Asianet News Hindi

3 मई के बाद भी नहीं शुरू होगी रेल और हवाई सेवा! मंत्रियों ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पाएगा

First Published Apr 19, 2020, 5:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश में जारी कोरोना के कहर के बीच 3 मई तक लॉकडाउन लागू किया गया है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि 4 मई से आम लोगों का बड़ी राहत मिल सकती है। लेकिन इन सब के बीच खबर सामने आ रही है कि लॉकडाउन समाप्त होने के बाद भी रेल और हवाई सेवाओं को नहीं चालू किया जाएगा। शनिवार को मंत्री समूह की बैठक से मिल रही खबरों के मुताबिक लॉकडाउन का दूसरा फेज 3 मई को खत्म होने के बाद भी प्रतिबंध बरकरार रह सकता है। 

3 मई से रेल, प्लेन यात्रा शुरू होने के आसार नहीं
शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में कोविड-19 के लिए बनी GOM की पांचवी बैठक में इन विषयों पर रिपोर्ट तैयार करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास भेजी गई है। सूत्रों के मुताबिक इसमें कहा गया है कि रेल और हवाई सेवाएं 3 मई के बाद शुरू नहीं होंगी। 
 

3 मई से रेल, प्लेन यात्रा शुरू होने के आसार नहीं
शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व में कोविड-19 के लिए बनी GOM की पांचवी बैठक में इन विषयों पर रिपोर्ट तैयार करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास भेजी गई है। सूत्रों के मुताबिक इसमें कहा गया है कि रेल और हवाई सेवाएं 3 मई के बाद शुरू नहीं होंगी। 
 

ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक में कहा गया है कि इस बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय की राय और पीएम मोदी द्वारा हालात के आकलन के बाद ही अंतिम फैसला लिया जाएगा। 

ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक में कहा गया है कि इस बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय की राय और पीएम मोदी द्वारा हालात के आकलन के बाद ही अंतिम फैसला लिया जाएगा। 

ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन संभव नहीं
रिपोर्ट के मुताबिक ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ऐसी स्थिति में यात्री ट्रेनें शुरू करने के पक्ष में नहीं है। मंत्रियों का मानना है कि रेलगाड़ियों में सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन संभव नहीं है। सूत्रों के मुताबिक एअर इंडिया और प्राइवेट एयरलाइंस को तीन मई के बाद भी बुकिंग न करने को कहा गया है। 

ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन संभव नहीं
रिपोर्ट के मुताबिक ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ऐसी स्थिति में यात्री ट्रेनें शुरू करने के पक्ष में नहीं है। मंत्रियों का मानना है कि रेलगाड़ियों में सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन संभव नहीं है। सूत्रों के मुताबिक एअर इंडिया और प्राइवेट एयरलाइंस को तीन मई के बाद भी बुकिंग न करने को कहा गया है। 

इससे पहले ही नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने यह बात स्पष्ट कर दी है कि अभी तक घरेलू या अंतरराष्ट्रीय हवाई परिचालन खोलने पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। यानी की भारत में फिलहाल कोई फ्लाइट शुरू नहीं होने वाली है। 

इससे पहले ही नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने यह बात स्पष्ट कर दी है कि अभी तक घरेलू या अंतरराष्ट्रीय हवाई परिचालन खोलने पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। यानी की भारत में फिलहाल कोई फ्लाइट शुरू नहीं होने वाली है। 

26 दिनों से बंद हैं ट्रेनें और प्लेन
देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है और इसी दिन से ही ट्रेन, प्लेन, बस के अलावा आवागमन के सभी साधन बंद हैं। पहले लॉकडाउन 14 अप्रैल तक था, लेकिन कोरोना के लगातार बढ़ते मरीजों के बाद इसे 3 मई तक बढ़ा दिया गया है। 

26 दिनों से बंद हैं ट्रेनें और प्लेन
देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है और इसी दिन से ही ट्रेन, प्लेन, बस के अलावा आवागमन के सभी साधन बंद हैं। पहले लॉकडाउन 14 अप्रैल तक था, लेकिन कोरोना के लगातार बढ़ते मरीजों के बाद इसे 3 मई तक बढ़ा दिया गया है। 

शनिवार को हुई थी GoM की बैठक
शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक हुई थी। इस बैठक में लॉकडाउन की वजह से जनता के सामने आ रही परेशानियों को कैसे दूर किया जाए इस पर मंत्रियों ने चर्चा की थी। 

शनिवार को हुई थी GoM की बैठक
शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक हुई थी। इस बैठक में लॉकडाउन की वजह से जनता के सामने आ रही परेशानियों को कैसे दूर किया जाए इस पर मंत्रियों ने चर्चा की थी। 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के घर में हुए ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की इस मीटिंग में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, संतोष गंगवार, रमेश पोखरियाल, राम विलास पासवान, गिरिराज सिंह शामिल थे। मंत्रियों ने कोविड-19 पर मंत्रालयों से देश भर के हालात का फीडबैक लिया। 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के घर में हुए ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की इस मीटिंग में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, संतोष गंगवार, रमेश पोखरियाल, राम विलास पासवान, गिरिराज सिंह शामिल थे। मंत्रियों ने कोविड-19 पर मंत्रालयों से देश भर के हालात का फीडबैक लिया। 

25 मार्च से जारी है लॉकडाउन 
कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए देश में 25 मार्च से लॉकडाउन जारी है। पीएम मोदी ने 24 मार्च को लॉकडाउन का ऐलान करते हुए कहा था कि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए 21 दिनों का लॉकडाउन जारी किया जाता है। इस दौरान सारी सेवाएं बंद रहेंगी। पहले चरण में जारी लॉकडाउन की मियाद 14 अप्रैल को पूरी हो रही थी। 

25 मार्च से जारी है लॉकडाउन 
कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए देश में 25 मार्च से लॉकडाउन जारी है। पीएम मोदी ने 24 मार्च को लॉकडाउन का ऐलान करते हुए कहा था कि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए 21 दिनों का लॉकडाउन जारी किया जाता है। इस दौरान सारी सेवाएं बंद रहेंगी। पहले चरण में जारी लॉकडाउन की मियाद 14 अप्रैल को पूरी हो रही थी। 

देश में कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा था। साथ ही राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पीएम मोदी से लॉकडाउन बढ़ाने की मांग की। जिसके बाद पीएम मोदी ने 14 अप्रैल को 19 दिनों तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया। अब दूसरे चरण में जारी लॉकडाउन की समय सीमा 3 मई को समाप्त हो रही है। 

देश में कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा था। साथ ही राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पीएम मोदी से लॉकडाउन बढ़ाने की मांग की। जिसके बाद पीएम मोदी ने 14 अप्रैल को 19 दिनों तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया। अब दूसरे चरण में जारी लॉकडाउन की समय सीमा 3 मई को समाप्त हो रही है। 

देश में कोरोना की स्थिति
देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 16 हजार के पार पहुंच गया है। जबकि अब तक 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के संक्रमण से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित है। यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 3648 है। जबकि यहां अब तक 211 लोगों की मौत हो चुकी है। 

देश में कोरोना की स्थिति
देश में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 16 हजार के पार पहुंच गया है। जबकि अब तक 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के संक्रमण से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित है। यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 3648 है। जबकि यहां अब तक 211 लोगों की मौत हो चुकी है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios