Asianet News Hindi

सरकार ने दी नंदन नीलेकणि को बड़ी जिम्मेदारी, डिजिटल मोनोपली रोकने का करेंगे काम, जानें क्या है ONDC

अतिरिक्त सचिव (आईटीईसी), डीपीआईआईटी, सलाहकार परिषद के संयोजक होंगे। इसे वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत उद्योग संवर्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) ने शुरू किया है।

Nandan Nilekani to join ONDC will advise on preventing digital monopolies pwa
Author
New Delhi, First Published Jul 6, 2021, 10:51 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क. सेंट्रल गवर्नमेंट ने डिजिटल कॉमर्स के लिए ओपन नेटवर्क (ONDC) के डिजाइन और उसको तेजी से अपनाने के लिए नौ सदस्यीय सलाहकार कमेटी का गठन किया है।  इसमें इंफोसिस के को- फाउंडर और  नॉन एक्जिटिव चेयरमैन नंदन एम नीलेकणि (Nandan M Nilekani) को भी शामिल किया गया है। डिजिटल कॉमर्स के लिए ओपन नेटवर्क (Open Network for Digital Commerce) को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत उद्योग संवर्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) ने शुरू किया है।

कौन-कौन है इसमें शामिल
अतिरिक्त सचिव (आईटीईसी), डीपीआईआईटी, सलाहकार परिषद के संयोजक होंगे। इस नौ सदस्यीय सलाहकार कमेटी में कौन-कौन है।

  • आर. एस. शर्मा, सीईओ, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण
  • नंदन एम. नीलेकणि, इंफोसिस के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष
  • आदिल जैनुलभाई, अध्यक्ष, क्यूसीआई एवं क्षमता निर्माण आयोग
  • अंजलि बंसल, संस्थापक एवं अध्यक्ष, अवाना कैपिटल
  • अरविंद गुप्ता, सह-संस्थापक एवं प्रमुख, डिजिटल इंडिया फाउंडेशन
  • दिलीप अस्बे, एमडी एवं सीईओ, एनपीसीआई
  • सुरेश सेठी, एमडी एवं सीईओ, एनएसडीएल
  • प्रवीण खंडेलवाल, महासचिव, सीएआईटी
  • कुमार राजगोपालन, सीईओ, आरएआई


क्या है उद्देश्य
ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स का लक्ष्य ओपन सोर्स मेथडोलॉजी पर डेवलप ओपन नेटवर्क को बढ़ावा देना है। इससे पूरी वैल्यू चेन को डिजिटाइज करने, सप्लायर को शामिल किए जाने को बढ़ावा देने, लॉजिस्टिक में दक्षता हासिल करने और कंज्यूमर के लिए वैल्यू बढ़ने की उम्मीद है। डिजिटल मोनोपली रोकने का करेंगे काम होगा। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios