Asianet News Hindi

Menstrual Hygiene Day: पैड, टैम्पोन या कप क्या है आपके लिए सबसे सही, जानें क्या कहते हैं डॉक्टर्स

First Published May 28, 2021, 2:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हेल्थ डेस्क: कोरोनाकाल में हम सबसे ज्यादा हाइजीन पर बात कर रहे हैं। लेकिन अक्सर हम महिलाओं की हाइजीन पर बात करने से कतराते हैं। इसी के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 28 मई को मेंस्ट्रुएशन हाइजीन डे (Menstrual Hygiene Day) मनाया जाता है। इसकी शुरुआत जर्मनी के वॉश यूनाइटेड नाम के एनजीओ ने 2014 में की थी। मेंस्ट्रुएशन या पीरियड्स एक महिला के शरीर की सबसे महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं में से एक है। लेकिन अक्सर इसे समाज में ओछी नजर से देखा जाता है। इसी मिथ्य को तोड़ने और लोगों को पीरियड्स के बारे में जागरुक करने के लिए ये दिन मनाया जाता है। आज वर्ल्ड मेंस्ट्रुएशन हाइजीन डे पर हम आपको बताते हैं, कि पीरियड्स के दौरान पैड, टैम्पोन या कप किसका इस्तेमाल करना सबसे सही और सुरक्षित होता है।

शर्म नहीं, खुलकर करें बात 
आज भी तमाम महिलाएं हैं, जो मेंस्ट्रुएशन को लेकर खुलकर बात नहीं करती है। उन्हें ये समझ नहीं आता है, कि इस बारे में किससे और कैसे बात की जाएं। इन दिनों में महिलाओं को कई अन्य परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जैसे मांसपेशियों में दर्द, बदन दर्द या ज्यादा ब्लीडिंग होना। तो चलिए आज हम आपके सारे डाउट क्लीयर करते है और आपको बताते हैं एक हेल्दी पीरियड्स के बारे में।

शर्म नहीं, खुलकर करें बात 
आज भी तमाम महिलाएं हैं, जो मेंस्ट्रुएशन को लेकर खुलकर बात नहीं करती है। उन्हें ये समझ नहीं आता है, कि इस बारे में किससे और कैसे बात की जाएं। इन दिनों में महिलाओं को कई अन्य परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जैसे मांसपेशियों में दर्द, बदन दर्द या ज्यादा ब्लीडिंग होना। तो चलिए आज हम आपके सारे डाउट क्लीयर करते है और आपको बताते हैं एक हेल्दी पीरियड्स के बारे में।

गंदे कपड़े का ना करें इस्तेमाल
भारत में आज भी कई महिलाएं ऐसी है, जो पीरियड्स के दौरान बार-बार एक ही कपड़ा यूज करती है, जो उनकी हेल्थ के लिए बहुत नुकसानदायक होता है। गंदे कपड़े को रिसाइकल कर इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें।

गंदे कपड़े का ना करें इस्तेमाल
भारत में आज भी कई महिलाएं ऐसी है, जो पीरियड्स के दौरान बार-बार एक ही कपड़ा यूज करती है, जो उनकी हेल्थ के लिए बहुत नुकसानदायक होता है। गंदे कपड़े को रिसाइकल कर इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें।

पैड इस्तेमाल करते समय रखें ये ध्यान
अधिकतर लड़कियां या महिलाएं मेंस्ट्रुएशन के दौरान पैड्स का इस्तेमाल करती हैं। हालांकि, एक ही सेनेटरी पैड का इस्तेमाल लगातार नहीं करना चाहिए। हर चार से पांच घंटे में आपको इसको बदल देना चाहिए।

पैड इस्तेमाल करते समय रखें ये ध्यान
अधिकतर लड़कियां या महिलाएं मेंस्ट्रुएशन के दौरान पैड्स का इस्तेमाल करती हैं। हालांकि, एक ही सेनेटरी पैड का इस्तेमाल लगातार नहीं करना चाहिए। हर चार से पांच घंटे में आपको इसको बदल देना चाहिए।

क्या होता है टैम्पोन
पैड्स के अलावा पीरियड्स के दौरान टैम्पोन का इस्तेमाल भी किया जाता है। यह आपको स्मॉल, मीडियम और लार्ज साइज में मिलते हैं। टैम्पोन लीकेज को बहुत अच्छी तरह सोख लेता है, इसलिए इसका इस्तमेला करना काफी सेफ होता है। 1 टैम्पोन को एक बार में 6 से 8 घंटे तक पहना जा सकता है। इसके बाद इसे बदल देना चाहिए।

क्या होता है टैम्पोन
पैड्स के अलावा पीरियड्स के दौरान टैम्पोन का इस्तेमाल भी किया जाता है। यह आपको स्मॉल, मीडियम और लार्ज साइज में मिलते हैं। टैम्पोन लीकेज को बहुत अच्छी तरह सोख लेता है, इसलिए इसका इस्तमेला करना काफी सेफ होता है। 1 टैम्पोन को एक बार में 6 से 8 घंटे तक पहना जा सकता है। इसके बाद इसे बदल देना चाहिए।

क्या होता है मेंस्ट्रुअल कप 
मेंस्ट्रुअल कप पीरियड्स के दौरान इस्तेमाल होने वाल एक तरह का कप है, जो सिलीकॉन का बना होता है और रीयूज किया जा सकता है। यह आपको स्मॉल, मीडियम और लार्ज साइज में मिलता है, जिसे उम्र और आकार के हिसाब से यूज किया जाता है। इसे पीरियड्स को मैनेज करने का सबसे सुरक्षित और आसान तरीका माना जाता है और एक कप का इस्तेमाल आप 5 साल से ज्यादा तक कर सकते हैं।

क्या होता है मेंस्ट्रुअल कप 
मेंस्ट्रुअल कप पीरियड्स के दौरान इस्तेमाल होने वाल एक तरह का कप है, जो सिलीकॉन का बना होता है और रीयूज किया जा सकता है। यह आपको स्मॉल, मीडियम और लार्ज साइज में मिलता है, जिसे उम्र और आकार के हिसाब से यूज किया जाता है। इसे पीरियड्स को मैनेज करने का सबसे सुरक्षित और आसान तरीका माना जाता है और एक कप का इस्तेमाल आप 5 साल से ज्यादा तक कर सकते हैं।

​मेंस्ट्रुअल कप के फायदे
​मेंस्ट्रुअल कप पैड और टैम्पोन के अपेक्षा सस्ता होता है और ये ज्यादा ब्लड इकठ्ठा कर सकता है। इसके अलावा ये पैड और टैम्पोन से ज्यादा समय तक सेफ्टी देता है। कप दिन में कम से कम दो बार खाली करना चाहिए। इसके इस्तेमाल से खुजली और रैशेस की समस्या से छुटकारा मिलता है। डॉक्टर्स का मानना है, कि ये सबसे सेफ और हाइजीनिक तरीका है।

​मेंस्ट्रुअल कप के फायदे
​मेंस्ट्रुअल कप पैड और टैम्पोन के अपेक्षा सस्ता होता है और ये ज्यादा ब्लड इकठ्ठा कर सकता है। इसके अलावा ये पैड और टैम्पोन से ज्यादा समय तक सेफ्टी देता है। कप दिन में कम से कम दो बार खाली करना चाहिए। इसके इस्तेमाल से खुजली और रैशेस की समस्या से छुटकारा मिलता है। डॉक्टर्स का मानना है, कि ये सबसे सेफ और हाइजीनिक तरीका है।

ऐसे करें कप को स्टेरलाइज 
चूंकि ​मेंस्ट्रुअल कप को आप बार-बार यूज कर सकते है, इसलिए इसके हाइजीन की सही तरीके से देखभाल करनी चाहिए। कप को यूज करने से पहले अपने हाथों को सही तरीके से धोएं। इसको यूज करने के बाद इसे गर्म पानी से साफ करें और दोबारा यूज करें। 5 दिन के बाद जब आपके पीरियड्स खत्म हो जाए, तो इसे गर्म पानी में 2-3 मिनट के लिए अच्छे से स्टेरलाइज करें और अच्छे से सुखाने के बाद दूसरे सर्किल तक अच्छे से स्टोर करके रख दें।

ऐसे करें कप को स्टेरलाइज 
चूंकि ​मेंस्ट्रुअल कप को आप बार-बार यूज कर सकते है, इसलिए इसके हाइजीन की सही तरीके से देखभाल करनी चाहिए। कप को यूज करने से पहले अपने हाथों को सही तरीके से धोएं। इसको यूज करने के बाद इसे गर्म पानी से साफ करें और दोबारा यूज करें। 5 दिन के बाद जब आपके पीरियड्स खत्म हो जाए, तो इसे गर्म पानी में 2-3 मिनट के लिए अच्छे से स्टेरलाइज करें और अच्छे से सुखाने के बाद दूसरे सर्किल तक अच्छे से स्टोर करके रख दें।

​मेंस्ट्रुअल कप का प्राइज
​मेंस्ट्रुअल कप आपको अलग-अलग साइज और कंपनियों के मिल जाते हैं। इसे ऑनलाइन खरीदा जा सकता है। इसकी कीमत 300 से 500 रुपये के बीच होती है। इस 1 बार खरीदकर आप 5 साल तक इसका यूज कर सकते हैं। 
 

​मेंस्ट्रुअल कप का प्राइज
​मेंस्ट्रुअल कप आपको अलग-अलग साइज और कंपनियों के मिल जाते हैं। इसे ऑनलाइन खरीदा जा सकता है। इसकी कीमत 300 से 500 रुपये के बीच होती है। इस 1 बार खरीदकर आप 5 साल तक इसका यूज कर सकते हैं। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios