Asianet News HindiAsianet News Hindi

सिर्फ Aadhaar Card के नंबर से भी पैसा हो जाएगा ट्रांसफर, जानिए कैसे


भीम (Bhim) एक यूपीआई-आधारित भुगतान प्रणाली (UPI Based Payment System) है जो आपके फोन नंबर या नाम जैसी एकल पहचान का उपयोग करके रीयल-टाइम फंड ट्रांसफर की अनुमति देती है।

Money will be transferred only with Aadhaar card number, know how
Author
New Delhi, First Published Nov 20, 2021, 6:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्‍क। कोरोनावायरस महामारी ने भारत में डिजिटल ट्रांजेक्‍शन को काफी बढ़ावा दिया है। शिक्षा से लेकर किराने की खरीदारी से लेकर विभिन्न भुगतान करने तक लगभग सब कुछ डिजिटल हो गया है। हालांकि कुछ लोग अभी इस लाभ से वंचित हैं। उदाहरण के लिए, कुछ लोगों को ताो स्मार्टफोन या यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) के बारे में जाानकारी तक नहीं होगी। ऐसे में उनकी ओर से रुपया ट्रांसफर करना काफी मुश्‍कि‍ल ही है।

इस समस्‍या को हल करने के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने घोषणा की है कि भीम (भारत इंटरफेस फॉर मनी) का उपयोग कर आधार नंबर के माध्‍यम से उन लोगों को रुपया ट्रांसफर कर सकते हैं, जिनके पास ना तो स्‍मार्टफोन हैं और ना ही जिन्‍हें यूपीआई की जानकारी है। भीम एक यूपीआई-आधारित पेमेंट सिस्‍टम है, जो आपके फोन नंबर या नाम जैसी सिंगल आईडेंट‍िटी का यूज कर रीयल-टाइम फंड ट्रांसफर की परमीशन देता है। यूआईडीएआई के अनुसार, भीम में बेनिफीश‍ियरी के पते पर आधार संख्या का उपयोग करके पैसे भेजने का ऑप्‍शन दिखाया जाता है। आइए आपको भी बताते हैं क‍ि आप आधार नंबर का प्रयोग कर रुपया ट्रांसफर कर सकते हैं।

भीम यूपीआई के थ्रू आधार का प्रयोग कर मनी ट्रांसफर का तरीका
भीम यूजर को को लाभार्थी की 12 अंकों का यूआईडी आधार नंबर देना होगा। और आधार संख्या का उपयोग करके मनी ट्रांसफर करने के लिए वेरिफ‍िकेशन बटन दबाना होगा। यूआईडीएआई द्वारा प्रदान की गई जानकारी के अनुसार, सिस्टम आधार लिंकेज को ऑथेंटि‍केट करेगा और लाभार्थी के पते को पॉप्युलेट करेगा। जिसके बाद यूजर मनी ट्रांसफर कर पाएगा।

यह भी पढ़ें:- SIP Calculator: म्‍यूचुअल फंड के इस नियम से 15 साल में बन जाएंगे दो करोड़ रुपए के माल‍िक

रिसेपिएंट के क‍िस अकाउंट में ट्रांसफर होगा रुपया
यूआईडीएआई के अनुसार, डीबीटी/आधार आधारित क्रेडिट प्राप्त करने के लिए यूआईडीएआई द्वारा चुने गए प्राप्तकर्ता के बैंक खाते में पैसा भेजा जाएगा। आधार पे पीओएस का उपयोग करके भुगतान स्वीकार करने वाले खुदरा विक्रेताओं को डिजिटल भुगतान करने के लिए आधार संख्या और फ़िंगरप्रिंट का भी उपयोग किया जा सकता है। यदि किसी व्यक्ति के एक से अधिक बैंक में खाते हैं और सभी खाते आधार से जुड़े हुए हैं, तो इस उदाहरण में सभी खातों का उपयोग डिजिटल भुगतान करने के लिए किया जा सकता है। यूआईडीएआई के अनुसार, आधार आधारित भुगतान करते समय, आपको उस बैंक का नाम चुनने का ऑप्‍शन दिया जाएगा जिससे आप भुगतान करना चाहते हैं। इस प्रकार, आपके पास हर बार भुगतान करने पर बैंक को तय करने का ऑप्‍शन होता है। इसके अतिरिक्त, जब आप आधार पे से भुगतान करते हैं, तो रुपया तुरंत काट लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:- 20 साल में 10 हजार रुपए हो चुकी है 20 रुपए की वैल्‍यू, नहीं है यकीन तो यहां पढ़‍िये

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios