Asianet News Hindi

UPSC पर्सनैलिटी टेस्ट में काम आएंगे IAS इंटरव्यू के ये 10 धुआंदार सवाल, जनरल नॉलेज भी हो जाएगा दुरुस्त

First Published Jun 23, 2020, 1:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. UPSC/IAS Interview Questions: यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Civil Service Exam 2020) के इंटरव्यू (UPSC Personality Test Schedule 2019) में सबसे अहम भूमिका आपके डिटेल्ड एप्लीकेशन फॉर्म (DAF) की ही होती है। आपका डीएएफ (DAF) आपके बारे में बहुत कुछ बता देता है। इंटरव्यू से पहले सभी उम्मीदवारों से यह भरवाया जाता है। इसमें आपके ऐकेडमिक, पर्सनल बैकग्राउंड, आपकी पसंद, नापसंद, हॉबी और ऑवरऑल पर्सनैलिटी सबकी जानकारी होती है। इंटरव्यू के दौरान इसकी एक कॉपी सभी पैनलिस्ट (जो इंटरव्यू ले रहे हैं) के पास भी होती है। इंटरव्यू में अधिकांश सवाल आपके द्वारा डीएएफ में दी गई जानकारी से ही पूछे जाते हैं। इसलिए उसको लेकर भी अच्छे से तैयारी कर लें। इंटरव्यू में अकसर पूछ लिया जाता है कि आपके नाम का मतलब क्या है, आपकी जन्मस्थान किस चीज के लिए मशहूर है। ऐसे ही तर्कशक्ति को लेकर पहेली जैसे सवाल भी पूछे जाते हैं।

 

इस स्टोरी में हम आपको आईएएस इंटरव्यू के कुछ पेचीदा सवाल (IAS Interview Questions) बता रहे हैं-  

जवाब.  अगर पेट्रोल इंजन की कार में डीजल को डाल दिया जाए तो उसे ज्यादा नुकसान नहीं होगा, क्योंकि डीजल सबसे पहले कार्बोरेटर में जाएगा। अब चूंकि कार्बोरेटर को पेट्रोल के लिए बनाया जाता है, तो डीजल डालने से वह जाम हो सकता है। तो ऐसे में होगा यह कि पेट्रोल इंजन में डीजल जलेगा ही नहीं, तो इंजन स्टार्ट ही नहीं होगा और सिर्फ धुआं ही निकलेगा। 

जवाब.  अगर पेट्रोल इंजन की कार में डीजल को डाल दिया जाए तो उसे ज्यादा नुकसान नहीं होगा, क्योंकि डीजल सबसे पहले कार्बोरेटर में जाएगा। अब चूंकि कार्बोरेटर को पेट्रोल के लिए बनाया जाता है, तो डीजल डालने से वह जाम हो सकता है। तो ऐसे में होगा यह कि पेट्रोल इंजन में डीजल जलेगा ही नहीं, तो इंजन स्टार्ट ही नहीं होगा और सिर्फ धुआं ही निकलेगा। 

जवाब.  बढ़ी हुई ऑक्सीजन के साथ, दुनिया के वायुमंडल में हवा बढ़ जाएगी वातावरण का घनत्व भी बढ़ेगा। यह बदले में, विमानों, ग्लाइडरों, पैराशूटों और पक्षियों को उच्च उड़ान भरने और लंबे समय तक उड़ते रहने में मदद करेगा। इसलिए अगर ऑक्सीजन को दोगुना किया जाए, तो जानवरों के आकार में भी वृद्धि होगी।

 

यह न्यूट्रोफिल के कारण होता है, जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाते हैं, और बीमारी से लड़ने के लिए ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं, जिससे उनकी क्षमता दोगुनी हो जाएगी और इससे मानवता के लिए कम रोग पैदा होंगे। ऑक्सीजन के ज्वलनशील होने के कारण आग लगने की घटनाओं में वृद्धि होगी। सोचिए आप ने सिगरेट सुलगाने के लिए लाइटर जलाया और लाइटर में धीमी लौ के बजाय सीधे एक आग का गोला निकले।

जवाब.  बढ़ी हुई ऑक्सीजन के साथ, दुनिया के वायुमंडल में हवा बढ़ जाएगी वातावरण का घनत्व भी बढ़ेगा। यह बदले में, विमानों, ग्लाइडरों, पैराशूटों और पक्षियों को उच्च उड़ान भरने और लंबे समय तक उड़ते रहने में मदद करेगा। इसलिए अगर ऑक्सीजन को दोगुना किया जाए, तो जानवरों के आकार में भी वृद्धि होगी।

 

यह न्यूट्रोफिल के कारण होता है, जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाते हैं, और बीमारी से लड़ने के लिए ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं, जिससे उनकी क्षमता दोगुनी हो जाएगी और इससे मानवता के लिए कम रोग पैदा होंगे। ऑक्सीजन के ज्वलनशील होने के कारण आग लगने की घटनाओं में वृद्धि होगी। सोचिए आप ने सिगरेट सुलगाने के लिए लाइटर जलाया और लाइटर में धीमी लौ के बजाय सीधे एक आग का गोला निकले।

जवाब. तुआटरा (Tuatara) ऐसा जानवर है जिसकी 3 आंखें होती है। यह केवल न्यूजीलैंड में पाया जाता है। तुआटरा के सिर पर तीसरी आंख होती है जिसे पार्श्विका आंख कहा जाता है। इस आंख में एक रेटिना, लेंस, कॉर्निया और तंत्रिका अंत होता है, लेकिन इसका उपयोग देखने के लिए नहीं किया जाता है। पार्श्विका नेत्र केवल हैचिंग में दिखाई देता है, क्योंकि यह चार से छह महीने के बाद शल्क में ढंक जाता है।

जवाब. तुआटरा (Tuatara) ऐसा जानवर है जिसकी 3 आंखें होती है। यह केवल न्यूजीलैंड में पाया जाता है। तुआटरा के सिर पर तीसरी आंख होती है जिसे पार्श्विका आंख कहा जाता है। इस आंख में एक रेटिना, लेंस, कॉर्निया और तंत्रिका अंत होता है, लेकिन इसका उपयोग देखने के लिए नहीं किया जाता है। पार्श्विका नेत्र केवल हैचिंग में दिखाई देता है, क्योंकि यह चार से छह महीने के बाद शल्क में ढंक जाता है।

जवाब. शरीर विज्ञान की अगर बात करें तो इसमें ऐसा कहा गया है कि बाल और नाखून मृत कोशिकाओं से मिलकर बने होते हैं। डेड सेल्स से बनने की वजह से ये बेजान होते हैं और इन्हें काटने पर हमें दर्द नहीं होता है।

जवाब. शरीर विज्ञान की अगर बात करें तो इसमें ऐसा कहा गया है कि बाल और नाखून मृत कोशिकाओं से मिलकर बने होते हैं। डेड सेल्स से बनने की वजह से ये बेजान होते हैं और इन्हें काटने पर हमें दर्द नहीं होता है।

जवाब.  SC, ST और OBC का फुल फॉर्म क्रमशः Scheduled Castes (SC), Scheduled Tribes (ST) और Other Background Classes (OBC) होता है। हिन्दी में इन्हें क्रमशः अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST) और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) कहा जाता है।

जवाब.  SC, ST और OBC का फुल फॉर्म क्रमशः Scheduled Castes (SC), Scheduled Tribes (ST) और Other Background Classes (OBC) होता है। हिन्दी में इन्हें क्रमशः अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST) और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) कहा जाता है।

जवाब. स्मार्टफ़ोन के गर्म होने के लिए जिम्मेदार कारणों में से एक तो ये है कि आप इसका बहुत ज़्यादा इस्तेमाल करते हैं। आपने अपना फोन किसी बाहरी डिवाइस से कनेक्ट किया हो जैसे कि स्पीकर, वाई-फ़ाई सिग्नल या ब्लूटूथ से लंबे समय से जोड़ रखा हो। ऐसे में फोन गर्म होगा ही।

 

स्मार्टफोन की प्रोसेसिंग क्षमता बढ़ती जा रही है और मोटाई कम होती जा रही है। कम जगह पर ज्यादा काम होने की वजह से स्मार्टफोन पर लोड बढ़ता जाता है और वह अक्सर गर्म हो जाता है। लेकिन इन सबका मतलब है कि आपके स्मार्टफोन के प्रोसेसर को आपकी बढ़ती ज़रूरतों को पूरा करने के लिए और मेहनत करनी पड़ती है। वीडियो और मोबाइल इंटरनेट के कारण भी आपका फ़ोन गर्म हो जाता है।

जवाब. स्मार्टफ़ोन के गर्म होने के लिए जिम्मेदार कारणों में से एक तो ये है कि आप इसका बहुत ज़्यादा इस्तेमाल करते हैं। आपने अपना फोन किसी बाहरी डिवाइस से कनेक्ट किया हो जैसे कि स्पीकर, वाई-फ़ाई सिग्नल या ब्लूटूथ से लंबे समय से जोड़ रखा हो। ऐसे में फोन गर्म होगा ही।

 

स्मार्टफोन की प्रोसेसिंग क्षमता बढ़ती जा रही है और मोटाई कम होती जा रही है। कम जगह पर ज्यादा काम होने की वजह से स्मार्टफोन पर लोड बढ़ता जाता है और वह अक्सर गर्म हो जाता है। लेकिन इन सबका मतलब है कि आपके स्मार्टफोन के प्रोसेसर को आपकी बढ़ती ज़रूरतों को पूरा करने के लिए और मेहनत करनी पड़ती है। वीडियो और मोबाइल इंटरनेट के कारण भी आपका फ़ोन गर्म हो जाता है।

