Asianet News Hindi

CoronaVirus: 18% मरीज अपने घर में हो रहे हैं संक्रमित, सब्जी-किराना खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान

First Published Apr 24, 2021, 12:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के कारण देश के कई राज्यों में पाबंदियां लगा दी गई हैं। ऐसे में लोग एक बार फिर से घरों में कैद हैं। हालांकि सरकारों के द्वारा कई तरह की छूटें दी गई हैं। पाबंदियों के बीच राशन, दूध, सब्जियां-फल और दवा लेने के लिए लोग बाहर निकल रहे हैं। ऐसे में संक्रमित होने का डर भी बढ़ गया है। अमेरिका की फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च के मुताबिक कोरोना के 18% मरीज अपने घर के सदस्यों को भी संक्रमित कर रहे हैं। ऐसे में अमेरिका के सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने एक गाइडलाइन जारी की है कि कोरोना काल में घर से बाहर जाने, खरीददारी करने के दौरान आप खुद को और अपने परिवार को कैसे बचा सकते हैं। जानिए किन-किन बातों का रखें ख्याल। 

होम डिलीवरी (Home Delivery) के समय क्या करें
कोरोना संकट के कारण अगर आप घर में हैं और होम डिलीवरी से आपका सामान आ रहा है तो आप इन बातों का ध्यान रखें जिससे आप और आपका परिवार संक्रमित होने से बच सकता है। डिलीवरी ब्वॉय (Delivery Boy) ने अगर मास्क नहीं पहना है तो सामान लेने से बचें। सामान की डिलीवरी लेने के बाद सबसे पहले कार्डबोर्ड या प्लास्टिक पैकेजिंग को फाड़ दें। सैनेटाइज करने के बाद सामान को निकाले और फिर सामान को कुछ घंटों के लिए घर दें। उसके बाद एक बार फिर से आपने हाथ सैनेटाइज करें।

होम डिलीवरी (Home Delivery) के समय क्या करें
कोरोना संकट के कारण अगर आप घर में हैं और होम डिलीवरी से आपका सामान आ रहा है तो आप इन बातों का ध्यान रखें जिससे आप और आपका परिवार संक्रमित होने से बच सकता है। डिलीवरी ब्वॉय (Delivery Boy) ने अगर मास्क नहीं पहना है तो सामान लेने से बचें। सामान की डिलीवरी लेने के बाद सबसे पहले कार्डबोर्ड या प्लास्टिक पैकेजिंग को फाड़ दें। सैनेटाइज करने के बाद सामान को निकाले और फिर सामान को कुछ घंटों के लिए घर दें। उसके बाद एक बार फिर से आपने हाथ सैनेटाइज करें।

दुकान जाकर कैसे करें शॉपिंग
अगर आप ऐसी जगह हैं जहां होम डिलीवरी नहीं हो सकती और आप खुद सामान लेने दुकान में जा रहे हैं तो ऐसी स्थिति में आपको जो सामान खरीदना है उसकी पर्जी बना लें ताकि अधिक समय तक आपको दुकान में नहीं रहना पड़ा। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के साथ डिस्पोजेबल दस्ताने भी पहनें। बिलिंग के बाद ऑनलाइन पेमेंट करें। कार्ड पेमेंट और कैश से बचें। गुकान जाते समय ऐसा समय चुनें जिस समय भीड़ कम हो। 

दुकान जाकर कैसे करें शॉपिंग
अगर आप ऐसी जगह हैं जहां होम डिलीवरी नहीं हो सकती और आप खुद सामान लेने दुकान में जा रहे हैं तो ऐसी स्थिति में आपको जो सामान खरीदना है उसकी पर्जी बना लें ताकि अधिक समय तक आपको दुकान में नहीं रहना पड़ा। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के साथ डिस्पोजेबल दस्ताने भी पहनें। बिलिंग के बाद ऑनलाइन पेमेंट करें। कार्ड पेमेंट और कैश से बचें। गुकान जाते समय ऐसा समय चुनें जिस समय भीड़ कम हो। 

सब्जी-फ्रूट की ऐसे करें मार्केटिंग
अगर सब्जी या फ्रूट वाला आपके दरवाजे पर आ रहा है तो जिस वर्तन में आपकी सब्जी लेनी है उसे दूर रख दें। सब्जी को खुद लेने की जगह सब्जी वाले को बता दें कि आपको क्या-क्या सब्जी लेना है। मास्क पहन कर रखें। फल और सब्जियों को पानी में अच्छी तरह से धो लें। फल-सब्जियों को सैनेटाइज नहीं करें। बेहद जरूरी सामान को छोड़कर बाकी खरीदारी टाल दें। 
 

सब्जी-फ्रूट की ऐसे करें मार्केटिंग
अगर सब्जी या फ्रूट वाला आपके दरवाजे पर आ रहा है तो जिस वर्तन में आपकी सब्जी लेनी है उसे दूर रख दें। सब्जी को खुद लेने की जगह सब्जी वाले को बता दें कि आपको क्या-क्या सब्जी लेना है। मास्क पहन कर रखें। फल और सब्जियों को पानी में अच्छी तरह से धो लें। फल-सब्जियों को सैनेटाइज नहीं करें। बेहद जरूरी सामान को छोड़कर बाकी खरीदारी टाल दें। 
 

होम सर्विस में इन बातों का रखें ख्याल
अगर आपके घर में प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन या इंजीनियर आते हैं तो दूरी बना कर रखें। अगर घर में कोई बीमार या बुजुर्ग हों तो उन्हें इनके संपर्क में नहीं आने दें। काम को जल्दी खत्म करने की कोशिश करें ताकि इस दौरान वो ज्यादा देर तक आपके पास नहीं रहें। घर के रेस्ट-रूम का इस्तेमाल सभी को नहीं करने दें। खुद मास्क पहनें और परिवार के सभी सदस्यों को मास्क पहनाएं।
 

होम सर्विस में इन बातों का रखें ख्याल
अगर आपके घर में प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन या इंजीनियर आते हैं तो दूरी बना कर रखें। अगर घर में कोई बीमार या बुजुर्ग हों तो उन्हें इनके संपर्क में नहीं आने दें। काम को जल्दी खत्म करने की कोशिश करें ताकि इस दौरान वो ज्यादा देर तक आपके पास नहीं रहें। घर के रेस्ट-रूम का इस्तेमाल सभी को नहीं करने दें। खुद मास्क पहनें और परिवार के सभी सदस्यों को मास्क पहनाएं।
 

अस्पताल जाने में क्या करें
अगर आपके घर में कोई बीमार है और उसे अस्पताल लेकर जाना है तो सबसे पहले डॉक्टर से ऑनलाइन, फोन पर या ई-मेल पर ऑप्वाइमेंट ले लें। क्लीनिक या अस्पताल में सही ढंग से मास्क लगाए रहें। अस्पताल की किसी भी चीज को टच करने से बचें। अपने चेहरे, आंखों, नाक या मुंह को न छुएं। पब्लिक वॉश-रूम या अस्पताल के वॉश-रूम का इस्तेमाल न करें।v

अस्पताल जाने में क्या करें
अगर आपके घर में कोई बीमार है और उसे अस्पताल लेकर जाना है तो सबसे पहले डॉक्टर से ऑनलाइन, फोन पर या ई-मेल पर ऑप्वाइमेंट ले लें। क्लीनिक या अस्पताल में सही ढंग से मास्क लगाए रहें। अस्पताल की किसी भी चीज को टच करने से बचें। अपने चेहरे, आंखों, नाक या मुंह को न छुएं। पब्लिक वॉश-रूम या अस्पताल के वॉश-रूम का इस्तेमाल न करें।v

किस चीज में कितने दिन रहता है वायरस
प्लास्टिक में 3 से 7 दिनों तक वायरस रहता है। कोर्डबोर्ड में 24 घंटे तक, शीसी में 4 दिन और कपड़े में करीब 3 दिन तक वायरस के होने की संभावना रहती है। 
 

किस चीज में कितने दिन रहता है वायरस
प्लास्टिक में 3 से 7 दिनों तक वायरस रहता है। कोर्डबोर्ड में 24 घंटे तक, शीसी में 4 दिन और कपड़े में करीब 3 दिन तक वायरस के होने की संभावना रहती है। 
 

कैसे करें पेमेंट
पमेंट करते समय विशेष ध्यान रखें। अगर संभव हो तो ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन पमेंट करें। कैश लेन-देन के प्रयोग से बचें। अगर कैश लेन-देन कर रहे हैं तो पैसे दस्ताने वाले हाथों से दें या लें।

कैसे करें पेमेंट
पमेंट करते समय विशेष ध्यान रखें। अगर संभव हो तो ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन पमेंट करें। कैश लेन-देन के प्रयोग से बचें। अगर कैश लेन-देन कर रहे हैं तो पैसे दस्ताने वाले हाथों से दें या लें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios