भारत की जमीन पर अब तक के सबसे बड़े विमान हादसे, पलभर में जलकर राख हो गए सैंकड़ों लोग

First Published 7, Aug 2020, 11:15 PM

हटके डेस्क: भारत के केरल में 7 अगस्त 2020 को शाम में अचानक एयर इण्डिया की फ्लाइट   दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस  हादसे में पायलट और को पायलट सहित 7 यात्रियों के मारे जाने की खबर है। ये प्लेन वंदे मातरम् के तहत दुबई में फंसे भारतीयों को लेकर केरल आया था। लेकिन लैंडिंग के दौरान ये हादसा हो गया। आपको बता दें कि भारत को एशिया में अन्य देशों की तुलना में होने वाले विमान हादसों के कम्पेरिजन में अधिक सुरक्षित माना जाता है। फिर भी कई बार दुर्घटनाएं तो हो ही जाती है। आज हम आपको भारत के इतिहास में दर्ज कुछ प्रमुख विमान दुर्घटनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं। 

<p><strong>1 जनवरी 1978: </strong>नए साल के पहले ही दिन मुंबई एयरपोर्ट से उड़ान भरने के तुरंत बाद एयर इण्डिया का बोईंग 747 धमाके के साथ समुद्र में जा गिरा था। इस हादसे में प्लेन में सवार सभी 213 लोगों की मौत हो गई थी। &nbsp;<br />
&nbsp;</p>

1 जनवरी 1978: नए साल के पहले ही दिन मुंबई एयरपोर्ट से उड़ान भरने के तुरंत बाद एयर इण्डिया का बोईंग 747 धमाके के साथ समुद्र में जा गिरा था। इस हादसे में प्लेन में सवार सभी 213 लोगों की मौत हो गई थी।  
 

<p><strong>14 फरवरी 1990:</strong> वैलेंटाइन्स डे के दिन इंडिया &nbsp;एयरलाइन्स का एयरबस 320 विमान बंगलोर हवाई अड्डे पर उतरने के समय रनवे से 400 मीटर पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में 92 लोग मारे गए थे।&nbsp;</p>

14 फरवरी 1990: वैलेंटाइन्स डे के दिन इंडिया  एयरलाइन्स का एयरबस 320 विमान बंगलोर हवाई अड्डे पर उतरने के समय रनवे से 400 मीटर पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में 92 लोग मारे गए थे। 

<p><strong>16 अगस्त 1991: </strong>ये हादसा इंडियन एयरलाइन्स में हुआ था। जब बोइंग 737-200 इम्फाल हवाई अड्डे से 30 किलोमीटर दूर अज्ञात कारणों से दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में विमान पर सवार सभी 69 लोगों की मौत हो गई थी।&nbsp;</p>

16 अगस्त 1991: ये हादसा इंडियन एयरलाइन्स में हुआ था। जब बोइंग 737-200 इम्फाल हवाई अड्डे से 30 किलोमीटर दूर अज्ञात कारणों से दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में विमान पर सवार सभी 69 लोगों की मौत हो गई थी। 

<p><strong>26 अप्रैल 1993: </strong>औरंगाबाद में उड़ान भरने की विफल कोशिश के बाद इंडियन एयरलाइन्स का एक बोइंग 737-200 विमान हवाई अड्डे के सामने बिजली के तार से टकरा कर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में पांच कर्मी दल और 52 यात्रियों की मौत हो गई थी। &nbsp;</p>

26 अप्रैल 1993: औरंगाबाद में उड़ान भरने की विफल कोशिश के बाद इंडियन एयरलाइन्स का एक बोइंग 737-200 विमान हवाई अड्डे के सामने बिजली के तार से टकरा कर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में पांच कर्मी दल और 52 यात्रियों की मौत हो गई थी।  

<p><strong>12 नवम्बर1996: </strong>ये हादसा बेहद अजीब था क्यूंकि ये आसमान में हुआ था। नई दिल्ली में हवाई अड्डे के निकट 4000 मीटर की ऊंचाई पर सउदी एयरलाइंस के बोइंग 747 और कज़ाख़स्तान के इल्यूशिम आईएल 76 की टक्कर हो गई थी। बोइंग पर सवार 312 और इल्यूशिन पर सवार 37 लोगों की मौत हो गई थी।&nbsp;</p>

12 नवम्बर1996: ये हादसा बेहद अजीब था क्यूंकि ये आसमान में हुआ था। नई दिल्ली में हवाई अड्डे के निकट 4000 मीटर की ऊंचाई पर सउदी एयरलाइंस के बोइंग 747 और कज़ाख़स्तान के इल्यूशिम आईएल 76 की टक्कर हो गई थी। बोइंग पर सवार 312 और इल्यूशिन पर सवार 37 लोगों की मौत हो गई थी। 

<p><strong>17 जुलाई 2000: </strong>अलायंस एयर का एक बोइंग 737-200 पटना में लैंडिग के दौरान हवाई अड्डे से दो किलोमीटर दूर एक रिहायशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में &nbsp;52 में 45 यात्रियों और छह विमानकर्मियों की मौत हो गई थी। जबकि प्लेन गिरने से &nbsp;ज़मीन पर पांच लोगों की मौत हुई थी।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

17 जुलाई 2000: अलायंस एयर का एक बोइंग 737-200 पटना में लैंडिग के दौरान हवाई अड्डे से दो किलोमीटर दूर एक रिहायशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में  52 में 45 यात्रियों और छह विमानकर्मियों की मौत हो गई थी। जबकि प्लेन गिरने से  ज़मीन पर पांच लोगों की मौत हुई थी। 
 

loader