Asianet News HindiAsianet News Hindi

पीएम मोदी का 'मेक इन इंडिया' पर जोर, कहा- भारत अब 3 अरब डॉलर के मोबाइल फोन का कर रहा निर्यात

पीएम मोदी ने कहा- सात साल पहले, हम करीब 8 अरब डॉलर मूल्य का मोबाइल फोन आयात करते थे। अब आयात कम हुआ है। आज हम 3 अरब डॉलर मूल्य का मोबाइल फोन आयात कर रहे हैं। 

Make in India: PM Modi said India is now exporting mobile phones worth $ 3 billion
Author
New Delhi, First Published Aug 15, 2021, 4:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क. 15 के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्रचीर से देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत सात साल पहले 8 अरब डॉलर मूल्य का मोबाइल फोन आयात करता था और अब देश इन्हीं उपकरणों का 3 अरब डॉलर मूल्य का निर्यात कर रहा है।  इस दौरान उन्होंने 'मेक इन इंडिया' को बढ़ावा देने के लिये उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (PLI) योजना की घोषणा की है.

उन्होंने कहा, योजना से जो बदलाव आए हैं, इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण उसका उदाहरण है। सात साल पहले, हम करीब 8 अरब डॉलर मूल्य का मोबाइल फोन आयात करते थे। अब आयात कम हुआ है। आज हम 3 अरब डॉलर मूल्य का मोबाइल फोन आयात कर रहे हैं। इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने पीएलआई योजना के तहत 148 अरब डॉलर के निवेश से जुड़े घरेलू और अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के 16 प्रस्तावों को मंजूरी दी है। पीएम ने कहा कि देश में उदारीकरण नीतियों को आगे बढ़ाने का परिणाम है कि आज रिकार्ड प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आ रहा है और देश का विदेशी मुद्रा भंडार भी नये रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया।

इसे भी पढ़ें- 75th Independence day पीएम मोदी का लाल किले से आठवीं बार संबोधन, हर बार बदलती गई पगड़ी, जानिए इनकी खासियत

स्टार्ट अप को मदद कर रही सरकार
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के स्टार्ट अप दुनिया में छा जाने का सपना लेकर आगे बढ़ रहे हैं और सरकार पूरी ताकत के साथ उनकी मदद के लिए खड़ी है। इन स्टार्ट अप के लिए कर छूट का मामला हो, नियमों को सरल बनाना हो या आगे बढ़ाने में मदद देना हो सरकार पूरी ताकत के साथ उनकी मदद के लिए खड़ी है। 

पीएम ने कहा- विकास के पथ पर आगे बढ़ते हुए भारत को अपनी manufacturing और export दोनों को बढ़ाना होगा। आपने देखा है, अभी कुछ दिन पहले ही भारत ने अपने पहले स्‍वदेशी Aircraft Carrier INS विक्रांत को समुद्र में trial के लिए उतारा है। भारत आज अपना लड़ाकू विमान बना रहा है, अपनी Submarine बना रहा है। गगनयान भी अंतरिक्ष में भारत का परचम लहराने के लिए तैयार हो रहा है। ये स्‍वदेशी manufacturing में हमारे सामर्थ्‍य को उजागर करता है।

इसे भी पढ़ें- 75th Independence day: लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी का 75 वंदे भारत ट्रेन का तोहफा, जानिए कौन शहर जुड़ेंगे

कोरोना के बाद उभरी नई आर्थिक परिस्थितियों में Make in India को स्‍थापित करने के लिए देश ने Production Linked Incentive की भी घोषणा की है।  उन्होंने कहा- आज जब हमारे manufacturing sector को गति मिल रही है तो हमें ये ध्‍यान रखना है कि हम भारत में जो बनाएं, उससे हम best quality के साथ ग्‍लोबल competition में टिकें और हो सके तो एक कदम आगे बढ़ें, यह तैयारी करनी है और ग्‍लोबल मार्केट को हमें target करना है।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios