Asianet News Hindi

नए भारत के विकास की गाड़ी अब आधुनिकता और गरीब-किसान-मध्यवर्ग के कल्याण की 2 पटरियाें पर चलेगी: मोदी

वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से पीएम मोदी ने गुजरात में रेलवे के बड़े प्रोजेक्ट्स के अलावा एक्वाटिक एंड रोबोटिक्स गैलरी, गुजरात साइंस सिटी में नेचर पार्क का उद्घाटन कर आमजन को समर्पित किया. पीएम मोदी गुजरात के गांधीनगर से वाराणसी की राह आसान करते हुए एक सुपर फास्ट ट्रेन को भी हरी झंड़ी दिखाकर रवाना किया.

PM Modi inaugurating Nature park, Aquatic gallery including multiple projects of railways in Gujrat DHA
Author
New Delhi, First Published Jul 16, 2021, 4:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पीएम मोदी ने गुजरात को मल्टीपल प्रोजेक्ट्स का तोहफा दिया है। वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में पीएम मोदी गुजरात में रेलवे के बड़े प्रोजेक्ट्स के अलावा एक्वाटिक एंड रोबोटिक्स गैलरी, गुजरात साइंस सिटी में नेचर पार्क का भी उद्घाटन करते हुए इसे आमजन को समर्पित किया. पीएम मोदी ने गुजरात के गांधीनगर से वाराणसी की राह आसान करते हुए एक सुपर फास्ट ट्रेन को भी हरी झंड़ी दिखाकर रवाना कर दिया है. उन्होंने कहा कि सोमनाथ की धरती से बाबा विश्वनाथ की धरती का जुड़ना बहुत ही सौभाग्यपूर्ण पल है.

नए भारत की नई पहचान में एक और कड़ी जुड़ी

पीएम मोदी ने उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि नए भारत की नई पहचान में एक और कड़ी जुड़ रही है. मैं दिल्ली से ढेर सारे प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन किया हूं लेकिन इस बार इनको रूबरू देखने की उत्सुकता है. मैं जैसे ही समय मिलता है इसे देखने आउंगा.आज देश का लक्ष्य केवल कांक्रीट का स्ट्रक्चर खड़ा करना नहीं है बल्कि ऐसे प्रोजेक्ट्स का निर्माण हो रहा है जिनका अपना एक कैरेक्टर है, बेहतर पब्लिक स्पेस हमारी जरूरी आवश्यकता है. इस तरह पहले कभी सोचा नहीं जाता था. अतीत की अर्बन प्लानिंग में इसे लग्जरी से जोड़ दिया गया था. इससे हमारी बड़ी आबादी क्वालिटी पब्लिक स्पेस और जीवन से वंचित रह गई. लेकिन अब इस धारणा को हमने बदल दिया है. हम इसी सोच और इको सिस्टम को बदल रहे हैं. 

मनोरंजन के साथ क्रिएटिविटी को मिलेगा स्पेस

उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वभाविक विकास के लिए उनके मनोरंजन के साथ साथ सीखने और क्रिएटिविटी को भी स्पेस मिलना चाहिए. साइंस सिटी ऐसा प्रोजेक्ट है जो रिक्रिएशन और क्रिएटिविटी को बढ़ावा देते हैं. साइंस सिटी बच्चों में सीखने और समझने की क्षमता को विकसित करेगी. हमने देखा है बच्चे अक्सर  मां-बाप से रोबोट और जानवर की डिमांड करते हैं. अब बच्चों को एक नया विकल्प मिला है साइंस सिटी में. नेचर पार्क, एक्वाटिक गैलरी और रोबोटिक्स गैलरी हमारे नन्हें साथियों को बेहद पसंद आएगा.

तस्वीर जब शेयर की तो सब रह गए हैरान, पूछा...ऐसा तो विदेशों में ही देखा है

उन्होंने कहा कि रोबोटिक्स गैलरी से युवाओं को इस क्षेत्र में काम करने की इच्छा जगाएगा साथ ही उनकी जिज्ञासाओं को भी शांत करेगा. उन्होंने कहा कि ये प्रोजेक्ट दुनिया को आकर्षित करेगी. कल मैंने जब इन प्रोजेक्ट्स के चित्र पोस्ट किए तो लोगों को आश्चर्य हुआ कि ऐसी तस्वीर तो केवल विदेशों में ही देखने को मिलती है. मेरा आग्रह है कि यह क्षेत्र बच्चों से गुलजार रहे.रेगुलर यहां स्कूल-कॉलेजों का टूर प्लान किया जाए. लोग यहां आएं.

उन्होंने कहा कि रेलवे ने सोमनाथ की धरती से विश्वनाथ की धरती को जोड़ने के लिए एक बड़ा काम किया है. रेलवे बदल रहा है. भीषण हादसा के लिए मीडिया में छाईं रहने वाली भारतीय रेलवे अपनी पॉजिटिविटी के लिए जाना जा रहा है. आज का प्रोजेक्ट भारतीय रेलवे के नए अवतार की झांकी है.

विश्वस्तर की सुविधाओं का कोई वर्गीकरण नहीं, समाज के हर वर्ग को दे रहे ऐसी सुविधा

पीएम मोदी ने कहा कि हमने रेलवे को केवल एक सर्विस के तौर पर नहीं बल्कि एक एसेट के तौर पर विकसित किया है. बेहतरीन ट्रैक, आलीशान होटल, विश्वस्तरीय सुविधाएं अब रेलवे की पहचान बन रही. गांधीनगर बदल रहे रेलवे का उदाहरण है. पीएम मोदी ने कहा कि जब मुझे गुजरात में सेवा करने का अवसर मिला तो एक प्रयोग किया था और पीपीपी मॉडल पर गुजरात के बस स्टेशनों को आधुनिक बनाने का काम किया था. एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं को बस स्टेशन्स पर उपलब्ध कराया. जब दिल्ली आया तो यहां के अधिकारियों से उसकी चर्चा  की. आज रेलवे स्टेशन्स पर भी यह प्रयोग कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि अब रेलवे भी बदलने को आतुर है. जल्द पूरे देश में ऐसे ही आधुनिक रेलवे स्टेशन दिखेंगे जहां 5स्टार होटल, आधुनिक सुविधाओं से लैस स्टेशन देखने को मिलेगा. उन्होंने कहा कि जनसुविधाओं के लिए वर्गीकरण बेकार की बातें हैं, समाज के हर वर्ग को विश्वस्तरीय सुविधाएं मिलनी चाहिए. गांधी नगर का आधुनिक रेलवे स्टेशन इस बात का प्रमाण है कि हर कोई इसका लाभ उठा सकता है साथ ही आर्थिक गतिविधियां भी संचालित हो सकती है.

उन्होंने कहा कि पूरे देश में रेलवे का बहुत बड़ा नेटवर्क है. रेलवे अपने साथ साथ विकास के नए आयाम और सुविधाओं के भी नए आयाम लेकर पहुंचती है. बीते कुछ सालों का प्रयास है कि आज नार्थईस्ट में रेलवे विकास लेकर पहुंच रही. बहुत जल्द ही श्रीनगर भी कन्याकुमारी से जुड़ने वाला है. यहां भी रेलवे विकास के नए आयाम लेकर पहुंचेगी.

पीएम मोदी ने कहा कि नए भारत की विकास की गाड़ी दो पटरियों पर ही एक साथ चलते हुए आगे बढ़ेगी. एक पटरी आधुनिकता की, दूसरी पटरी गरीब-किसान और मध्यमवर्ग के कल्याण की. इसलिए जहां एक ओर भारत में नेक्स्ट जनरेशन इंफ्रास्ट्रक्चर  पर काम हो रहा है दूसरी ओर गरीब-मजदूर-मध्यमवर्ग का कल्याण हो इसको सुनिश्चित किया जा रहा है.

कोरोना से रहें सावधान, वैक्सीनेशन के लिए जागरूक

पीएम ने उद्घाटन समारोह में लोगों को कोरोना से सचेत रहने की अपील भी की है. कोरोना संक्रमण ने अनेक साथियों को हमसे छीना लेकिन एक राष्ट्र के रूप में हम इसका मुकाबला कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रैकिंग से हम काेरोना को दूर रख सकते हैं. कोरोना से बचने का वैक्सीनेशन सबसे बड़़ा उपाय है. मुझे खुशी है कि गुजरात वैक्सीनेशन में आगे बढ़ रहा है.

समारोह को गृहमंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भी संबोधित कर पीएम मोदी को धन्यवाद  दिया.

रेलवे के इन प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन

-विश्व स्तर के एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं अब गांधीनगर कैपिटल रेलवे स्टेशन पर मिलेगी। इस प्रोजेक्ट में करीब 71 करोड़ रुपये खर्च किया गया है। दिव्यांगों का विशेष ख्याल रखते हुए यहां उनके लिए विशेष कांउटर, रैंप लिफ्ट, पार्किंग स्पेस भी बनाया गया है। यहां फाइव स्टार होटल की सुविधा भी होगी। 32 तरह की लाइट थीम में इस स्टेशन की लाइटिंग कराई गई है। पूरा स्टेशन ग्रीन बिल्डिंग रेटिंग के अनुसार अपग्रेड किया गया है। 

-मेहसाणा-वरेथा गेज कन्वर्जन के साथ इस लाइन का विद्युतीकरण भी कर दिया गया है। 55 किलोमीटर की इस रेल लाइन के प्रोजेक्ट में 367 करोड़ रुपये की लागत आई है। इस रेल लाइन में कुल दस स्टेशन पड़ते हैं। 
-सुरेंद्रनगर से पीपावाव सेक्शन का इलेक्ट्रिफिकेशन 289 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। 

एक्वाटिक गैलरी

एक्वाटिक गैलरी का भी उद्घाटन पीएम मोदी ने किया। गुजरात में बने इस एक्वाटिक गैलरी के विभिन्न टैंक्स में विश्व के 188 विभिन्न प्रजातियों के हजारों जलजीव देखने को मिलेंगे। विश्व के विभिन्न प्रजाति के शार्क भी इस गैलरी में लोगों के कौतुहल का केंद्र होंगे। यहां एक विशेष प्रकार का 28 मीटर लंबा सुरंग है जिसका सफर रोमांच पैदा करेगा। 

रोबोटिक्स गैलरी

अत्याधुनिक टेक्नालॉजी वाले रोबोटिक्स गैलरी में आपको रोबोटिक्स के अनूठे अनुभव मिलेंगे। विश्व के जाने माने ट्रांसफार्मर रोबोट का डुप्लीकेट भी यहां देखने को मिलेगा। विभिन्न क्षेत्रों में उपयोगी तमाम तरह के रोबोट्स के बारे में जानने के इच्छुक लोगों के लिए रोबोटिक्स खासा आकर्षण का केंद्र बनेगा। पीएम मोदी इसका भी उद्घाटन किया.

नेचर पार्क 

नेचर पार्क भी अपने आप में एक अनोखा पिकनिक स्पॉट होगा। यहां मिस्ट गार्डन, चेस गार्डन, सेल्फी प्वाइंट, स्कप्चर पार्क और आउटडोर मेज के अलावा बच्चों के लिए विशेष पार्क है। स्कप्चर पार्क में उन जानवरों या जीवों से भी आप परिचित होंगे जो धरती से लुप्त हो चुके हैं। 

यह भी पढ़ें: 

इमरान खान बोलेः हमें भारत-पाक के बीच बातचीत का इंतजार लेकिन संघ की विचारधारा बन रही बाधक

महाराष्ट्रः पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर कसा शिकंजा, ईडी ने 4.20 करोड़ की संपत्ति किया अटैच

राजद्रोह पर SC की तल्ख टिप्पणी- अंग्रेजों ने महात्मा गांधी को चुप कराने इसका इस्तेमाल किया था

NHRC की रिपोर्ट: बंगाल में 'कानून का राज' नहीं 'शासक का कानून' चल रहा, चुनाव बाद हिंसा की जांच CBI करे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios