Asianet News Hindi

ट्रेन की लेट-लतीफी के कारण 400 बच्चों की छूटी RRB NTPC की परीक्षा, बीच रास्ते धुआं-धुआं हुआ इंजन

पटना-हटिया ट्रेन (Patna Hatia Train) में सवार परीक्षार्थी हताश-परेशान रांची स्टेशन से बाहर आये और परीक्षा केंद्र पर जाने के लिए इधर-उधर भागते दिखे। लेकिन, जब परीक्षार्थियों को लगा कि परीक्षा केंद्र स्टेशन से काफी दूर हैं और वह नहीं पहुंच सकते हैं, तो वह पार्किंग में बैठ कर निराश होकर गये। 

400 students missed RRB NTPC exam 2020 because of patna ranchi special train delayed seeking justice KPT
Author
Ranchi, First Published Jan 17, 2021, 1:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. रेलवे बोर्ड की नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी परीक्षाएं (RRB NTPC Exams 2020) चल रहे हैं। ये कई शिफ्ट में आयोजित की जा रही हैं। इसी के मद्देनजर रांची में ट्रेन लेट होने के कारण शनिवार को करीब 400 से ज्यादा बच्चों की परीक्षा छूट गई। पटना-हटिया ट्रेन (Patna Hatia Train) के रांची स्टेशन पर ढाई घंटे से ज्यादा देरी से पहुंचने के कारण 400 कैंडिडेट्स परीक्षा में शामिल नहीं हो सके।  इससे छात्रों में गुस्सा है। 

दरअसल, रेलवे की परीक्षा दो पाली में होनी थी। प्रथम पाली की परीक्षा सुबह 10.30 बजे से दोपहर 12.00 बजे तक थी। इसके लिए परीक्षा केंद्र पर प्रवेश का समय सुबह नौ से 10 बजे तक दिया गया, लेकिन, शनिवार की 2.45 घंटे की विलंब से सुबह 10.15 बजे पटना-हटिया ट्रेन रांची स्टेशन पर पहुंची। 

हताश-परेशान स्टेशन पर दौड़ते रहे परीक्षार्थी 

पटना-हटिया ट्रेन (Patna Hatia Train) में सवार परीक्षार्थी हताश-परेशान रांची स्टेशन से बाहर आये और परीक्षा केंद्र पर जाने के लिए इधर-उधर भागते दिखे। लेकिन, जब परीक्षार्थियों को लगा कि परीक्षा केंद्र स्टेशन से काफी दूर हैं और वह नहीं पहुंच सकते हैं, तो वह पार्किंग में बैठ कर निराश होकर गये। ये परीक्षार्थी झारखंड के अलावा बिहार के थे।

बीच रास्ते खराब हुआ ट्रेन का इंजन 

परीक्षार्थियों ने बताया कि पहाड़पुर स्टेशन से आगे बढ़ते ही ट्रेन के इंजन में कुछ खराबी आ गयी। वहीं, ट्रेन की डी-4 बोगी में धुआं भर गया। इस कारण ट्रेन वहां आधा घंटा तक रोकी गयी। इसके बाद ट्रेन कोडरमा स्टेशन पहुंची।

कैंडिडेट्स की मांग दोबारा हो परीक्षा

अमरजीत नाम के एक कैंडिडेट ने कहा- रेलवे की व्यवस्था में खामी का खामियाजा परीक्षार्थियों को उठाना पड़ा है। कोरोना में ट्रेनें भी कम चल रही है, वहीं, बीच रास्ते में ट्रेन में खराबी आ गयी। इससे रांची स्टेशन पर ट्रेन देर से पहुंची। हम परीक्षा नहीं दे पाये, कैंडिडेट्स की मांग है कि छूटी हुई दोबारा आयोजित करवाई जाए। 

दो पालियों में हुई परीक्षा

शनिवार को रेलवे द्वारा आयोजित परीक्षा दो शिफ्ट में ली गयी। प्रथम पाली की परीक्षा सुबह 10.30 बजे से दोपहर 12.00 बजे तक हुई। वहीं, द्वितीय पाली की परीक्षा दोपहर तीन से शाम 4.30 बजे तक हुई। इसके लिए परीक्षार्थियों को दोपहर 1.30 से 2.30 बजे तक प्रवेश दिया गया। 

आरआरबी के अध्यक्ष अनूप कुमार हेम्ब्रम ने कहा कि रांची में परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न हुई। परीक्षार्थियों की उपस्थिति 60 प्रतिशत रही।

रांची जोन में परीक्षा के लिए 13 सेंटर बनाये गये थे। रांची में 08, बोकारो, धनबाद, हजारीबाग, जमशेदपुर, राउरकेला में एक-एक सेंटर बनाया गया था। परीक्षार्थियों की सहूलियत के लिए उनके गृह राज्य में ही सेंटर बनाने की कोशिश की गयी थी, लेकिन परीक्षार्थियों की संख्या अधिक होने के कारण दूसरे शहर व नजदीकी राज्य में भी सेंटर दिया गया था। महिलाओं व दिव्यांगों को गृह राज्य में ही सेंटर दिया गया। 

RRB अध्यक्ष अनूप कुमार के मुताबिक, दक्षिण-पूर्व रेलवे में 771 पद के लिए परीक्षा हो रही है। वहीं, इसीआर में 595 पद के लिए परीक्षा हो रही है। यह परीक्षा 16 से 30 जनवरी तक होगी।

रेलवे बोर्ड व रेल मंत्री को किया ट्वीट: 

पटना-हटिया ट्रेन (Patna Hatia Train) के खराब होने व विलंब से रांची पहुंचने की जानकारी कई परीक्षार्थियों ने रेल मंत्री और रेलवे बोर्ड को ट्वीट कर दी। परीक्षार्थियों ने लिखा कि ट्रेन खराब होने में उनकी क्या गलती है? जो परीक्षा में शामिल नहीं हो सके है, उन्हें दोबारा मौका दिया जाये।

नहीं चलायी गई परीक्षा स्पेशल ट्रेन: 

रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा आयोजित परीक्षा की जानकारी ईसीआर (ECR) और एसईआर (SER) को पत्र के माध्यम से आरआरबी रांची जोन (RRB Ranchi Zone) द्वारा दी गयी थी। साथ ही स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग भी की गयी थी, लेकिन दोनों जोन के अधिकारियों ने कोई संज्ञान नहीं लिया। इस कारण परीक्षा स्पेशल ट्रेन नहीं चली।

फोटो सोर्स: प्रतीकात्मक तस्वीर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios