Asianet News Hindi

भारत और चीन के बीच 15 घंटे तक चली बैठक, इन मुद्दों पर तैयार हुए दोनों देश

भारत और चीन के बीच लंबे वक्त से सीमा को लेकर विवाद चल रहा है। इसी बीच रविवार को दोनों देशों के बीच 9वें दौर की बैठक हुई। यह बैठक करीब 15 घंटे चली। इस दौरान अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। दोनों देश संयुक्त रूप से तनाव को कम करने के लिए कोर कमांडर स्तर की दसवें दौर की बातचीत के लिए भी सहमत हुए। 

India China agree on early disengagement in eastern Ladakh KPP
Author
New Delhi, First Published Jan 25, 2021, 9:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत और चीन के बीच लंबे वक्त से सीमा को लेकर विवाद चल रहा है। इसी बीच रविवार को दोनों देशों के बीच 9वें दौर की बैठक हुई। यह बैठक करीब 15 घंटे चली। इस दौरान अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। दोनों देश संयुक्त रूप से तनाव को कम करने के लिए कोर कमांडर स्तर की दसवें दौर की बातचीत के लिए भी सहमत हुए। 

भारतीय सेना के मुताबिक, दोनों देशों के बीच हुई 9वें दौर की बैठक सकारात्मक रही। दोनों पक्षों में अहम मुद्दों पर गहन चर्चा हुई। भारतीय सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद के मुताबिक, दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हैं कि बैठक का यह दौर सकारात्मक, व्यावहारिक रहा, इससे आपसी विश्वास और समझ बढ़ी। 
 
जल्द वापस होंगे दोनों देशों की सेनाएं 
रक्षा मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, दोनों पक्ष जल्दी फ्रंट लाइन पर तैनात सैनिकों के डिसइंगेजमेंट की कोशिश की जाए। साथ ही दोनों देश इस बात पर भी राजी हैं कि दोनों पक्षों के बीच बातचीत जारी रहनी चाहिए। इसके अलावा 10वें दौर की कोर कमांडर मीटिंग भी जल्द होगी, ताकि तनाव कम किया जा सके।
 
चीन ने फिर दिखाई चालबाजी
इससे पहले शनिवार को सिक्किम के नाकू ला सेक्टर में चीन की सेना ने एलएसी पर यथास्थिति बदलने की कोशिश की। चीन के कुछ सैनिक भारतीय क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे, लेकिन खराब मौसम की स्थिति के बावजूद भारतीय जवानों ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान सैनिकों के बीच झड़प भी हुई। हालांकि, स्थिति काबू में है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios