कौन से कोर्स कर सकते हैं
वोकेशनल कोर्स सर्टिफिकेट कोर्स की तरह किए जाते हैं। वेब डिजाइनिंग, टेलीकम्युनिकेशन, हेल्थ केयर, फोटोग्राफी, गेम डिजाइनिंग, इवेंट मैनेजमेंट, टूरिज्म, कम्प्यूटर साइंस, हाउस कीपिंग ऑफिस मैनेजमेंट आदि कई तरह के कोर्सेज कर सकते हैं। 

कौन-कौन से कोर्स कर सकते हैं
वोकेशनल कोर्स सर्टिफिकेट कोर्स की तरह किए जाते हैं। वेब डिजाइनिंग, टेलीकम्युनिकेशन, हेल्थ केयर, फोटोग्राफी, गेम डिजाइनिंग, इवेंट मैनेजमेंट, टूरिज्म, कम्प्यूटर साइंस, हाउस कीपिंग ऑफिस मैनेजमेंट आदि कई तरह के कोर्सेज कर सकते हैं। 

कोर्स करने के क्या फायदे
वोकेशनल कोर्स करने में समय और फीस कम लगती है। इसे करने के बाद आप अपने पसंदीदा फील्ड में जॉब कर सकते हैं। ये कोर्स डिमांड के आधार पर तैयार किए जाते हैं। इन्हें ऑनलाइन भी किया जा सकता है। 

कोर्स करने के क्या फायदे
वोकेशनल कोर्स करने में समय और फीस कम लगती है। इसे करने के बाद आप अपने पसंदीदा फील्ड में जॉब कर सकते हैं। ये कोर्स डिमांड के आधार पर तैयार किए जाते हैं। इन्हें ऑनलाइन भी किया जा सकता है। 

स्पेशलाइज्ड कोर्सेज
10वीं पास कैंडिडेट्स के लिए आइटीआइ से अच्छा वोकेशन कोर्स करना सबसे अच्छा विकल्प है। यहां कई तरह के कोर्स सिखाए जाते हैं। इसके साथ ही कई स्पेशलाइज्ड कोर्सेज भी कराए जाते हैं। अगर आप इंजनीयरिंग फील्ड से हटकर कोई कोर्स करना चाहते हैं तो नॉन इंजीनियरिंग ट्रेंड से वोकेशनल कोर्स कर सकते हैं।
 

स्पेशलाइज्ड कोर्सेज
10वीं पास कैंडिडेट्स के लिए आइटीआइ से अच्छा वोकेशन कोर्स करना सबसे अच्छा विकल्प है। यहां कई तरह के कोर्स सिखाए जाते हैं। इसके साथ ही कई स्पेशलाइज्ड कोर्सेज भी कराए जाते हैं। अगर आप इंजनीयरिंग फील्ड से हटकर कोई कोर्स करना चाहते हैं तो नॉन इंजीनियरिंग ट्रेंड से वोकेशनल कोर्स कर सकते हैं।
 

कौन कर सकता है ये कोर्स
12वीं पास से लेकर ग्रेजुएट स्टूडेंट्स  ये कोर्स कर सकते हैं। इसके अलावा ऐसे स्टूडेंट्स जो कम पढ़े-लिखे हैं वो भी ये कोर्स कर सकते हैं। कोर्स में योग्यता के साथ-साथ कैंडिडेट की रूचि भी अहम होती है। 

कौन कर सकता है ये कोर्स
12वीं पास से लेकर ग्रेजुएट स्टूडेंट्स  ये कोर्स कर सकते हैं। इसके अलावा ऐसे स्टूडेंट्स जो कम पढ़े-लिखे हैं वो भी ये कोर्स कर सकते हैं। कोर्स में योग्यता के साथ-साथ कैंडिडेट की रूचि भी अहम होती है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios