Asianet News Hindi

‘दुर्लभ पक्षी सुर्खाब’ की एक तस्वीर लेने 62 दिन डटे रहे 16 फोटोग्राफर्स? जानें वायरल वीडियो का सच

First Published Jun 28, 2020, 2:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क. हो सकता है कि आपने सुर्खाब पक्षी नहीं देखा हो, लेकिन 'सुर्खाब के पर' वाली कहावत जरूर सुनी होगी। क्या सचमुच सुर्खाब पक्षी इतना दुर्लभ होता है कि इसका वीडियो बनाने के लिए 16 फोटोग्राफर्स को तकरीबन दो महीने का वक्त लगे? सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक पोस्ट में तो ऐसा ही दावा किया जा रहा है।

 

फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सुर्खाब पक्षी के वायरल वीडियो ( Surkhab Bird viral Video Fact Check) सच क्या है? 

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

कहा जा रहा है कि जिन लोगों ने अब तक इसे नहीं देखा है, उन्हें तुरंत इसे देख लेना चाहिए। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि इस पक्षी को कैमरे में कैद करने के लिये 16 वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर्स ने 62 दिनों तक तपस्या की। 

वायरल पोस्ट क्या है? 

 

कहा जा रहा है कि जिन लोगों ने अब तक इसे नहीं देखा है, उन्हें तुरंत इसे देख लेना चाहिए। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि इस पक्षी को कैमरे में कैद करने के लिये 16 वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर्स ने 62 दिनों तक तपस्या की। 

क्या दावा किया जा रहा है? 

 

दावा है कि ये पक्षी काफी दुर्लभ है और इसकी एक तस्वीर खींचने के लिए फोटोग्राफर को 62 दिनों तक उसी जगह पर ताक लगाकर बैठना पड़ा। खबर लिखे जाने तक इस पोस्ट पर करीब 19000 लोग रिएक्शन दे चुके थे और तकरीबन 10000 लोग इसे शेयर कर चुके थे। इसे वॉट्सएप पर भी खूब शेयर किया जा रहा है।

क्या दावा किया जा रहा है? 

 

दावा है कि ये पक्षी काफी दुर्लभ है और इसकी एक तस्वीर खींचने के लिए फोटोग्राफर को 62 दिनों तक उसी जगह पर ताक लगाकर बैठना पड़ा। खबर लिखे जाने तक इस पोस्ट पर करीब 19000 लोग रिएक्शन दे चुके थे और तकरीबन 10000 लोग इसे शेयर कर चुके थे। इसे वॉट्सएप पर भी खूब शेयर किया जा रहा है।

फैक्ट चेकिंग  

 

वीडियो में दिख रहे पक्षी के बारे में जानने के लिए जब हमने रिवर्स सर्च किया तो हमें पता चला कि यह मैंडरिन डक है। पक्षियों से जुडी वेबसाइट्स की मदद से हमें पता चला कि रंग-बिरंगे पंखों वाली यह खूबसूरत डक चीन, रूस और जापान जैसे देशों में पाई जाती है।

 

सच क्या है? 

दरअसल, सच्चाई यह है कि वीडियो में दिख रहा पक्षी न तो सुर्खाब है, न ही दुर्लभ है बल्कि, यह मैंडरिन डक है. फेसबुक और वॉट्सएप पर वायरल हो रहे इस वीडियो के बारे में अविश्वसनीय दावे किए जा रहे हैं। पक्षियों से जुडी वेबसाइट्स से हमें पता लगा कि सुर्खाब भी एक किस्म का बतख है। इसे भारत में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। कोई इसे चकवा-चकवी कहता है तो कोई ब्राह्मणी बतख, अंग्रेजी भाषा में इसे रूडी शेलडक कहा जाता है। 

फैक्ट चेकिंग  

 

वीडियो में दिख रहे पक्षी के बारे में जानने के लिए जब हमने रिवर्स सर्च किया तो हमें पता चला कि यह मैंडरिन डक है। पक्षियों से जुडी वेबसाइट्स की मदद से हमें पता चला कि रंग-बिरंगे पंखों वाली यह खूबसूरत डक चीन, रूस और जापान जैसे देशों में पाई जाती है।

 

सच क्या है? 

दरअसल, सच्चाई यह है कि वीडियो में दिख रहा पक्षी न तो सुर्खाब है, न ही दुर्लभ है बल्कि, यह मैंडरिन डक है. फेसबुक और वॉट्सएप पर वायरल हो रहे इस वीडियो के बारे में अविश्वसनीय दावे किए जा रहे हैं। पक्षियों से जुडी वेबसाइट्स से हमें पता लगा कि सुर्खाब भी एक किस्म का बतख है। इसे भारत में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। कोई इसे चकवा-चकवी कहता है तो कोई ब्राह्मणी बतख, अंग्रेजी भाषा में इसे रूडी शेलडक कहा जाता है। 

कौन है सुर्खाब पक्षी

 

डॉ के प्रवीण राव बताते हैं कि सुर्खाब एक प्रवासी पक्षी है जो चीन और अफ्रीका जैसे देशों में पाया जाता है। ये पक्षी अक्टूबर के महीने में भारत आते हैं और अप्रैल तक वापस लौट जाते हैं। बतख एक ऐसा पक्षी है, जो बहुत ज्यादा ऊंचाई तक उड़ नहीं सकता लेकिन एक रिपोर्ट में लिखा है कि सुर्खाब बतख की प्रजाति से होने के बावजूद हिमालय की ऊंचाई तक उड़ सकता है। ये काफी खूबसूरत पक्षी होता है इसलिए इसको लेकर लोगों के बीच काफी क्रेज बना हुआ है। वहीं सोशल मीडिया पर इसके नाम से अलग-अलग पक्षियों की तस्वीरें वायरल कर दी गई हैं।

कौन है सुर्खाब पक्षी

 

डॉ के प्रवीण राव बताते हैं कि सुर्खाब एक प्रवासी पक्षी है जो चीन और अफ्रीका जैसे देशों में पाया जाता है। ये पक्षी अक्टूबर के महीने में भारत आते हैं और अप्रैल तक वापस लौट जाते हैं। बतख एक ऐसा पक्षी है, जो बहुत ज्यादा ऊंचाई तक उड़ नहीं सकता लेकिन एक रिपोर्ट में लिखा है कि सुर्खाब बतख की प्रजाति से होने के बावजूद हिमालय की ऊंचाई तक उड़ सकता है। ये काफी खूबसूरत पक्षी होता है इसलिए इसको लेकर लोगों के बीच काफी क्रेज बना हुआ है। वहीं सोशल मीडिया पर इसके नाम से अलग-अलग पक्षियों की तस्वीरें वायरल कर दी गई हैं।

ये निकला नतीजा 

 

बहरहाल पड़ताल से यह बात बिल्कुल साफ है कि वायरल वीडियो में दिख रहा पक्षी सुर्खाब नहीं, बल्कि मैंडरिन डक है। इससे पहले सोशल मीडिया पर सुर्खाब पक्षी के नाम सैकड़ों वीडियो और तस्वीरें शेयर की जा चुकी हैं। 

ये निकला नतीजा 

 

बहरहाल पड़ताल से यह बात बिल्कुल साफ है कि वायरल वीडियो में दिख रहा पक्षी सुर्खाब नहीं, बल्कि मैंडरिन डक है। इससे पहले सोशल मीडिया पर सुर्खाब पक्षी के नाम सैकड़ों वीडियो और तस्वीरें शेयर की जा चुकी हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios