Asianet News Hindi

ग्रेजुएट लोग लंदन में पढ़ने उठाए इस स्कॉलरशिप का फायदा, इकॉनमी क्लास हवाई टिकट संग घूमना-फिरना सब मुफ्त

First Published Feb 10, 2021, 2:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. दोस्तों, आपने फिल्मों सितारों के बच्चों को विदेश में पढ़ते सुना होगा। ऐसे में आप भी लंदन, अमेरिका, न्यूयॉर्क जैसी जगहों के कॉलेज और विश्वविद्यालयों में पढ़ने की इच्छा रखते होंगे। आपने कभी विदेश में पढ़ने की चाह तो रखी होगी लेकिन खर्च सोचकर ही सपना चकनाचूर हो गया होगा। पर आज हम आपको एक ऐसा रास्ता बताएंगे जिसमें विदेश में पढ़ाई का सपना तो पूरा होगा लेकिन खर्च की कोई टेंशन नहीं। साथियों, शायद आप जानते नहीं लेकिन देश-विदेश की कई संस्थानें स्टूडेंट्स की आर्थिक मदद के लिए स्कॉलरशिप प्रोग्राम चलाती हैं जिससे दूसरे देशों के बच्चे भी वहां आकर पढ़ सकें। ऐसा ही एक स्कॉलरशिप प्रोग्राम यूनिटेड किंगडम (UK) सरकार द्वारा भी चलाया जाता है। ऐसे स्टूडेंट्स जो यूके जाकर पढ़ाई करना चाहते हैं उन्हें कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप (Commonwealth Scholarship) के जरिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। आज हम आपको इसी स्कॉलरशिप स्कीम की पूरी जानकारी बताएंगे। इसमें योग्यता, मानदंड से लेकर आवेदन करने का प्रोसेस भी शामिल हैं- 

किसी भी स्टूडेंट्स के लिए लंदन जैसे शहर में पढ़ने के बारे में सोचकर ही रोमांच पैदा होगा। लेकिन खर्च से लोग डरते हैं लेकिन अगर आप काबिल हैं तो विदेशी सरकार आपको अपने खर्च पर पढ़ाएगी। जी हां कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप (Commonwealth Scholarship) की मदद से आप विदेश में आसानी से पढ़ाई कर सकते हैं। आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए ये सुनहरा मौका है, जब वो अपने सपनों को उड़ान दे सकते हैं। 

किसी भी स्टूडेंट्स के लिए लंदन जैसे शहर में पढ़ने के बारे में सोचकर ही रोमांच पैदा होगा। लेकिन खर्च से लोग डरते हैं लेकिन अगर आप काबिल हैं तो विदेशी सरकार आपको अपने खर्च पर पढ़ाएगी। जी हां कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप (Commonwealth Scholarship) की मदद से आप विदेश में आसानी से पढ़ाई कर सकते हैं। आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए ये सुनहरा मौका है, जब वो अपने सपनों को उड़ान दे सकते हैं। 

ये स्कॉलरशिप ऐसे देशों के ऐसे छात्र-छात्राओं को दी जाती है जो यूके में मास्टर कोर्स या पीएचडी करना चाहते हैं। कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप कमीशन (सीएससी) द्वारा यह स्कॉलरशिप कॉमनवेल्थ देश के स्टूडेंट्स को दी जाती है। बता दें कि ये स्कॉलरशिप ऐसे छात्रों को दी जाती हैं, जो  यूके स्थित यूनिवर्सिटीज से मास्टर्स और पीएचडी (PHd) करना चाहते हैं।

ये स्कॉलरशिप ऐसे देशों के ऐसे छात्र-छात्राओं को दी जाती है जो यूके में मास्टर कोर्स या पीएचडी करना चाहते हैं। कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप कमीशन (सीएससी) द्वारा यह स्कॉलरशिप कॉमनवेल्थ देश के स्टूडेंट्स को दी जाती है। बता दें कि ये स्कॉलरशिप ऐसे छात्रों को दी जाती हैं, जो  यूके स्थित यूनिवर्सिटीज से मास्टर्स और पीएचडी (PHd) करना चाहते हैं।

स्कॉलरशिप से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी (Commonwealth Scholarship details) 

 

इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदकों को प्रिलिम्स इंटरव्यू के आधार पर शॉर्टलिस्ट किया जाता है। प्रीलिम्स इंटरव्यू का आयोजन मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा करवाया जाता है। 
 

स्कॉलरशिप से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी (Commonwealth Scholarship details) 

 

इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदकों को प्रिलिम्स इंटरव्यू के आधार पर शॉर्टलिस्ट किया जाता है। प्रीलिम्स इंटरव्यू का आयोजन मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा करवाया जाता है। 
 

स्कॉलरशिप में मिलती हैं ये सारी सुविधा

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप में छात्र को UK सरकार द्वारा ट्यूशन फीस, इकॉनमी क्लास की हवाई टिकट और रहने से जुड़े खर्च दिए जाते हैं। इस स्कॉलरशिप पर ही छात्र विदेश में रहकर पढ़ाई करता है और सरकार के खर्चों पर ही शहर में रहता है। छात्र को घूमने फिरने तक के पैसे सरकार ही देती है।
 

स्कॉलरशिप में मिलती हैं ये सारी सुविधा

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप में छात्र को UK सरकार द्वारा ट्यूशन फीस, इकॉनमी क्लास की हवाई टिकट और रहने से जुड़े खर्च दिए जाते हैं। इस स्कॉलरशिप पर ही छात्र विदेश में रहकर पढ़ाई करता है और सरकार के खर्चों पर ही शहर में रहता है। छात्र को घूमने फिरने तक के पैसे सरकार ही देती है।
 

पढ़ाई के किन क्षेत्रों में मिलती है कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप 

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप में इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलजी, प्योर एंड अप्लाइड साइंस, एग्रीकल्चर, सोशल साइंस और आर्ट्स से जुड़ी स्ट्रीम में मास्टर्स या पीएचडी करने के लिए स्कॉलरशिप दी जाती है।  
 

पढ़ाई के किन क्षेत्रों में मिलती है कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप 

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप में इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलजी, प्योर एंड अप्लाइड साइंस, एग्रीकल्चर, सोशल साइंस और आर्ट्स से जुड़ी स्ट्रीम में मास्टर्स या पीएचडी करने के लिए स्कॉलरशिप दी जाती है।  
 

क्या लिमिटेड लोगं के लिए है ये स्कॉलरशिप 

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप देने के लिए कोई निर्धारित संख्या नहीं हैं, लेकिन आवेदन पत्रों में से योग्यतम छात्रों को ये स्कॉलरशिप दी जाती है। जो सबसे योग्य उम्मीदवारों माना जाता है उसे ही ये स्कॉलरशिप मिलती है।। 

क्या लिमिटेड लोगं के लिए है ये स्कॉलरशिप 

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप देने के लिए कोई निर्धारित संख्या नहीं हैं, लेकिन आवेदन पत्रों में से योग्यतम छात्रों को ये स्कॉलरशिप दी जाती है। जो सबसे योग्य उम्मीदवारों माना जाता है उसे ही ये स्कॉलरशिप मिलती है।। 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई करने वाले स्टूडेंट्स के पास निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिये- 

 

1. स्टूडेंट्स को कॉमनवेल्थ के सदस्य देशों का नागरिक होना चाहिये।

 

2. स्टूडेंट्स की पूरी पढ़ाई इंग्लिश मीडियम में हुई होनी चाहिए।

 

3. मास्टर्स डिग्री के लिए स्टूडेंट्स को ग्रेजुएट लेवल पर सोशल साइंस और आर्ट्स ग्रुप में कम से कम 60% मार्क्स और इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, साइंस और एग्रीकल्चर ग्रुप में कम से कम 65% मार्क्स हासिल किये होना चाहिए।

 

4. पीएचडी के लिए स्टूडेंट्स को पोस्टग्रेजुएट (PG) लेवल पर सोशल साइंस और आर्ट्स ग्रुप में कम से कम 60 फीसदी अंक और इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, साइंस और एग्रीकल्चर ग्रुप में कम से कम 65 फीसदी मार्क्स हासिल किये होना चाहिए।

 

5. परास्नातक के लिए किसी विश्वविद्यालय में पोस्ट ग्रेजुएट के लिए नामांकन न हुआ हो तथा पीएचडी के लिए किसी विश्वविद्यालय में पीएचडी के लिए नामांकन न हुआ हो।

 

6. स्टूडेंट्स को यूनाइटेड किंगडम के एक विश्वविद्यालय में अध्ययन करने में सक्षम होना चाहिए। जिन छात्रों को कॉमनवेल्थ देशों में सूचीबद्ध किसी भी विश्वविद्यालय से प्रवेश के लिए प्रस्ताव मिला है, वे भी आवेदन कर सकते हैं।

 

7. स्टूडेंट्स की आयु 40 साल से अधिक नहीं होना चाहिए

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई करने वाले स्टूडेंट्स के पास निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिये- 

 

1. स्टूडेंट्स को कॉमनवेल्थ के सदस्य देशों का नागरिक होना चाहिये।

 

2. स्टूडेंट्स की पूरी पढ़ाई इंग्लिश मीडियम में हुई होनी चाहिए।

 

3. मास्टर्स डिग्री के लिए स्टूडेंट्स को ग्रेजुएट लेवल पर सोशल साइंस और आर्ट्स ग्रुप में कम से कम 60% मार्क्स और इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, साइंस और एग्रीकल्चर ग्रुप में कम से कम 65% मार्क्स हासिल किये होना चाहिए।

 

4. पीएचडी के लिए स्टूडेंट्स को पोस्टग्रेजुएट (PG) लेवल पर सोशल साइंस और आर्ट्स ग्रुप में कम से कम 60 फीसदी अंक और इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, साइंस और एग्रीकल्चर ग्रुप में कम से कम 65 फीसदी मार्क्स हासिल किये होना चाहिए।

 

5. परास्नातक के लिए किसी विश्वविद्यालय में पोस्ट ग्रेजुएट के लिए नामांकन न हुआ हो तथा पीएचडी के लिए किसी विश्वविद्यालय में पीएचडी के लिए नामांकन न हुआ हो।

 

6. स्टूडेंट्स को यूनाइटेड किंगडम के एक विश्वविद्यालय में अध्ययन करने में सक्षम होना चाहिए। जिन छात्रों को कॉमनवेल्थ देशों में सूचीबद्ध किसी भी विश्वविद्यालय से प्रवेश के लिए प्रस्ताव मिला है, वे भी आवेदन कर सकते हैं।

 

7. स्टूडेंट्स की आयु 40 साल से अधिक नहीं होना चाहिए

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के लिए कब कर सकते हैं अप्लाई?

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के लिए हर साल अगस्त/सितंबर के महीने में ऑनलाइन आवेदन किया जाता है। इच्छुक छात्र ब्रिटिश काउंसिल की आधिकारिक साइट ( britishcouncil.in/study-uk/) पर जाकर अधिक जानकारी देख सकते हैं। इच्छुक और पात्र अभ्यर्थी साक्षत के पोर्टल पर सारी डीटेल्स देख सकते हैं और इसी पोर्टल पर आवेदन भी कर सकते हैं। 
 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के लिए कब कर सकते हैं अप्लाई?

 

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप के लिए हर साल अगस्त/सितंबर के महीने में ऑनलाइन आवेदन किया जाता है। इच्छुक छात्र ब्रिटिश काउंसिल की आधिकारिक साइट ( britishcouncil.in/study-uk/) पर जाकर अधिक जानकारी देख सकते हैं। इच्छुक और पात्र अभ्यर्थी साक्षत के पोर्टल पर सारी डीटेल्स देख सकते हैं और इसी पोर्टल पर आवेदन भी कर सकते हैं। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios