Spiritual

मृत लोगों का चित्र घर में लगाना चाहिए या नहीं, क्या कहा शंकराचार्य ने?

Image credits: social media

शंकराचार्य देते हैं लोगों के जवाब

शंकाराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती महाराज के पास रोज हजारों लोग चिट्ठी के माध्यम से सवाल पूछते हैं। महाराज उन सवालों के जवाब वीडियो के माध्यम से उन्हें भेजते हैं।

Image credits: social media

क्या घर में मृत लोगों के चित्र लगाने चाहिए?

शंकाराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती महाराज से एक भक्त ने पूछा कि ‘क्या घर में मरे हुए लोगों का चित्र लगाना उचित है या नहीं?’ आगे जाने क्या कहा शंकाराचार्य महाराज ने…

Image credits: social media

क्या कहा शंकराचार्य ने?

शंकाराचार्य के अनुसार, ‘ जब आपका कोई पूर्वज जीवित था, उस समय उसने अपना कोई खिंचवा लिया तो वह मरे हुए व्यक्ति का चित्र तो नहीं है, यानी उस समय वो व्यक्ति जीवित था।’

Image credits: social media

ध्यान रखें ये बात

शंकाराचार्य के अनुसार, ‘यदि किसी ने जीवित रहते चित्र खिंचवाया और उसे आपने घर में लगाया तो वो मरे हुए का चित्र नहीं कहा जा सकता, भले ही वो व्यक्ति बाद में मर भी चुका हो।’

Image credits: social media

ऐसा चित्र लगा सकते हैं

शंकाराचार्य के अनुसार, ‘अपने पूर्वज का जीवित अवस्था में खींचा गया चित्र यदि घर में लगाने से हमें प्रेरणा मिलती है तो उसे लगाने में कोई परेशानी नहीं है। ऐसा आप कर सकते हैं।’

Image credits: social media

ऐसी गलती न करें

शंकाराचार्य के अनुसार, ‘अगर किसी व्यक्ति की मृत अवस्था का कोई चित्र हो तो उसे घर में कदापि न लगाएं। जैसे शवयात्रा के दौरान के चित्र आदि। ऐसे चित्र घर में नहीं लगाना चाहिए।’

Image credits: social media