Asianet News Hindi

FACT CHECK: वायरल हुआ भारत की पहली रेलगाड़ी का अद्भुत वीडियो, पर असलियत निकली कुछ और

लोग फेसबुक पर इसे धड़ाधड़ शेयर कर रहे हैं। वीडियो में अद्भुत नजारा देख सवाल मन में सवाल उठते हैं क्या वाकई ये देश की पहली रेलगाड़ी की तस्वीर और वीडियो है? इसलिए हमने वायरल वीडियो की सच्चाई जानने इसकी जांच-पड़ताल की। 

Indias first train video viral on facebook real one is from germany kpt
Author
New Delhi, First Published Oct 27, 2020, 5:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क.  Indias first train video viral : सोशल मीडिया पर रोजाना सैकड़ों वीडियो और तस्वीरें वायरल होती हैं। इसमें अधिकतर फर्जी भी होते हैं, पर लोग पहली बार में इन्हें सच मान लेते हैं। बहुत सी जानकारी फर्जी दावे के साझा की जाती हैं। ऐसे ही हरियाली से घिरे खूबसूरत ट्रैक पर छुक-छुक की आवाज के साथ धुंआ उड़ाती चल रही एक रेलगाड़ी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कहा जा रहा है कि यह भारत की पहली रेलगाड़ी का वीडियो है। 

लोग फेसबुक पर इसे शेयर कर रहे हैं। वीडियो में अद्भुत नजारा देख सवाल मन में उठते हैं, क्या वाकई ये देश की पहली रेलगाड़ी की तस्वीर और वीडियो है? इसलिए हमने वायरल वीडियो की सच्चाई जानने इसकी जांच-पड़ताल की। 

तो फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

वायरल पोस्ट क्या है? 

सबसे पहले ये जानिए कि आखिर वायरल हो क्या रहा है? इस वायरल वीडियो के साथ कैप्शन लिखा है, “सबसे पहली भारतीय रेलगाड़ी।” फेसबुक पर यह दावा काफी वायरल हो रहा है। खबर लिखे जाने तक ऐसी ही एक फेसबुक पोस्ट पर तकरीबन 21 हजार लोग रिएक्शन दे चुके थे। इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।
 
फैक चेक

सबसे पहले हमने देखा कि वायरल पोस्ट के कमेंट बॉक्स में कई लोगों ने लिखा कि यह वीडियो भारत का नहीं लग रहा है। कुछ लोगों ने कमेंट किया है कि ये वीडियो जर्मनी का है। इनविड टूल की मदद से वायरल वीडियो के कीफ्रेम्स निकाले और उन्हें सर्च किया तो ये वीडियो एक रशियन वेबसाइट पर मिला। इस वेबसाइट में वीडियो के नीचे जर्मन भाषा में एक संदेश लिखा है, जिसका हिंदी अनुवाद है, ‘16 अक्टूबर, 2010 को 50 3616 नामक ट्रेन श्वार्जेनबर्ग से सैन्य गाड़ियां लेकर मार्कर्सबैक वायाडक्ट ​ब्रिज से होते हुए ऐनाबर्ग-बकहॉल्ज तक गई।’  

1940 में बनी जर्मनी की ट्रेन 

फिर यही वीडियो हमें सुपरजन एचवन (SuperJanH1) नाम के एक यूट्यूब चैनल पर मिला। इस वीडियो को यहां पूरा जा सकता है। ये यूजर मुख्य रूप से जर्मनी की ऐतिहासिक ट्रेनों के वीडियो शेयर करता है। इसके तकरीबन 23 हजार फॉलोवर हैं।

पड़ताल में यही वीडियो की तस्वीर हमें जर्मनी के ‘श्वार्जेनबर्ग रेलवे म्यूजियम’ की वेबसाइट पर मिली, जिसके आगे ‘50 3616’ लिखा हुआ है। वेबसाइट के मुताबिक, ये सामान ढोने वाली एक ट्रेन है जो स्टीम यानी भाप से चलती है। यह साल 1940 में बनी थी। 

ये निकला नतीजा 

पड़ताल में ये साफ हो जाता है कि भारत की पहली रेलगाड़ी बताकर जो वीडियो वायरल किया जा रहा है वो 1940 में बनी जर्मनी की स्टीम ट्रेन का है। वीडियो में मौजूद दृश्यों से भी ये बात साफ हो जाती है कि वो नजारा भारत का नहीं है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios