Asianet News HindiAsianet News Hindi

कानपुर में सौतेले भाइयों ने किशोरी को अश्लील वीडियो दिखा की हैवानियत, ऐसे खुली मामले की पोल

कानपुर के यतीमखाने में रहने वाली किशोरी के साथ दुष्कर्म करने वाले दोनों भाइयों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वर्ष 2015 में दंपत्ति ने 9 साल की बच्ची को गोद लिया था। जिसके दो साल बाद दोनों भाई धमकाकर उसके साथ दुष्कर्म करते थे।

Kanpur step brothers showed cruelty to the teenager by showing porn videos such an open case was exposed
Author
Lucknow, First Published Aug 18, 2022, 3:59 PM IST

सुकीर्ति मिश्रा

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में रिश्तों को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। जब पीड़िता ने अपने साथ हुए अत्याचार के बारे में बताया तो सुनने वालों को एक बार तो घटना पर यकीन करना मुश्किल हो गया। किशोरी के साथ उसके अपने सौतेले भाई दुष्कर्म करते रहे। जब पीड़िता उनका विरोध करती तो वह अपनी ही बहन को बदनाम करने की धमकी देकर चुप करा देते। जिसके बाद पीड़िता कई बार अपने ही भाइयों के हाथों दुष्कर्म का शिकार होती रही। यह घटना कानपुर के नाला रोड की है। 

सौतेले भाइयों ने किशोरी से किया दुष्कर्म
नाला रोड निवासी महबूब और उनकी पत्नी शाहजहां ने वर्ष 2015 में एक 9 साल की बच्ची को गोद लिया था। जिसके बाद दंपत्ति के दोनों बेटों दाउद और सऊद की नियत अपनी ही बहन पर खराब हो गई। पीड़िता के अनुसार, उसके सौतेले भाई दाउद ने उसे अश्लील वीडियो दिखाए और उसके साथ दुष्कर्म जैसी घिनौनी घटना को अंजाम दिया। दाउद की तरह उसका बड़ा भाई सऊद भी किशोरी को ब्लैकमेल कर उसके साथ दुष्कर्म करता था। किशोरी जब उनका विरोध करती तो वह उसे बदनाम करने की धमकी देकर चुप कर देते।

मदरसा शिक्षक को बताई आपबीती
किशोरी ने पुलिस को बताया कि जब वह हिम्मत हार गई तो उसने मदरसे में पढ़ाने वाले शिक्षक पूरी घटना की जानकारी दी। जिसके बाद मदरसा शिक्षक ने फौरन ही किशोरी की मां को बुलाकर पूरी घटना के बारे में बताया। किशोरी का कहना है कि शिक्षक के सामने तो उसकी मां ने अपने बेटों को सबक सिखाने के लिए बोला, लेकिन घर ले जाकर वह उल्टा किशोरी पर ही नाराज होने लगी और घटना के बारे में किसी से भी कुछ न बोलने के लिए धमकाने लगी। मामले की जानकारी होने पर दंपत्ति ने किशोरी को कानपुर के यतीमखाने में उसे डाल दिया।

किशोरी ने परेशान होकर काटी हाथ की नस
बीती 14 अगस्त की रात पिता से न मिलने देने पर बच्ची ने अपने हाथ की नस काट ली। नस काटने पर पुलिस ने बच्ची से पूछताछ कि जिसमें किशोरी ने अपने साथ हुई घटना के बारे में पुलिस को बताया। पुलिस ने बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म करने के मामले में दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर बुधवार को कोर्ट में पेश किया है। दोनों आरोपी कोर्ट द्वारा 14 दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेजे गए हैं। पुलिस ने बताय़ा कि मामले कि जांच में सामने आया है कि शाहजहां ने अवैध तरीके से बच्ची को गोद लिया था। 

आरोपियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल
पुलिस ने आरोपियों की मां को घटना के साक्ष्य मिटाने और दुष्कर्म की बात छिपाने के आरोप में उससे भी पूछताछ करना शुरूकर दिया है। वहीं बजरिया पुलिस ने दोनों भाइयों पर दुष्कर्म के मामले और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। बजरिया इंस्पेक्टर विक्रम सिंह के अनुसार, आरोपियों ने पूछताछ में किशोरी के साथ दुष्कर्म की बात कबूल की है। पूछताछ के बाद आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

नौकरी पर जाने से पहले फिल्मी अंदाज में बुर्का पहनकर प्रेमिका से मिलने पहुंचा युवक, लोगों ने कर दिया ऐसा हाल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios