Asianet News Hindi

WhatsApp ने दी 15 मई तक की मोहलत, Accept करो प्राइवेसी पॉलिसी या डिलीट करो अकाउंट

WhatsApp ने एक बार फिर अपनी पॉलिसी को लोगों को समझाने की कोशिश की है। इसके  लिए अब WhatsApp ने ऐप में ही अपनी पॉलिसी मेंशन कर दी है। लेकिन इसमें भी साफ़ लिख दिया है कि 15 मई तक अगर पॉलिसी नहीं मानी, तो आप ऐप का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। 

whatsapp launches new in app privacy policy clarification deadline accept till 15 may kph
Author
India, First Published Feb 19, 2021, 12:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टेक डेस्क: बीते कुछ समय से WhatsApp को काफी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इसकी वजह है WhatsApp द्वारा जारी नई प्राइवेसी पॉलिसी। कंपनी का कहना है कि उसके पॉलिसी के बारे में अफवाहें फैलाई जा रही है। गलत जानकारी देकर WhatsApp की इमेज को खराब किया जा रहा है। इसे ही वापस ठीक करने के लिए अब WhatsApp ने अपनी पॉलिसी को ऐप में ही इंक्लूड कर दिया है। इसमें उसने अपनी हर पॉलिसी को साफ़-साफ़ समझाया है। साथ ही ये भी लिखा है कि 15 मई तक जो इसे मान लेगा, वही आगे ऐप का इस्तेमाल कर पाएगा।  


इन ऐप बैनर किया जारी 
अपनी पॉलिसीज की वजह से लोगों के निशाने पर आये  WhatsApp ने अब लोगों को पॉलिसी समझाने के लिए ऐप में ही बैनर जारी कर दिया है। आप जब चाहें इस पॉलिसी को पढ़कर समझ सकते हैं। अगर आपका इसे मानने का मन करे, तो एक्सेप्ट कर लें। वरना 15 मई तक इसे बाद में एक्सेप्ट करने का ऑप्शन भी दिया गया है। ये बैनर आने वाले समय में आपको अपने चैटबॉक्स के ऊपर नजर आएगा। साथ ही स्टेटस लगाने की जगह भी सबसे ऊपर आप इन पॉलिसीज को पढ़ पाएंगे। 


 WhatsApp का आरोप 
अपनी पॉलिसीज को लेकर WhatsApp का कहना है कि इसमें यूजर्स की प्राइवेसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा। कुछ लोगों ने अफवाहों के जरिये  WhatsApp की इमेज खराब करनी चाही है। इस वजह से अब कंपनी ऐप में ही आपको पॉलिसी समझा रही है। अगर आपको सही लगे तो इसे 15 मई तक मान लें। वरना आप आगे इसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।  


फेसबुक से नहीं साझा करेगा जानकारी 
 WhatsApp ने साफ किया है कि लोगों को जैसा लग रहा है, वैसा नहीं है।  WhatsApp अपने यूजर्स की कोई भी जानकारी फेसबुक से साझा नहीं करेगा। साथ ही वो लोगों के चैट भी नहीं पढ़ पाएगा।  WhatsApp का कहना है कि उसके सारे चैट्स एन्ड टू एन्ड इन्क्रिप्टेड होते हैं। ऐसे में ये पूरी तरह सुरक्षित होते हैं। 

पॉलिसी नहीं मानने का ऐसा होगा अंजाम 
अगर आपने 15 मई तक इस नई पॉलिसी को नहीं माना, तो कुछ समय तक आपको इसपर आने वाले मैसेज का नोटिफिकेशन आएगा। लेकिन उसके रिप्लाई के लिए आपको पॉलिसी एक्सेप्ट करनी ही पड़ेगी। अगर नहीं किया तो आप मैसेज का जवाब नहीं दे पाएंगे। इसी वजह से कई  लोगों ने WhatsApp डिलीट कर दूसरे ऐप्स पर कदम रख दिया है।   

लोग यूज कर रहे कई दूसरे ऐप्स 
जबसे WhatsApp की पॉलिसी भसड़ शुरू हुई है, तब से कई ऐप हैं, जो इसकी जगह लेने को बेताब हैं। लोग भी  WhatsApp डिलीट कर इन ऐप्स को यूज करना शुरू कर चुके हैं। इसमें टेलीग्राम से लेकर सिग्नल शामिल है। लोगों को डर है कि अगर उन्होंने पॉलिसी एक्सेप्ट की, तो उनकी पर्सनल बातें भी लीक हो जाएगी। इस डर से कई लोग अब दूसरे ऐप्स का रुख  रहे हैं। हालांकि, WhatsApp ने साफ़ किया है कि ऐसी कोई बात नहीं है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios