Asianet News HindiAsianet News Hindi

China : जिनपिंग को ताउम्र राष्ट्रपति बनाने का रास्ता साफ, कम्युनिस्ट पार्टी ने पास किया प्रस्ताव

चीन में शी जिनपिंग को ताउम्र राष्ट्रपति बनने का रास्ता साफ हो गया है। दरअसल, देश की कम्युनिस्ट पार्टी की मीटिंग (CPC Meet) ने जिनपिंग (Xi jinping)को देश के महानतम नेताओं में से एक के रूप में सम्मानित करने का प्रस्ताव पास कर दिया है। 

World news China Xi Jinping Resolution
Author
Beijing, First Published Nov 11, 2021, 6:04 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बीजिंग। चीन में शी जिनपिंग को ताउम्र राष्ट्रपति बनने का रास्ता साफ हो गया है। दरअसल, देश की कम्युनिस्ट पार्टी की मीटिंग (CPC Meet) ने जिनपिंग (Xi jinping) को देश के महानतम नेताओं में से एक के रूप में सम्मानित करने का प्रस्ताव पास कर दिया है। यानी अब उनके शासन के विस्तार का रास्ता खुल गया है। अब तक चीन में एक व्यक्ति दो कार्यकाल तक ही राष्ट्रपति रह सकता है। जिनपिंग 2022 में अपना पांच साल का कर्यकाल पूरा करने जा रहे हैं।
चाइना डेली की खबर के मुताबिक कम्युनिस्ट पार्टी चीन की सत्ता में 70 साल से काबिज है। जिनपिंग 10 साल से चीन के राष्ट्रपति हैं। 1921 में कम्युनिस्ट पार्टी के बनने के बाद से ये तीसरी बार है जब इस तरह का प्रस्ताव लाया गया है। सीपीसी की बैठक में वर्ष 2022 में बीजिंग में सीपीसी की 20वीं नेशनल कांग्रेस आयोजित करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई। उम्मीद की जा रही है कि इसी बैठक में जिनपिंग के नाम को आधिकारिक रूप से तरीके से तीसरे कार्यकाल के लिए प्रस्तावित किया जाएगा। 68 वर्षीय जिनपिंग का चीन की सत्ता के तीनों केंद्रों - सीपीसी के महासचिव, केंद्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) के अध्यक्ष और राष्ट्रपति- पर कब्जा है। सीपीसी की इस बैठक को राजनीतिक रूप से शी जिनपिंग के लिए अहम माना जा रहा था, जो अपने 9 साल के कार्यकाल के बाद पार्टी संस्थापक माओ त्से तुंग के बाद सबसे शक्तिशाली नेता के रूप में उभरे हैं। यह आम धारणा है कि वह अपने पूर्ववर्ती हू जिंताओं के विपरीत तीसरा कार्यकाल लेंगे। जिंताओं दो कार्यकाल के बाद रिटायर हो गए थे। वर्ष 2018 में किए संविधान संशोधन के बाद यह भी हो सकता है कि वह जीवनपर्यंत इस पद पर बने रहें, क्योंकि इसके जरिये राष्ट्रपति के कार्यकाल की सीमा हटा दी गई है। जिनपिंग को 2016 में पार्टी के केंद्रीय नेता का दर्जा दिया गया था। माओ के बाद यह दर्जा पाने वाले जिनपिंग पहले नेता हैं।

जिनपिंग के नेतृत्व में चीन ने कई उपलब्धियां हासिल कीं
बैठक में कहा गया कि जिनपिंग के नेतृत्व में, चीन ने ऐतिहासिक उपलब्धियां हासिल की हैं और एक ऐतिहासिक परिवर्तन किया है। कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि अर्थव्यवस्था, विदेश नीति, प्रदूषण से लड़ने और कोविड से निपटने में जिनपिंग के कदम सफल रहे। चीन ने खड़े होने और समृद्ध से मजबूत बनने के लिए जबरदस्त परिवर्तन हासिल किया है। 

यह भी पढ़ें
MaoTseTung की राह पर Jinping: तानाशाह का फरमान, खिलाफत वाली आवाज दबा दी जाए, जेल में दिखें विरोधी
President Xi Jinping: आजीवन राष्ट्रपति बने रहेंगे शी, जानिए माओ के बाद सबसे शक्तिशाली कोर लीडर की कहानी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios