Asianet News Hindi

UPSC Success Tips: पहली बार में अफसर बनने अपनाएं ये 5 मूल मंत्र, IAS टॉपर प्रदीप सिंह ने दिए टिप्स

First Published Mar 22, 2021, 5:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. UPSC Success Tips: यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2021 (UPSC Prelims 2021) इस साल जून में होनी है। इसके लिए कैंडिडेट्स तैयारी में जुटे होंगे ही। आपको इन दो महीनों में आपको परफेक्ट स्ट्रेटजी के साथ तैयारी करनी है। आप चाहे तो UPSC टॉपर्स के टिप्स भी फॉलो कर सकते हैं। इसके लिए हम साल 2019 के UPSC टॉपर प्रदीप सिंह मलिक की सफलता के मूल मंत्र लेकर हाजिर हैं।  हरियाणा के सोनीपत जिले के रहने वाले प्रदीप अपने करियर में हमेशा एक उज्ज्वल छात्र रहे हैं। UPSC की परीक्षा में उन्होंने टॉप कर इतिहास में अपना नाम अर्जित किया। प्रदीप ने अपनी नौकरी के साथ साथ ही UPSC की तैयारी की। चौथे अटेम्प में वो IAS बने। प्रदीप ने मेहनत के साथ-साथ सही रणनीति, दृढ मानसिक संतुलन और अपने लक्ष्य के प्रति निष्ठा बनाए रख कर पूरा किया। वो UPSC की तैयारी कर रहे कैंडिडेट्स को इनन 5 ख़ास बातों का ध्यान रखने की सलाह देते हैं-

प्रदीप सिंह का कहना है की उनका टॉप करने का फार्मूला साप्ताहिक पाठ्यक्रम है। उन्होंने साप्ताहिक तय पाठ्यक्रम का शेड्यूल अपने जीवन में 12वीं से ही अपनाया है। प्रदीप कहते हैं कि पढ़ाई को घंटों में ना बांटे बल्कि एक सप्ताह में कितना पढ़ना है यह तय कर लें। इस तय पाठ्यक्रम को उसी सप्ताह में ही पूरा करें। प्रदीप का मानना है कि हर दिन कोई तय घंटे पढ़ाई नहीं कर सकता है। इसीलिए साप्ताहिक गोल्स सेट करें और उन्हें 7 दिनों के अंदर ही पूरा करें। 

प्रदीप सिंह का कहना है की उनका टॉप करने का फार्मूला साप्ताहिक पाठ्यक्रम है। उन्होंने साप्ताहिक तय पाठ्यक्रम का शेड्यूल अपने जीवन में 12वीं से ही अपनाया है। प्रदीप कहते हैं कि पढ़ाई को घंटों में ना बांटे बल्कि एक सप्ताह में कितना पढ़ना है यह तय कर लें। इस तय पाठ्यक्रम को उसी सप्ताह में ही पूरा करें। प्रदीप का मानना है कि हर दिन कोई तय घंटे पढ़ाई नहीं कर सकता है। इसीलिए साप्ताहिक गोल्स सेट करें और उन्हें 7 दिनों के अंदर ही पूरा करें। 

टाइम मैनेजमेंट है जरूरी 

 

प्रदीप सिंह टाइम मैनेजमेंट को पढ़ाई का सबसे बड़ा मूल मंत्र मानते हैं। वह कहते हैं कि अगर आप टाइम मैनेजमेंट से पढ़ाई करेंगे तो अपने तय साप्ताहिक गोल्स को जरूर पूरा कर पाएंगे। प्रदीप का कहना है कि टाइम मैनेजमेंट को फॉलो करने के लिए सबसे खास बात है कि जब भी पढ़ें पूरी एकाग्रता से पढ़ें और अपने ध्यान को भटकने ना दें। तैयारी के समय परिणाम की चिंता ना करें। प्रदीप कहते हैं कि परिणाम की चिंता करने से टॉपर तो दूर सफलता मिलने में भी मुश्किलें होंगी।

टाइम मैनेजमेंट है जरूरी 

 

प्रदीप सिंह टाइम मैनेजमेंट को पढ़ाई का सबसे बड़ा मूल मंत्र मानते हैं। वह कहते हैं कि अगर आप टाइम मैनेजमेंट से पढ़ाई करेंगे तो अपने तय साप्ताहिक गोल्स को जरूर पूरा कर पाएंगे। प्रदीप का कहना है कि टाइम मैनेजमेंट को फॉलो करने के लिए सबसे खास बात है कि जब भी पढ़ें पूरी एकाग्रता से पढ़ें और अपने ध्यान को भटकने ना दें। तैयारी के समय परिणाम की चिंता ना करें। प्रदीप कहते हैं कि परिणाम की चिंता करने से टॉपर तो दूर सफलता मिलने में भी मुश्किलें होंगी।

नौकरी के साथ-साथ भी कर सकते हैं UPSC क्लियर 

 

प्रदीप बताते हैं की उनके परिवार की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी की वह नौकरी छोड़ कर UPSC की तैयारी कर सकें। इसीलिए उन्होंने नौकरी के साथ-साथ ही पढ़ाई की। उनका कहना है की यदि आप दिन का एक एक मिनट इस्तेमाल करें तो इस परीक्षा को पास करना मुश्किल नहीं। प्रदीप सुबह ऑफिस जाने से पहले पढ़ते थे और घर से ऑफिस के सफर में भी पढ़ते थे। ऑफिस के लंच टाइम में अपना लंच जल्दी ख़त्म कर भी वह पढ़ने के लिए कुछ समय निकाल लेते थे। अर्थात आप अपने दिन के प्रत्येक मिनट का फायदा पढ़ने के लिए उठाएं। 
 

नौकरी के साथ-साथ भी कर सकते हैं UPSC क्लियर 

 

प्रदीप बताते हैं की उनके परिवार की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी की वह नौकरी छोड़ कर UPSC की तैयारी कर सकें। इसीलिए उन्होंने नौकरी के साथ-साथ ही पढ़ाई की। उनका कहना है की यदि आप दिन का एक एक मिनट इस्तेमाल करें तो इस परीक्षा को पास करना मुश्किल नहीं। प्रदीप सुबह ऑफिस जाने से पहले पढ़ते थे और घर से ऑफिस के सफर में भी पढ़ते थे। ऑफिस के लंच टाइम में अपना लंच जल्दी ख़त्म कर भी वह पढ़ने के लिए कुछ समय निकाल लेते थे। अर्थात आप अपने दिन के प्रत्येक मिनट का फायदा पढ़ने के लिए उठाएं। 
 

नेगेटिविटी से दूर रहें

 

UPSC की तैयारी कर रहे छात्रों को प्रदीप सलाह देते हैं की “अपना ध्यान और एकाग्रता हमेशा बनाए रखें। ऐसे क्षण हो सकते हैं जब आपको लगता है कि आप इसे नहीं कर पाएंगे लेकिन यही वह समय है जब आपका दृढ़ संकल्प मदद करता है। अपने विचारों पर नियंत्रण रखें और धैर्य ना खोएं। नेगेटिव लोगों और सोच से दूरी बना कर रखें और अपने लक्ष्य पर फोकस करें।"

 

नेगेटिविटी से दूर रहें

 

UPSC की तैयारी कर रहे छात्रों को प्रदीप सलाह देते हैं की “अपना ध्यान और एकाग्रता हमेशा बनाए रखें। ऐसे क्षण हो सकते हैं जब आपको लगता है कि आप इसे नहीं कर पाएंगे लेकिन यही वह समय है जब आपका दृढ़ संकल्प मदद करता है। अपने विचारों पर नियंत्रण रखें और धैर्य ना खोएं। नेगेटिव लोगों और सोच से दूरी बना कर रखें और अपने लक्ष्य पर फोकस करें।"

 

फोकस बनाए रखें

 

प्रदीप सिंह ने बताया कि उनकी तैयारी के दौरान ऐसा समय भी था जब उन्हें लगा कि वह अपना ध्यान खो रहे हैं, लेकिन उनके पिता उन्हें प्रेरित करते रहे। उन्होंने कहा कि सिविल सेवा परीक्षा में सफल होने के लिए निरंतरता और फोकस जरूरी है। उन्होंने कहा, "यूपीएससी निरंतरता के साथ-साथ ध्यान केंद्रित करने की मांग करता है।

 

एक समय जब मैं यह काम कर रहा था, मुझे लग रहा था कि मैं परीक्षा पर अपना ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ हूं। लेकिन मेरे पिता मुझे प्रेरित करते रहे" इसे एक सपने के सच होने के रूप में बताते हुए प्रदीप सिंह कहते हैं कि वह भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) में शामिल होना चाहते हैं क्योंकि वह समाज के वंचित और गरीब वर्गों के लिए काम करने के इच्छुक हैं।

फोकस बनाए रखें

 

प्रदीप सिंह ने बताया कि उनकी तैयारी के दौरान ऐसा समय भी था जब उन्हें लगा कि वह अपना ध्यान खो रहे हैं, लेकिन उनके पिता उन्हें प्रेरित करते रहे। उन्होंने कहा कि सिविल सेवा परीक्षा में सफल होने के लिए निरंतरता और फोकस जरूरी है। उन्होंने कहा, "यूपीएससी निरंतरता के साथ-साथ ध्यान केंद्रित करने की मांग करता है।

 

एक समय जब मैं यह काम कर रहा था, मुझे लग रहा था कि मैं परीक्षा पर अपना ध्यान केंद्रित करने में असमर्थ हूं। लेकिन मेरे पिता मुझे प्रेरित करते रहे" इसे एक सपने के सच होने के रूप में बताते हुए प्रदीप सिंह कहते हैं कि वह भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) में शामिल होना चाहते हैं क्योंकि वह समाज के वंचित और गरीब वर्गों के लिए काम करने के इच्छुक हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios