CM योगी ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट को लेकर बोली बड़ी बात, कहा- वैश्विक उद्योग जगत के लिए है बेहतरीन मंच

| Dec 09 2022, 02:26 PM IST

CM योगी ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट को लेकर बोली बड़ी बात, कहा- वैश्विक उद्योग जगत के लिए है बेहतरीन मंच

सार

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने  ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट को लेकर बड़ी बात बोली है। उनका कहना है कि वैश्विक उद्योग जगत के लिए बेहतरीन मंच है। इतना ही नहीं वह इसको लेकर काफी खुश भी है कि प्रदेश अब वैश्विक मंच पर चर्चा करेगा।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को ईज ऑफ डूइंग बिजनेस और ईज ऑफ स्टार्टिंग बिजनेस के शानदार माहौल से प्रभावित ऑस्ट्रेलियाई निवेशकों से शिष्टाचार भेंट की। इस दौरान उन्होंने औद्योगिक दल ने राज्य में विविध सेक्टरों में निवेश की संभावनाओं पर चर्चा की। इसके साथ ही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 में सहभागिता के लिए उत्साह भी जताया। सीएम कहते है कि यह अत्यंत सुखद है कि आज यूपी का एक प्रतिनिधिमंडल जर्मनी में औद्योगिक जगत के प्रतिनिधियों, निवेशकों के साथ राज्य में निवेश की संभावनाओं पर चर्चा कर रहा है। 

नई ऊंचाई तक ले जाने में होगा उपयोगी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार 10-12 फरवरी 2023 तक राजधानी में एक ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन कर रही है। वह कहते है कि प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोत्तरी के लक्ष्य के साथ प्रयास है कि राज्य में उपलब्ध असीम व्यावसायिक अवसरों से देश और दुनिया लाभान्वित हो सके। सीएम कहते है कि यह इन्वेस्टर्स समिट वैश्विक औद्योगिक जगत को आर्थिक विकास में सहयोग करने के लिए एक इंटिग्रेटेड मंच प्रदान करने में उपयोगी सिद्ध होगा। ऑस्ट्रेलिया के उद्यमियों का सहयोग इस समिट को नई ऊंचाई तक ले जाने में उपयोगी होगा। वहीं ऑस्ट्रेलिया के डिप्टी हाई कमिश्नर सारा स्टोरे के नेतृत्व में एक औद्योगिक निवेशकों का समूह उत्तर प्रदेश के औद्योगिक माहौल का प्रत्यक्ष अनुभव प्राप्त करने प्रदेश की राजधानी में है। 

Subscribe to get breaking news alerts

फलों के उत्पादन में नंबर एक पर है राज्य
सीएम योगी कहते है कि लगभग 250 मिलियन करोड़ आबादी वाला यूपी भारत में सबसे बड़ी आबादी का राज्य है, इसलिए यह भारत का हृदय स्थल है। यहां की उर्वर भूमि इस प्रदेश की समृद्धि का मूलाधार है। उनका कहना यह भी है कि हम भारत में खाद्यान्न उत्पादन में प्रथम स्थान पर हैं। शुगर और एथेनाल का उत्पादन सर्वाधिक यहीं होता है। उनका कहना यह भी है कि विभिन्न सब्जियों और फलों के उत्पादन में राज्य नम्बर देश में प्रथम स्थान पर हैं। प्रकृति और परमात्मा की असीम कृपा वाला उत्तर प्रदेश आज भारत की अर्थव्यवस्था के ग्रोथ इंजन के रूप में नई पहचान बना रहा है। 

किसानों की आय बढ़ाने में होगा बहुत उपयोगी
ऑस्ट्रेलिया के डिप्टी हाई कमिश्नर सारा स्टोरे कहते है कि आपका राज्य 25 करोड़ नागरिकों का घर है, जो इसे भारत का सबसे बड़ा श्रम और उपभोक्ता बाजार बनाता है। उत्तर प्रदेश सरकार वायु, जल, सड़क और रेलमार्ग नेटवर्क के माध्यम से निर्बाध कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए तीव्र गति से बुनियादी ढांचे का विकास कर रही है, जिससे लॉजिस्टिक्स की पहुंच बढ़ेगी। इसके साथ ही उद्योगों को वैश्विक और घरेलू बाजारों तक पहुंच बनाने में भी मदद मिलेगी। सीएम योगी कहते है कि हमारे पास दुनिया की सबसे उर्वर भूमि और सबसे अमीर जल संसाधन हैं। उत्तर प्रदेश शून्य बजट रसायन मुक्त खेती के रूप में प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने की योजना पर काम कर रहा है। यह किसानों की आय बढ़ाने में बहुत उपयोगी प्रयास होगा।

निकाय चुनाव में बड़ी संख्या में मुस्लिमों ने BJP से की टिकट की मांग, पार्टी इन प्रत्याशियों पर लगाएगी दांव

पीलीभीत में शादी से पहले प्रेमी जोड़े ने लगाई फांसी, लड़के के परिजनों ने घटना को बताया ऑनर किलिंग