113

प्रधानमंत्री के बोलने से पहले विभिन्न राजनीतिक नेताओं ने भारत की G20 अध्यक्षता पर अपनी बहुमूल्य अंतर्दृष्टि(valuable insights) शेयर की। इन नेताओं में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी. देवेगौड़ा, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस. जगन मोहन रेड्डी,  भाजपा लीडर सीताराम येचुरी, आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के अलावा एडप्पादी के. पलानीस्वामी, पशुपतिनाथ पारस, एकनाथ शिंदे और केएम कादर मोहिदीन शामिल रहे।

Subscribe to get breaking news alerts

213

गृह मंत्री अमित शाह और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा भारत की जी20 प्राथमिकताओं के पहलुओं को विस्तार से बताते हुए एक डिटेल प्रजेंटेंशन भी किया गया।

313

बैठक के दौरान उपस्थित लोगों में मंत्री राजनाथ सिंह, अमित शाह, निर्मला सीतारमण, डॉ. एस जयशंकर, पीयूष गोयल, प्रह्लाद जोशी और भूपेंद्र यादव भी मौजूद र

413

प्रधानमंत्री ने टीमवर्क के महत्व पर जोर दिया और विभिन्न जी20 आयोजनों के आयोजन में सभी नेताओं से सहयोग मांगा। उन्होंने कहा कि जी20 प्रेसीडेंसी पारंपरिक बड़े महानगरों से परे भारत के कुछ हिस्सों को प्रदर्शित करने में मदद करेगी, इस प्रकार हमारे देश के प्रत्येक हिस्से की विशिष्टता को सामने लाएगी।

513

भारत की जी20 अध्यक्षता के दौरान बड़ी संख्या में भारत आने वाले आगंतुकों पर प्रकाश डालते हुए प्रधान मंत्री ने पर्यटन को बढ़ावा देने और उन स्थानों की स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने की क्षमता पर ध्यान दिया जहां जी20 बैठकें आयोजित की जाएंगी।

613

 भारत ने 1 दिसंबर को आधिकारिक रूप से जी20 की अध्यक्षता ग्रहण की थी। अगला G20 शिखर सम्मेलन 9-10 सितंबर 2023 को नई दिल्ली में होगा।

713

इसी सिलसिले में उदयपुर में रविवार शाम G20 प्रतिनिधियों की पहली शेरपा मीटिंग हुई। हालांकि आफिसियल मीटिंग 5 से 7 दिसंबर तक चलेगी। इसमें शामिल होने G20 देशों के प्रतिनिधि उदयपुर पहुंचे हैं।

813

बता दें कि G-20 का आयोजन अगले वर्ष 2023 में भारत में होना है। इसकी व्यवस्थाओं के लिए एक पूर्णकालिक शेरपा अमिताभ कांत को नियुक्त किया गया है। शेरपा आयोजन से संबंधित विभिन्न देशी और विदेशी एजेंसियों के बीच कॉर्डिनेशन का का करता है।

913

G-20 अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष(International Monetary Fund) और विश्व बैंक के प्रतिनिधियों के साथ 19 देशों तथा यूरोपीय संघ का एक अनौपचारिक समूह है।

1013

ग्रुप ऑफ ट्वेंटी (G20) दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं का एक समूह है। G20 सभी महाद्वीपों का प्रतिनिधित्व करता है। यह विश्व सकल घरेलू उत्पाद का 80%, वैश्विक व्यापार का 75% और विश्व की 60% आबादी का प्रतिनिधित्व करता है।

1113

हाल ही में विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs- MEA) ने घोषणा की कि भारत वर्ष 2023 में नई दिल्ली में G-20 समूह के नेताओं के शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा।

1213

गौरतलब है कि G20 दुनिया की प्रमुख विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का समूह है। इसमें अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया गणराज्य, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीय संघ शामिल हैं।

यह भी पढ़ें-पधारो म्हारे देश: राजस्थान में अपना स्वागत देख मंत्रमुग्ध हुए G20 शेरपा मीटिंग में पहुंचे विदेशी मेहमान

1313

 बता दें कि G20 शिखर सम्मेलन 15-16 नवंबर को इंडोनेशिया में हुआ था। G-20 अध्यक्षता 'एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य' की थीम से प्रेरित होकर एकता को और बढ़ावा देने के लिए काम करेगी। 

यह भी पढ़ें-G20 की अध्यक्षता के लिए दुनियाभर से मिलीं भारत को शुभकामनाएं, PM मोदी ने सबको tweet करके बोला थैंक्स

Read more Articles on