Asianet News Hindi

FACT CHECK: PM मोदी को महारानी एलिजाबेथ ने वैक्सीन के लिए कहा धन्यवाद? जानें वायरल तस्वीर का सच

First Published Mar 14, 2021, 5:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फेक चेक डेस्क. भारत दुनिया भर में बड़े पैमाने पर कोरोना वैक्सीन भेज रहा है। विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने हाल ही में बताया कि भारत में बनी कोरोना वैक्सीन की एक खेप शुक्रवार, 5 मार्च को लंदन पहुंची। इसे ध्यान में रखते हुए फेसबुक और ट्विटर पर एक तस्वीर के जरिये दावा किया जा रहा है कि ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने कोरोना वैक्सीन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया है। लंदन के विश्वप्रसि‍द्ध पिकाडिली सर्कस पर एक विशाल स्क्रीन पर ये धन्यवाद ज्ञापन प्रदर्शि‍त किया गया है। फेक चेक में हमने सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल इस फोटो का सच जानने की कोशिश की। 

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

महारानी की तस्वीर के साथ इस स्क्रीन पर लिखा दिख रहा है, “पीएम मोदी, हमें कोरोना वैक्सीन भि‍जवाने के शुक्रिया। आप बहुत अच्छे हैं।”

 

इस तस्वीर के साथ हिंदी में कैप्शन लिखा है, “जिस ब्रिटिश साम्राज्य में कभी सूरज अस्त नहीं होता था, जिन्होंने हम 200 साल राज किया, वह भी आज हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी के लिए निवेदित हो धन्यवाद प्रेषित कर रहे हैं। लंदन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने इंग्लैंड को कोरोना वैक्सीन की मदद देने के लिए मोदी जी को धन्यवाद ज्ञापन।”

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

महारानी की तस्वीर के साथ इस स्क्रीन पर लिखा दिख रहा है, “पीएम मोदी, हमें कोरोना वैक्सीन भि‍जवाने के शुक्रिया। आप बहुत अच्छे हैं।”

 

इस तस्वीर के साथ हिंदी में कैप्शन लिखा है, “जिस ब्रिटिश साम्राज्य में कभी सूरज अस्त नहीं होता था, जिन्होंने हम 200 साल राज किया, वह भी आज हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी के लिए निवेदित हो धन्यवाद प्रेषित कर रहे हैं। लंदन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने इंग्लैंड को कोरोना वैक्सीन की मदद देने के लिए मोदी जी को धन्यवाद ज्ञापन।”

फेक चेक

 

दरअसल वायरल तस्वीर के साथ जो महारानी के नाम दावा किया जा रहा है, उसके साथ छेड़छाड़ की गई है। क्वीन एलिजाबेथ ने अब तक कोरोना वैक्सीन के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देने संबंधी कोई सार्वजनिक बयान नहीं दिया है। 

 

रिसर्व इमेज सर्च की मदद से हमने पाया कि असली तस्वीर में महारानी एलिजाबेथ द्वि‍तीय ने महामारी के दौरान विज्ञापन के साथ मैसेज दिया था। इसमें लिखा है, “हम फिर से अपने दोस्तों के साथ होंगे; हम फिर से अपने परिवारों के साथ होंगे; हम फिर मिलेंगे।” ये तस्वीर अप्रैल 2020 में कई मीडिया संस्थानों ने छापी थी। ये ब्रिटेन की महारानी की तरफ से दुनिया भर को संदेश था।

फेक चेक

 

दरअसल वायरल तस्वीर के साथ जो महारानी के नाम दावा किया जा रहा है, उसके साथ छेड़छाड़ की गई है। क्वीन एलिजाबेथ ने अब तक कोरोना वैक्सीन के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देने संबंधी कोई सार्वजनिक बयान नहीं दिया है। 

 

रिसर्व इमेज सर्च की मदद से हमने पाया कि असली तस्वीर में महारानी एलिजाबेथ द्वि‍तीय ने महामारी के दौरान विज्ञापन के साथ मैसेज दिया था। इसमें लिखा है, “हम फिर से अपने दोस्तों के साथ होंगे; हम फिर से अपने परिवारों के साथ होंगे; हम फिर मिलेंगे।” ये तस्वीर अप्रैल 2020 में कई मीडिया संस्थानों ने छापी थी। ये ब्रिटेन की महारानी की तरफ से दुनिया भर को संदेश था।

खबरों के मुताबिक, 7 अप्रैल से 19 अप्रैल के बीच लंदन के पिकाडिली लाइट्स पर ये इश्तहार लगा था जो कोरोना महामारी के बीच राष्ट्र के लिए आशा का संदेश था। 8 अप्रैल 2020 को बीबीसी लंदन ने भी यही तस्वीर ट्वीट की थी।

खबरों के मुताबिक, 7 अप्रैल से 19 अप्रैल के बीच लंदन के पिकाडिली लाइट्स पर ये इश्तहार लगा था जो कोरोना महामारी के बीच राष्ट्र के लिए आशा का संदेश था। 8 अप्रैल 2020 को बीबीसी लंदन ने भी यही तस्वीर ट्वीट की थी।

ये निकला नतीजा 

 

पड़ताल से साफ है कि वायरल हो रही तस्वीर से छेड़छाड़ की गई है। क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय ने ब्रिटेन को वैक्सीन मुहैया करवाने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देने संबंधी कोई बयान जारी नहीं किया है। हमने पाया कि क्वीन एलिजा‍बेथ की यही तस्वीर कई फ्री टेम्पलेट और मीम बनाने वाली वेबसाइट्स पर भी मौजूद है जहां पर यूजर इस स्क्रीन पर मनचाही लाइनें लिख सकते हैं।

ये निकला नतीजा 

 

पड़ताल से साफ है कि वायरल हो रही तस्वीर से छेड़छाड़ की गई है। क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय ने ब्रिटेन को वैक्सीन मुहैया करवाने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देने संबंधी कोई बयान जारी नहीं किया है। हमने पाया कि क्वीन एलिजा‍बेथ की यही तस्वीर कई फ्री टेम्पलेट और मीम बनाने वाली वेबसाइट्स पर भी मौजूद है जहां पर यूजर इस स्क्रीन पर मनचाही लाइनें लिख सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios