हर महीने 5 हजार की बचत पर इस स्कीम में मिलेंगे 23 लाख रुपए, जानें क्या करना होगा

First Published 31, Jul 2020, 9:59 AM

बिजनेस डेस्क। यह जरूरी नहीं है कि अच्छा रिटर्न हासिल करने के लिए बड़ा निवेश ही किया जाए। ऐसी कई योजनाएं हैं, जिनमें छोटी बचत का निवेश कर के अच्छी-खासी कमाई की जा सकती है। जरूरत इस बात की है कि ऐसी योजनाओं का ठीक से चुनाव किया जाए। कई स्मॉल सेविंग्स स्कीम ऐसी हैं, जिनमें नियमित तौर पर छोटी रकम जमा करने पर कुछ वर्षों के बाद अच्छा-खासा रिटर्न मिल जाता है। 

<p><strong>रिकरिंग डिपॉजिट</strong><br />
रिकरिंग डिपॉजिट (Recurring Deposit) ऐसी ही स्मॉल सेविंग्स स्कीम है, जिसमें अगर हर महीने बचत का एक हिस्सा लगाया जाए तो कुछ सालों में एक बड़ी राशि आपको मिल सकती है। रिकरिंग डिपॉजिट स्मॉल सेविंग्स स्कीम का एक बेहद पॉपुलर ऑप्शन बनता जा रहा है।<br />
 </p>

रिकरिंग डिपॉजिट
रिकरिंग डिपॉजिट (Recurring Deposit) ऐसी ही स्मॉल सेविंग्स स्कीम है, जिसमें अगर हर महीने बचत का एक हिस्सा लगाया जाए तो कुछ सालों में एक बड़ी राशि आपको मिल सकती है। रिकरिंग डिपॉजिट स्मॉल सेविंग्स स्कीम का एक बेहद पॉपुलर ऑप्शन बनता जा रहा है।
 

<p><strong>पोस्ट ऑफिस या बैंक में खोल सकते हैं अकाउंट</strong><br />
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में निवेश करने के लिए अकाउंट पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक में खोला जा सकता है। प्राइवेट बैंकों और निजी वित्तीय संस्थाओं में भी रिकरिंग डिपॉजिट का खाता खोला जा सकता है।</p>

पोस्ट ऑफिस या बैंक में खोल सकते हैं अकाउंट
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में निवेश करने के लिए अकाउंट पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक में खोला जा सकता है। प्राइवेट बैंकों और निजी वित्तीय संस्थाओं में भी रिकरिंग डिपॉजिट का खाता खोला जा सकता है।

<p><strong>पोस्ट ऑफिस में अकाउंट बेहतर ऑप्शन</strong><br />
रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट को पोस्ट ऑफिस में खोलना एक बेहतर विकल्प है। इसकी वजह यह है कि यहां खाता खोलने में आपको ज्यादा परेशानी नहीं उठानी पड़ती। यहां निवेश पूरी तरह सुरक्षित होता है। साथ ही, अब सरकार ने पोस्ट ऑफिस की जमा योजनाओं का विस्तार ग्रामीण शाखाओं तक कर दिया है। इससे गांवों में रहने वाले लोग भी रिकरिंग डिपॉजिट में निवेश कर इसका फायदा ले सकते हैं।</p>

पोस्ट ऑफिस में अकाउंट बेहतर ऑप्शन
रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट को पोस्ट ऑफिस में खोलना एक बेहतर विकल्प है। इसकी वजह यह है कि यहां खाता खोलने में आपको ज्यादा परेशानी नहीं उठानी पड़ती। यहां निवेश पूरी तरह सुरक्षित होता है। साथ ही, अब सरकार ने पोस्ट ऑफिस की जमा योजनाओं का विस्तार ग्रामीण शाखाओं तक कर दिया है। इससे गांवों में रहने वाले लोग भी रिकरिंग डिपॉजिट में निवेश कर इसका फायदा ले सकते हैं।

<p><strong>फिक्स्ड डिपॉजिट से है बेहतर</strong><br />
काफी लोग फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम्स में भी निवेश करते हैं। इस स्कीम में एकमुश्त राशि जमा करनी पड़ती है। जिन लोगों के पास ज्यादा पैसा नहीं होता और जिनका रेग्युलर खर्चा काफी होता है, वे फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम में निवेश नहीं कर पाते। वहीं, रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में एकमुश्त पैसा जमा नहीं करना होता है। <br />
 </p>

फिक्स्ड डिपॉजिट से है बेहतर
काफी लोग फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम्स में भी निवेश करते हैं। इस स्कीम में एकमुश्त राशि जमा करनी पड़ती है। जिन लोगों के पास ज्यादा पैसा नहीं होता और जिनका रेग्युलर खर्चा काफी होता है, वे फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम में निवेश नहीं कर पाते। वहीं, रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में एकमुश्त पैसा जमा नहीं करना होता है। 
 

<p><strong>मिलता है ज्यादा ब्याज</strong><br />
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में फिक्स्ड डिपॉजिट या कुछ दूसरी स्मॉल सेविंग्स स्कीम की तुलना में ज्यादा ब्याज मिलता है। फिलहाल, रिकरिंग डिपॉजिट सेविंग्स स्कीम में 5.5 से 6 फीसदी तक ब्याज मिल रहा है। </p>

मिलता है ज्यादा ब्याज
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में फिक्स्ड डिपॉजिट या कुछ दूसरी स्मॉल सेविंग्स स्कीम की तुलना में ज्यादा ब्याज मिलता है। फिलहाल, रिकरिंग डिपॉजिट सेविंग्स स्कीम में 5.5 से 6 फीसदी तक ब्याज मिल रहा है। 

<p><strong>स्कीम में है गारंटीड रिटर्न</strong><br />
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम मार्केट लिंक्ड नहीं है। इसलिए इसमें निवेश करने पर गारंटीड रिटर्न मिलता है। इसमें निवेश करने पर तय हिसाब से फायदा होता है। निवेश करने वाले को पता होता है कि कितने निवेश पर कितने वर्षों में कितनी रकम मिलेगी और उसका लाभ कितना होगा।<br />
 </p>

स्कीम में है गारंटीड रिटर्न
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम मार्केट लिंक्ड नहीं है। इसलिए इसमें निवेश करने पर गारंटीड रिटर्न मिलता है। इसमें निवेश करने पर तय हिसाब से फायदा होता है। निवेश करने वाले को पता होता है कि कितने निवेश पर कितने वर्षों में कितनी रकम मिलेगी और उसका लाभ कितना होगा।
 

<p><strong>हर महीने जमा कर सकते हैं अमाउंट</strong><br />
रिकरिंग खाता में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) की तरह आप हर महीने अमाउंट जमा कर सकते हैं। यह निवेशक को तय करना होता है कि हर महीने वह कितनी राशि जमा कर सकता है। इस तरह, यह फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम की तुलना में ज्यादा सुविधाजनक है। </p>

हर महीने जमा कर सकते हैं अमाउंट
रिकरिंग खाता में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) की तरह आप हर महीने अमाउंट जमा कर सकते हैं। यह निवेशक को तय करना होता है कि हर महीने वह कितनी राशि जमा कर सकता है। इस तरह, यह फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम की तुलना में ज्यादा सुविधाजनक है। 

<p><strong>कैसे जुटा सकते हैं बड़ा फंड</strong><br />
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में निवेश कर बड़ा फंड आसानी से जुटाया जा सकता है। इसके लिए निवेश का लक्ष्य और पीरियड तय करना होगा। अगर आपने निवेश का पीरियड 20 साल का रखा है और हर महीने 5000 रुपए की बचत रिकरिंग अमाउंट में डालते हैं, तो 20 साल में आपका निवेश 12 लाख रुपए हो जाएगा। पोस्ट ऑफिस में रिकरिंग डिपॉजिट पर ब्याज 5.8 फीसदी सालाना (तिमाही कम्पाउंडिंग) है। इस हिसाब से आपको 20 साल में 12 लाख रुपए के कुल निवेश पर 23.13 लाख रुपए मिलेंगे।  </p>

कैसे जुटा सकते हैं बड़ा फंड
रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम में निवेश कर बड़ा फंड आसानी से जुटाया जा सकता है। इसके लिए निवेश का लक्ष्य और पीरियड तय करना होगा। अगर आपने निवेश का पीरियड 20 साल का रखा है और हर महीने 5000 रुपए की बचत रिकरिंग अमाउंट में डालते हैं, तो 20 साल में आपका निवेश 12 लाख रुपए हो जाएगा। पोस्ट ऑफिस में रिकरिंग डिपॉजिट पर ब्याज 5.8 फीसदी सालाना (तिमाही कम्पाउंडिंग) है। इस हिसाब से आपको 20 साल में 12 लाख रुपए के कुल निवेश पर 23.13 लाख रुपए मिलेंगे।  

loader