Asianet News Hindi

मुकेश अंबानी की रिलायंस फाउंडेशन चलाएगी 'मिशन अन्न सेवा', देश के 3 करोड़ जरूरतमंदों का भरेगी पेट

First Published Apr 20, 2020, 4:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क: कोरोना महामारी के कारण देशभर में 3 मई तक लॉकडाउन किया गया है। इस लॉकडाउन की वजह से देशभर में कम ठप है और कई दिहाड़ी मजदूरों को रोज दो वक्त की रोटी भी नहीं मिल पा रही हैं।  ऐसे में रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने देशभर के 3 करोड़ लोगों का पेट भरने के लिए मुफ्त भोजन योजना की शुरुआत की है। इस योजना का नाम 'मिशन अन्न सेवा' है ये दुनिया में किसी भी कॉरपोरेट द्वारा संचालित सबसे बड़ा मुफ्त भोजन कार्यक्रम है। 

रिलायंस फाउंडेशन देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज की परोपकारी शाखा है, और उसने जरूरतमंद लोगों को मुफ्त भोजन देने, देश के पहले कोविड-19 अस्पताल का निर्माण करने और पीपीई तथा मास्क की आपूर्ति करने का जिम्मा उठाया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) से जुड़ी और समाज कल्याण के लिए काम करने वाली रिलायंस फाउंडेशन अब तक 16 राज्यों और 1 केंद्र शासित प्रदेश के 68 जिलों में 2 करोड़ से अधिक भोजन वितरित कर चुका है। 

रिलायंस फाउंडेशन देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज की परोपकारी शाखा है, और उसने जरूरतमंद लोगों को मुफ्त भोजन देने, देश के पहले कोविड-19 अस्पताल का निर्माण करने और पीपीई तथा मास्क की आपूर्ति करने का जिम्मा उठाया है। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) से जुड़ी और समाज कल्याण के लिए काम करने वाली रिलायंस फाउंडेशन अब तक 16 राज्यों और 1 केंद्र शासित प्रदेश के 68 जिलों में 2 करोड़ से अधिक भोजन वितरित कर चुका है। 

नीता अंबानी ने कर्मचारियों को भेजे एक संदेश में कहा, ‘‘कोविड-19 दुनिया के लिए, भारत के लिए और मानवता के लिए एक अभूतपूर्व महामारी है। यह एक मुश्किल समय है।’’उन्होंने कहा कि कंपनी के कर्मचारियों और उनके परिवारों की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा, ‘‘मिशन अन्न सेवा के माध्यम से हम पूरे देश में वंचित समुदायों और अग्रणी कार्यकर्ताओं को तीन करोड़ से अधिक खाने के पैकेट देंगे।’’ 
 

नीता अंबानी ने कर्मचारियों को भेजे एक संदेश में कहा, ‘‘कोविड-19 दुनिया के लिए, भारत के लिए और मानवता के लिए एक अभूतपूर्व महामारी है। यह एक मुश्किल समय है।’’उन्होंने कहा कि कंपनी के कर्मचारियों और उनके परिवारों की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा, ‘‘मिशन अन्न सेवा के माध्यम से हम पूरे देश में वंचित समुदायों और अग्रणी कार्यकर्ताओं को तीन करोड़ से अधिक खाने के पैकेट देंगे।’’ 
 

रिलायंस फाउंडेशन 70 से अधिक भागीदारों को राहत किट और थोक राशन की आपूर्ति कर रहा है, जो अपने अपने स्थानों में इसी तरह के भोजन वितरण कार्यक्रमों में लगे हुए हैं। भोजन वितरण कार्यक्रम के अलावा, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) और रिलायंस फाउंडेशन ने अपने बहु- आयामी, ऑन-द-ग्राउंड प्रयास जारी रखे हुए हैं ताकी कोरोना वायरस से इस जंग में जीत देश की हो। 

रिलायंस फाउंडेशन 70 से अधिक भागीदारों को राहत किट और थोक राशन की आपूर्ति कर रहा है, जो अपने अपने स्थानों में इसी तरह के भोजन वितरण कार्यक्रमों में लगे हुए हैं। भोजन वितरण कार्यक्रम के अलावा, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) और रिलायंस फाउंडेशन ने अपने बहु- आयामी, ऑन-द-ग्राउंड प्रयास जारी रखे हुए हैं ताकी कोरोना वायरस से इस जंग में जीत देश की हो। 

COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में रिलायंस ने विभिन्न राहत कोषों में 535 करोड़ रुपये का योगदान दिया है, जिसमें PM-CARES कोष में 500 करोड़ रुपये शामिल हैं।
 

COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में रिलायंस ने विभिन्न राहत कोषों में 535 करोड़ रुपये का योगदान दिया है, जिसमें PM-CARES कोष में 500 करोड़ रुपये शामिल हैं।
 

रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने एक वीडियो संदेश में बताया की रिलायंस ने कोरोना से लड़ने के लिए मुंबई में एक 100 बेड का अस्पताल शुरू किया गया था जिसकी क्षमता को बढ़ाकर 250 बेड का कर दिया गया है। रिलायंस ने यह अस्पताल मुंबई में बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) के साथ साझेदारी करके केवल दो सप्ताह में बनाया था।
 

रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने एक वीडियो संदेश में बताया की रिलायंस ने कोरोना से लड़ने के लिए मुंबई में एक 100 बेड का अस्पताल शुरू किया गया था जिसकी क्षमता को बढ़ाकर 250 बेड का कर दिया गया है। रिलायंस ने यह अस्पताल मुंबई में बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) के साथ साझेदारी करके केवल दो सप्ताह में बनाया था।
 

इसके अलावा रिलायंस ने हर रोज 1 लाख मास्क और PPE सूट तैयार कर रहा है ताकि स्वास्थ्यकर्मियों की मदद की जा सके। इसके अलावा रिलायंस इमर्जेंसी वाहनों में फ्री ईंधन उपलब्ध करा रहा है।

इसके अलावा रिलायंस ने हर रोज 1 लाख मास्क और PPE सूट तैयार कर रहा है ताकि स्वास्थ्यकर्मियों की मदद की जा सके। इसके अलावा रिलायंस इमर्जेंसी वाहनों में फ्री ईंधन उपलब्ध करा रहा है।

नीता अंबानी ने कहा कि देश भर में रिलायंस रिटेल के लगभग सभी आउटलेट्स खुले हैं जिससे देश में जरूरी चीजों की किल्लत न हो इस स्टोर्स में रोजाना करोड़ो लोग खरीदारी करने आ रहे हैं।

नीता अंबानी ने कहा कि देश भर में रिलायंस रिटेल के लगभग सभी आउटलेट्स खुले हैं जिससे देश में जरूरी चीजों की किल्लत न हो इस स्टोर्स में रोजाना करोड़ो लोग खरीदारी करने आ रहे हैं।

इसके साथ रिलायंस जियो ने इस वक्त लगभग 40 करोड़ लोगों और सैकड़ो संस्थानों को अपने नेटवर्क के जरिए कनेक्ट रखा है ताकि, उनका वर्क फ्रॉम होम, स्टडी फ्रॉम होम सुचारू रूप से चल सके। 
 

इसके साथ रिलायंस जियो ने इस वक्त लगभग 40 करोड़ लोगों और सैकड़ो संस्थानों को अपने नेटवर्क के जरिए कनेक्ट रखा है ताकि, उनका वर्क फ्रॉम होम, स्टडी फ्रॉम होम सुचारू रूप से चल सके। 
 

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देशभर में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 17265 हो चुके हैं। इनमें से 14,175 एक्टिव केस हैं। 2546 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं और 543 लोगों की मौत हो गई है। राहत की बात ये है कि देश के 23 राज्यों में बीते दस दिनों से कोई नया केस नहीं आया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देशभर में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 17265 हो चुके हैं। इनमें से 14,175 एक्टिव केस हैं। 2546 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं और 543 लोगों की मौत हो गई है। राहत की बात ये है कि देश के 23 राज्यों में बीते दस दिनों से कोई नया केस नहीं आया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios