Asianet News HindiAsianet News Hindi

इस लड़की ने जज बनने के लिए छोड़ी लाखों की नौकरी, बताया सफलता का राज

झारखंड की एक लड़की हिना दास ने जज बनने के लिए लाखों रुपए पैकेज की अपनी नौकरी छोड़ दी और सिर्फ एक साल की तैयारी में न्यायिक सेवा में सफलता हासिल कर लिया।

This girl left the jobs with package of millions to become a judge, told the secret of success KPI
Author
Jamshedpur, First Published Dec 19, 2019, 1:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क। कई लोग कॉरपोरेट सेक्टर में अच्छे पैकेज वाली जॉब मिलने के बावजूद सरकारी क्षेत्र में नौकरी करना पसंद करते हैं। झारखंड के जमशेदपुर की रहने वाली हिना कौसर अच्छी-भली नौकरी कर रही थीं। उनका पैकेज भी लाखों में था, लेकिन उन्होंने जज बनने का सपना देखा था। उच्च शिक्षा भी उन्होंने कानून के क्षेत्र में ही ली। आज हिना UP PCS J 2019 की परीक्षा में सफल हो कर जज बन गई हैं।

हिना कौसर की प्रारंभिक शिक्षा जमशेदपुर में ही हुई। ग्रैजुएशन करने के लिए उन्होंने अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया। वहां से एलएलबी करने के बाद एलएलएम बेंगलुरु से किया। इसके बाद उन्होंने क्लैट की परीक्षा दी और बिजनेस क्लॉज के साथ पोस्ट ग्रैजुएशन करने के बाद एक अच्छी कंपनी में नौकरी करने लगीं। उन्होंने करीब ढाई साल तक नौकरी की। उन्हें इस फील्ड में और भी अच्छे पैकेज वाले ऑफर मिल रहे थे। लेकिन उनका मन न्यायिक सेवा में जाने का था।

उन्होंने इसके बारे में अपने पेरेंट्स से बात की। उन्होंने भी हिना का हौसला बढ़ाया। इसके बाद हिना ने नौकरी छोड़ दी और पूरी तरह ज्यूडिशियरी की परीक्षा की तैयारी में लग गईं। पहली बार में उन्हें प्रिलिम्स में तो अच्छे नंबर आए, लेकिन मेन्स एग्जामिनेशन में वे सफल नहीं हो सकीं। बावजूद उन्होंने तैयारी जारी रखी और UP PCS J 2019 की परीक्षा में सफल रहीं। बता दें कि साल 2018 में भी वे बिहार, झारखंड और राजस्थान ज्यूडिशियरी की प्रारंभिक परीक्षा में सफल रही थीं।

हिना का कहना है कि इस परीक्षा का पैटर्न हर राज्य में एक जैसा ही होता है। इसमें सफलता के लिए जनरल नॉलेज और जनरल साइंस पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए। साथ ही, जिस राज्य की परीक्षा दे रहे हों, वहां की भौगौलिक परिस्थिति, इतिहास और संस्कृति की भी जानकारी होनी चाहिए। इससे भी सवाल पूछे जाते हैं। हिना का कहना है कि परीक्षा में सफलता के लिए प्रिलिम्स की तैयारी के साथ ही मेन्स एग्जाम की भी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios