लखनऊ/पटना। बीजेपी ने यूपी और बिहार में विधान परिषद चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी है। इससें पूर्व पीएम स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी और पीएम नरेंद्र मोदी चहेते नेताओं को भी प्रत्याशी बनाया गया है। माना जा रहा है कि इन नेताओं के चुने जाने के बाद उन्हें बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी। 

 

शहनवाज को बिहार में लाना चाहती है बीजेपी
शाहनवाज हुसैन ने लंबे समय तक केंद्र की राजनीति में दखल रखा है, लेकिन अब भाजपा उन्‍हें बिहार की राजनीति में ला रही है। माना जा रहा है कि विधान परिषद में चुने जाने के बाद उन्‍हें बिहार सरकार में भी बड़ी जिम्‍मेदारी मिल सकती है। बता दें कि वो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के प्रिय नेताओं में शुमार रहे। भाजपा ने उन्‍हें विधान परिषद चुनाव का प्रत्याशी बनाकर अल्पसंख्यक समुदाय के प्रति बड़ा संदेश दिया है। वहीं, एनडीए की ओर से पशुपालन मंत्री मुकेश साहनी विधान परिषद भेजने की तैयारी है।

यूपी में बीजेपी ने उतारे 10 प्रत्याशी
यूपी में बीजेपी विधान मंडल के उच्च सदन में भी अपनी ताकत में इजाफा करने का पूरा मन बना लिया है। प्रदेश में 28 जनवरी को होने वाले विधान परिषद के चुनाव में दस प्रत्याशी उतार रही है। जिनमें पीएम नरेंद्र मोदी के करीबी रहे पूर्व आइएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा, यूपी के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह तथा विधान परिषद सदस्य लक्ष्मण आचार्य, प्रदेश महामंत्री गोविंद नारायण शुक्ला, कुंवर मानवेंद्र सिंह, सलिल विश्नोई, अश्वनी त्यागी, डॉ. धर्मवीर प्रजापति, सुरेंद्र चौधरी का भी नाम शामिल है। माना जा रहा है कि चुनाव बाद यूपी सरकार के दूसरे मंत्रिमंडल का विस्तार होगा, जिसमें काफी फेरबदल की उम्मीद जताई जा रही  है।