Asianet News HindiAsianet News Hindi

FACT CHECK: बच्चे ने जान देकर चुकाई पानी पीने की कीमत...जानें क्या है जालौर के नाम पर वायरल वीडियो का सच

राजस्थान के जालौर में टीचर की पिटाई से हुई दलित छात्र के मौत के बाद सोशल मीडिया पर एक बच्चे का डांस वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि यह उसी बच्चे का वीडियो है जिसकी मृत्यु हो चुकी है। 

Fact check of viral video of dalit child in Jalore Rajasthan died by teacher beating for drinking water KPI
Author
Jalore, First Published Aug 17, 2022, 8:36 PM IST

FACT CHECK: ''आजादी के 75 साल बाद भी एक बच्चे को पानी पीने की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पडी। #सुराणा_जालौर_प्रकरण।''

 

सोशल मीडिया (social media) पर इन दिनों एक बच्चे के डांस का वीडियो वायरल (viral video) हो रहा है। वीडियो के साथ यह दावा किया जा रहा है कि इसमें दिख रहा बच्चा जालौर (jalore) का है और इसकी मौत हो चुकी है। बता दें, कुछ दिन पहले राजस्थान (rajasthan) के जालौर में एक दलित बच्चे की मौत हो गई थी। इस वीडियो को उसी घटनाक्रम से जोड़कर वायरल किया जा रहा है। Asianetnews Hindi की पड़ताल में यह वीडियो राजस्थान के बाडमेर (Barmer) का निकला। इस वीडियो का जालौर से कोई संबंध नहीं है। सिलसिलेवार तरीके से आइए जानते हैं आखिर इस वीडियो का सच क्या है...

पड़ताल का स्टेप नंबर 1
राजस्थान के जालौर में शिक्षक की पिटाई से हुई तीसरी कक्षा के छात्र इंद्र कुमार मेघवाल की मौत के बाद गहलोत सरकार (ashok gehlot) के खिलाफ माहौल बना हुआ है। इस दौरान सोशल मीडिया पर बिना जांचे परखे फोटो और वीडियो इंद्र कुमार के नाम से शेयर किया जा रहा है। एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक बच्चा डांस करता दिख रहा है। स्कूल क्लास में डांस कर रहा यह बच्चा इंद्र कुमार बताया गया है। Asianetnews Hindi ने सेल्फ वेरिफिकेशन की मदद से इस वीडियो की पड़ताल की। हमने अपने राजस्थान के रिपोर्टर जय शर्मा को यह वायरल वीडियो भेजकर समझा कि इसकी सच्चाई क्या है। जय ने जांच-पड़ताल करके बताया कि यह वीडियो राजस्थान के बाडमेर जिले में स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, गोमरख धाम, चौहटन, बाड़मेर स्कूल का है। यह वीडियो शनिवार को नो बैग्स डे का है। इस दिन स्कूल में बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। वायरल वीडियो में जो बच्चा दिख रहा है, उसका नाम हरिश भील है। वह 6 साल का है।

स्कूल प्रबंधन ने बताया, यह वीडियो 30 जुलाई का है। उस दिन शनिवार था और सरकारी स्कूलों में छोटी कक्षाओं के लिए नो बैग्स डे रखा जाता है। डांस में दिख रहे बच्चे का नाम हरिश भील है। वह कक्षा 2 का छात्र है। 

पड़ताल का स्टेप नंबर 2 
GUPS Gomrakh dham Taratra, Chohtan, Barmer. हमने की वर्ड की मदद से फेसबुक पेज पर स्कूल का नाम सर्च किया। पेज पर हमें स्कूल का एक पेज मिला। जिसपर विजिट करने के बाद 30 जुलाई को अपलोड किया गया डांस का ओरिजनल वीडियो मिला। फेसबुक पर मौजूद इस वीडियो की हेडिंग है - No bag day ke दिन कक्षा 2 के विद्यार्थी हरीश द्वारा आत्मविश्वास से भरपूर शानदार प्रस्तुति।

पड़ताल का स्टेप नंबर 3 
Asianetnews Hindi के रिपोर्टर जय शर्मा ने राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के टीचर चेलाराम रायका से बात की। उन्होंने कहा- प्रदेशवासियों की तरह हमें भी खेद है कि मासूम बच्चे की मौत हुई है। लेकिन सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हो रहा है वह हमारे स्कूल के कक्षा 2 के छात्र हरीश का है। इसका जालौर की घटना से कोई लेना देना नहीं है। सबसे निवेदन है कि कृपया इसे वायरल ना करें।

निष्कर्ष: जालौर के नाम पर वायरल हो रहा बच्चे का डांस करता वीडियो राजस्थान के बाडमेर का है। इस वीडियो में दिख रहे बच्चे का संबंध जालौर से नहीं है। इस बच्चे ने बाडमेर के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में नो बैग डे के दिन परफॉर्म किया था।

ये भी पढ़ें
इमरान खान तो बड़े 'फेंकू' निकले, गोलमेज सम्मेलन-1930 की ये तस्वीर शेयर करके मारीं ये डींगें
FACT CHECK: मत जाओ हमारी फिल्म देखने...आखिर क्या है करीना कपूर के इस प्लेकार्ड का सच

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios