अस्पताल में नंगे घूम रहे थे तब्लीगी जमात के लोग, बेशर्मी पर योगी की पुलिस ने लिया एक्शन

First Published 3, Apr 2020, 4:02 PM

गाजियाबाद(Uttar Pradesh ). दक्षिणी दिल्ली में आयोजित तब्लीकी जमात मकरज में शामिल लोगों में कोरोना की पुष्टि होने के बाद से वहां मौजूद लोगों को ढूंढ कर उन्हें क्वारंटाइन कराया जा रहा है। गाजियाबाद से इस जमात में शामिल होने गए लोगों को वहीं के एक अस्पताल में क्वारंटाइन कराया गया है। अस्पताल के मेडिकल स्टाफ ने उन जमातियों की शिकायत आलाधिकारियों से करते हुए उनके खिलाफ मामला दर्ज  कराया है। नर्सों का आरोप है कि ये जमाती उनके सामने अश्लील कमेंट्स करते हैं और गलत इशारे करते हैं। 
 

एमएमजी जिला अस्पताल की नर्सों की तहरीर पर कई जमातियों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक अस्पताल प्रशासन ने शिकायत की थी कि अस्पताल में आइसोलेट व क्वारंटाइन किए गए जमाती नर्सों के सामने अश्लील हरकत कर रहे थे। जिसके बाद नर्सों ने इसकी शिकायत अस्पताल प्रशासन से करते हुए उनका इलाज करने से इंकार कर दिया था।

एमएमजी जिला अस्पताल की नर्सों की तहरीर पर कई जमातियों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक अस्पताल प्रशासन ने शिकायत की थी कि अस्पताल में आइसोलेट व क्वारंटाइन किए गए जमाती नर्सों के सामने अश्लील हरकत कर रहे थे। जिसके बाद नर्सों ने इसकी शिकायत अस्पताल प्रशासन से करते हुए उनका इलाज करने से इंकार कर दिया था।

नर्सों ने अस्पताल प्रशासन को दिए गए शिकायती पत्र में कहा था कि जमाती उनके सामने अश्लील इशारे कर रहे थे। वह मोबाइल में अश्लील गाने सुनते हैं। वार्ड में बिना पैंट के घूमते हैं। रोकने के बावजूद एक दूसरे के बगल बैठ कर बातें करते हैं। ऐसे में वह उनका इलाज नहीं करेंगी।

नर्सों ने अस्पताल प्रशासन को दिए गए शिकायती पत्र में कहा था कि जमाती उनके सामने अश्लील इशारे कर रहे थे। वह मोबाइल में अश्लील गाने सुनते हैं। वार्ड में बिना पैंट के घूमते हैं। रोकने के बावजूद एक दूसरे के बगल बैठ कर बातें करते हैं। ऐसे में वह उनका इलाज नहीं करेंगी।

अस्पताल प्रशासन ने इस बात की जानकारी स्थानीय पुलिस थाने में दी। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच की तो शिकायत के काई प्रमाण सही पाए गए। जिसके बाद पुलिस ने कई जमातियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया है।

अस्पताल प्रशासन ने इस बात की जानकारी स्थानीय पुलिस थाने में दी। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच की तो शिकायत के काई प्रमाण सही पाए गए। जिसके बाद पुलिस ने कई जमातियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया है।

सीएमओ डॉ. एनके गुप्ता के मुताबिक, बृहस्पतिवार शाम को निजामुद्दीन तब्लीगी जमात में शामिल हुए गाजियाबाद के 177 लोगों को तलाशा गया था। इनमें पांच दिल्ली में और एक बरेली में भर्ती कराया गया है। इसी के साथ पांच जमाती एमएमजी अस्पताल, छह संयुक्त जिला चिकित्सालय, सूर्या अस्पताल व आरकेजीआइटी में 35-35 और सुंदरदीप आयुर्वेदिक अस्पताल में 90 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है।

सीएमओ डॉ. एनके गुप्ता के मुताबिक, बृहस्पतिवार शाम को निजामुद्दीन तब्लीगी जमात में शामिल हुए गाजियाबाद के 177 लोगों को तलाशा गया था। इनमें पांच दिल्ली में और एक बरेली में भर्ती कराया गया है। इसी के साथ पांच जमाती एमएमजी अस्पताल, छह संयुक्त जिला चिकित्सालय, सूर्या अस्पताल व आरकेजीआइटी में 35-35 और सुंदरदीप आयुर्वेदिक अस्पताल में 90 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है।

एसपी क्राइम प्रकाश कुमार ने बताया कि जमातियों को पांच स्थानों पर क्वारंटाइन कराया गया है। सभी जगह की सुरक्षा की जिम्मेदारी संबंधित एसएचओ की है। निर्देश देकर यहां स्थायी रूप से फोर्स की तैनाती की गई है। सुंदरदीप पर एक दारोगा व दो सिपाही तैनात हैं।

एसपी क्राइम प्रकाश कुमार ने बताया कि जमातियों को पांच स्थानों पर क्वारंटाइन कराया गया है। सभी जगह की सुरक्षा की जिम्मेदारी संबंधित एसएचओ की है। निर्देश देकर यहां स्थायी रूप से फोर्स की तैनाती की गई है। सुंदरदीप पर एक दारोगा व दो सिपाही तैनात हैं।

loader