जवाब.  पानी के बिना मानव जीवित रहेगा या नहीं यह कह पाना एक तर्क पूर्ण तथ्य है। क्योंकि पानी मनुष्य के जीवन का मूलभूत आधार है। पानी के बिना जीवन संभव नहीं है, इंसान बिना पानी के तीन से चार दिन और ज्यादा से ज्यादा एक हफ्ते तक ही जीवित रह पाएगा। शरीर में पानी ही नहीं होगा तो किडनी भी खराब हो सकती है, इसलिए मुझे लगता है बिना पानी पिए इंसान 3 से 4 दिन मुश्किल से ही जीवित रह पाएगा। हां लेकिन सोए बिना इंसान शायद इतना दिन भी जिंदा न रह पाए। इंसान के लिए नींद पानी पीने से और भी कहीं ज्यादा जरूरी है।

जवाब.  पानी के बिना मानव जीवित रहेगा या नहीं यह कह पाना एक तर्क पूर्ण तथ्य है। क्योंकि पानी मनुष्य के जीवन का मूलभूत आधार है। पानी के बिना जीवन संभव नहीं है, इंसान बिना पानी के तीन से चार दिन और ज्यादा से ज्यादा एक हफ्ते तक ही जीवित रह पाएगा। शरीर में पानी ही नहीं होगा तो किडनी भी खराब हो सकती है, इसलिए मुझे लगता है बिना पानी पिए इंसान 3 से 4 दिन मुश्किल से ही जीवित रह पाएगा। हां लेकिन सोए बिना इंसान शायद इतना दिन भी जिंदा न रह पाए। इंसान के लिए नींद पानी पीने से और भी कहीं ज्यादा जरूरी है।

जवाब. सिम कार्ड में सिलिकॉन से बनी इलेक्ट्रोनिक चिप इस्तेमाल होती है। इस चिप को प्लास्टिक से बनी एक सेल में रखा जाता है। सिम कार्ड की बाहरी बनाने में सोने जैसी धातु का इस्तेमाल होता है लेकिन सिम सोने का नहीं होता है। 

जवाब. सिम कार्ड में सिलिकॉन से बनी इलेक्ट्रोनिक चिप इस्तेमाल होती है। इस चिप को प्लास्टिक से बनी एक सेल में रखा जाता है। सिम कार्ड की बाहरी बनाने में सोने जैसी धातु का इस्तेमाल होता है लेकिन सिम सोने का नहीं होता है। 

जवाब. ब्रिटेन के साइकिल चालक मार्क ब्यूमोंट ने सबसे तेज रफ्तार से दुनिया का चक्कर लगाने का नया गिनीज रिकॉर्ड कायम किया था। अपनी विश्व यात्रा सिर्फ 78 दिन, 14 घंटे और 40 मिनट में पूरी की थी। इस यात्रा के तहत उन्होंने करीब 28,968 किलोमीटर की दूरी तय की। इस दौरान वह 16 अलग-अलग देशों से होकर गुजरे। अपनी यात्रा के शुरुआती 29 दिनों में मार्क ब्यूमोंट ने साइकिल से एक महीने में 11,315.29 किलोमीटर की दूरी तय की। इस तरह सबसे लंबी दूरी तय करने का पुराना रिकॉर्ड तोड़कर उन्होंने अपने नाम एक नया रिकार्ड बनाया था।

जवाब. ब्रिटेन के साइकिल चालक मार्क ब्यूमोंट ने सबसे तेज रफ्तार से दुनिया का चक्कर लगाने का नया गिनीज रिकॉर्ड कायम किया था। अपनी विश्व यात्रा सिर्फ 78 दिन, 14 घंटे और 40 मिनट में पूरी की थी। इस यात्रा के तहत उन्होंने करीब 28,968 किलोमीटर की दूरी तय की। इस दौरान वह 16 अलग-अलग देशों से होकर गुजरे। अपनी यात्रा के शुरुआती 29 दिनों में मार्क ब्यूमोंट ने साइकिल से एक महीने में 11,315.29 किलोमीटर की दूरी तय की। इस तरह सबसे लंबी दूरी तय करने का पुराना रिकॉर्ड तोड़कर उन्होंने अपने नाम एक नया रिकार्ड बनाया था।

जवाब. जब रोटी को ऊष्मा मिलती है तो आटे में उपस्थित जल वाष्पित होने लगता है और इसी के कारण रोटी फूल जाती है। गेहूं में ग्लुटीन नामक तत्व पाया जाता है, जो कि एक तरह का प्रोटीन है, रोटी सेंकते समय आटे में मौजूद पानी जब वाष्पित हो जाता तब परिणाम स्वरूप रोटी फूल जाती हैं। सब अनाजों की रोटियां नही फूलती है, मक्का,ज्वार या बाजरे की रोटियां न के बराबर फूलती है।

जवाब. जब रोटी को ऊष्मा मिलती है तो आटे में उपस्थित जल वाष्पित होने लगता है और इसी के कारण रोटी फूल जाती है। गेहूं में ग्लुटीन नामक तत्व पाया जाता है, जो कि एक तरह का प्रोटीन है, रोटी सेंकते समय आटे में मौजूद पानी जब वाष्पित हो जाता तब परिणाम स्वरूप रोटी फूल जाती हैं। सब अनाजों की रोटियां नही फूलती है, मक्का,ज्वार या बाजरे की रोटियां न के बराबर फूलती है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios