Asianet News Hindi

क्या जानबूझकर कराया गया था पाकिस्तान में प्लेन क्रैश, दर्दनाक Photos देख पता चलेगा कि कैसा था हादसा

First Published May 22, 2020, 8:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कराची. पाकिस्तान का प्लेन लैंडिंग से एक मिनट पहले कराची के रिहाइशी इलाके में क्रैश हो गया। विमान में 91 यात्री और 7 क्रू मेंबर सवार थे। यात्रियों में 51 पुरुष, 31 महिलाएं और 9 बच्चे शामिल थे। जिओ न्यूज के मुताबिक, अब तक 35 शव निकाले जा चुके हैं। विमान के पायलट की एयर ट्रैफिक कंट्रोल से बातचीत का आखिरी ऑडियो सामने आया है, जिसमें पायलट ने कहा था कि इंजन फेल हो गया है। अधिकारियों ने लैंडिंग के लिए दोनों रनवे खाली करवा लिए थे, फिर भी पायलट ने विमान घुमा दिया। एटीसी का कहना है कि पायलट ने किस वजह से ऐसा किया, यह अभी जांच का विषय है।

पीआईए का क्रैश होने वाला विमान 15 साल पुराना था। कराची एयरपोर्ट पर उतरते वक्त हादसा हुआ।

पीआईए का क्रैश होने वाला विमान 15 साल पुराना था। कराची एयरपोर्ट पर उतरते वक्त हादसा हुआ।

प्लेन मॉडल कॉलोनी के जिन्ना गार्डन इलाके में गिरा। प्लेन 15 घरों को नुकसान पहुंचाते हुए क्रैश हुआ। 

प्लेन मॉडल कॉलोनी के जिन्ना गार्डन इलाके में गिरा। प्लेन 15 घरों को नुकसान पहुंचाते हुए क्रैश हुआ। 

प्लेन का पिछला हिस्सा पहले जमीन से टकराया। इसके चलते आगे बैठे लोग बच गए। हालांकि, उन्हें गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

प्लेन का पिछला हिस्सा पहले जमीन से टकराया। इसके चलते आगे बैठे लोग बच गए। हालांकि, उन्हें गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

प्लेन क्रैश से कई मकानों में आग लग गई और पूरा इलाका धुएं से भर गया। 

प्लेन क्रैश से कई मकानों में आग लग गई और पूरा इलाका धुएं से भर गया। 

पाकिस्तान की सिविल एविएशन अथॉरिटी के मुताबिक, पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को इंजन फेल हो जाने के बारे में बताया, लेकिन लैंडिंग से ठीक एक मिनट पहले संपर्क टूट गया।

पाकिस्तान की सिविल एविएशन अथॉरिटी के मुताबिक, पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को इंजन फेल हो जाने के बारे में बताया, लेकिन लैंडिंग से ठीक एक मिनट पहले संपर्क टूट गया।

विमान के पायलट की एयर ट्रैफिक कंट्रोल से बातचीत का आखिरी ऑडियो सामने आया है। इसमें पायलट ने कहा था कि इंजन फेल हो गया है। 

विमान के पायलट की एयर ट्रैफिक कंट्रोल से बातचीत का आखिरी ऑडियो सामने आया है। इसमें पायलट ने कहा था कि इंजन फेल हो गया है। 

अधिकारियों ने लैंडिंग के लिए दोनों रनवे खाली करवा लिए थे, लेकिन पायलट ने विमान घुमा दिया। एटीसी का कहना है कि पायलट ने किस वजह से ऐसा किया, यह अभी जांच का विषय है।
 

अधिकारियों ने लैंडिंग के लिए दोनों रनवे खाली करवा लिए थे, लेकिन पायलट ने विमान घुमा दिया। एटीसी का कहना है कि पायलट ने किस वजह से ऐसा किया, यह अभी जांच का विषय है।
 

चश्मदीद 1-  मैं छत पर खड़ा था, अजीब सी आवाज सुनाई थी, विमान के आगे का हिस्सा ऊपर हो गया था...अचानक छत से टकराया और हर तरफ धुएं का गुबार छा गया।
 

चश्मदीद 1-  मैं छत पर खड़ा था, अजीब सी आवाज सुनाई थी, विमान के आगे का हिस्सा ऊपर हो गया था...अचानक छत से टकराया और हर तरफ धुएं का गुबार छा गया।
 

चश्मदीद 2- गब्बार नाम के शख्श ने बताया कि वो छत पर काम कर रहा था। लैंडिग के वक्त विमान के आगे का हिस्सा डाउन होता है, लेकिन आज वो हिस्सा हवा में दिखाई दिया।

चश्मदीद 2- गब्बार नाम के शख्श ने बताया कि वो छत पर काम कर रहा था। लैंडिग के वक्त विमान के आगे का हिस्सा डाउन होता है, लेकिन आज वो हिस्सा हवा में दिखाई दिया।

चश्मदीद 3- तीसरे चश्मदीद ने बताया कि विमान को देखकर लग रहा था कि पायलट चाह रहा था कि विमान आवासीय कॉलोनी से दूर ले जाकर लैंड कराए, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अचानक विमान के इंजन में तेज धमाका हुआ और धड़ाम से जमीन पर जा गिरा।
 

चश्मदीद 3- तीसरे चश्मदीद ने बताया कि विमान को देखकर लग रहा था कि पायलट चाह रहा था कि विमान आवासीय कॉलोनी से दूर ले जाकर लैंड कराए, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अचानक विमान के इंजन में तेज धमाका हुआ और धड़ाम से जमीन पर जा गिरा।
 

विमान ने दोपहर डेढ़ बजे लाहौर से कराची के लिए उड़ान भरी थी और कराची एयरपोर्ट के पास रिहायशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। रिहायशी इलाका होने की वजह से अफरातफरी का माहौल है।

विमान ने दोपहर डेढ़ बजे लाहौर से कराची के लिए उड़ान भरी थी और कराची एयरपोर्ट के पास रिहायशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। रिहायशी इलाका होने की वजह से अफरातफरी का माहौल है।

दुर्घटनास्थल पर धुएं का गुबार उठता दिखाई दे रहा था। बचाव अधिकारी घायलों को अस्तपाल पहुंचा रहे हैं। विमान दुर्घटना के कारण कराची के सभी बड़े अस्पतालों में आपातकाल घोषित कर दिया गया है।
 

दुर्घटनास्थल पर धुएं का गुबार उठता दिखाई दे रहा था। बचाव अधिकारी घायलों को अस्तपाल पहुंचा रहे हैं। विमान दुर्घटना के कारण कराची के सभी बड़े अस्पतालों में आपातकाल घोषित कर दिया गया है।
 

पाकिस्तानी सेना की मीडिया विंग इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने ट्वीट कर बताया कि पाकिस्तान सेना के हेलीकॉप्टर राहत-बचाव के लिए पहुंच गए हैं। सेना की क्विक एक्शन टीम और पाकिस्तानी सैनिक नागरिक के साथ राहत और बचाव के प्रयासों के लिए घटना स्थल पर पहुंचे हैं। विमान जिन्ना गार्डन के पास गिरा और धमाके की आवाज दूर-दूर तक सुनाई दी।

पाकिस्तानी सेना की मीडिया विंग इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने ट्वीट कर बताया कि पाकिस्तान सेना के हेलीकॉप्टर राहत-बचाव के लिए पहुंच गए हैं। सेना की क्विक एक्शन टीम और पाकिस्तानी सैनिक नागरिक के साथ राहत और बचाव के प्रयासों के लिए घटना स्थल पर पहुंचे हैं। विमान जिन्ना गार्डन के पास गिरा और धमाके की आवाज दूर-दूर तक सुनाई दी।

पीआईएपीआईए के प्रवक्ता ने जियो न्यूज से कहा- प्लेन 15 साल पुराना विमान था। इसके लैंडिंग गियर में परेशानी आई। पायलट का नाम सज्जाद गुल है। एक को पायलट था। तीन एयर होस्टेस थीं। हम ये मानकर चल रहे हैं कि किसी का बचना बेहद मुश्किल है।
 

पीआईएपीआईए के प्रवक्ता ने जियो न्यूज से कहा- प्लेन 15 साल पुराना विमान था। इसके लैंडिंग गियर में परेशानी आई। पायलट का नाम सज्जाद गुल है। एक को पायलट था। तीन एयर होस्टेस थीं। हम ये मानकर चल रहे हैं कि किसी का बचना बेहद मुश्किल है।
 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने घटना पर दुख जताया है। उन्होंने कहा, पीआईए सीईओ अर्शद मलिक के साथ संपर्क में हूं। वे कराची के लिए रेस्क्यू और रिलीफ टीम के साथ निकले हैं। मामले की जांच के लिए आदेश दे दिए गए हैं। मरने वालों के प्रार्थना और शोक व्यक्त करता हूं।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने घटना पर दुख जताया है। उन्होंने कहा, पीआईए सीईओ अर्शद मलिक के साथ संपर्क में हूं। वे कराची के लिए रेस्क्यू और रिलीफ टीम के साथ निकले हैं। मामले की जांच के लिए आदेश दे दिए गए हैं। मरने वालों के प्रार्थना और शोक व्यक्त करता हूं।

पायलट ने प्लेन को रिहाइशी इलाके से दूर ले जाने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हो सका।
 

पायलट ने प्लेन को रिहाइशी इलाके से दूर ले जाने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हो सका।
 

पायलट का नाम सज्जाद गुल है। चश्मदीदों का कहना है कि पायलट ने प्लेन को रिहाइशी इलाके से दूर ले जाने की कोशिश की। इसी वजह से कम घरों को नुकसान पहुंचा।

पायलट का नाम सज्जाद गुल है। चश्मदीदों का कहना है कि पायलट ने प्लेन को रिहाइशी इलाके से दूर ले जाने की कोशिश की। इसी वजह से कम घरों को नुकसान पहुंचा।

प्लेन में एक को-पायलट और तीन एयर होस्टेस भी थीं। पीआईए के प्रवक्ता ने जियो न्यूज से कहा- यह प्लेन ए-320 था और 15 साल पुराना था।
 

प्लेन में एक को-पायलट और तीन एयर होस्टेस भी थीं। पीआईए के प्रवक्ता ने जियो न्यूज से कहा- यह प्लेन ए-320 था और 15 साल पुराना था।
 

जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन्ना इंटरनेशनल एयरपोर्ट के काफी पास तक दो से तीन मंजिला मकान बने हुए हैं। जबकि एयरपोर्ट के इतने नजदीक घर बनाने की इजाजत नहीं होनी थी। 

जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन्ना इंटरनेशनल एयरपोर्ट के काफी पास तक दो से तीन मंजिला मकान बने हुए हैं। जबकि एयरपोर्ट के इतने नजदीक घर बनाने की इजाजत नहीं होनी थी। 

अगर एयरपोर्ट के पास रिहाइशी इलाके की इजाजत नहीं होती तो शुक्रवार को हुए इस हादसे की वजह से घरों में आग नहीं लगती। 
 

अगर एयरपोर्ट के पास रिहाइशी इलाके की इजाजत नहीं होती तो शुक्रवार को हुए इस हादसे की वजह से घरों में आग नहीं लगती। 
 

नागर विमानन प्राधिकरण (सीएए) ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से कई हफ्तों के लॉकडाउन के बाद कुछ दिनों पहले ही सीमित मात्रा में घरेलू उड़ानों की इजाजत दी थी। 

नागर विमानन प्राधिकरण (सीएए) ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से कई हफ्तों के लॉकडाउन के बाद कुछ दिनों पहले ही सीमित मात्रा में घरेलू उड़ानों की इजाजत दी थी। 

पाकिस्तानी न्यूज चैनल के मुताबिक, जिस जगह यह दुर्घटना हुई वहां कुछ घरों और कारों को नुकसान पहुंचा है। बचावकर्मी और पुलिस अधिकारियों ने पुष्टि की है। 

पाकिस्तानी न्यूज चैनल के मुताबिक, जिस जगह यह दुर्घटना हुई वहां कुछ घरों और कारों को नुकसान पहुंचा है। बचावकर्मी और पुलिस अधिकारियों ने पुष्टि की है। 

पाकिस्तान में 7 दिसंबर 2016 के बाद यह पहला बड़ा विमान हादसा है जब चित्राल से इस्लामाबाद आ रहा एक पीआईए एटीआर-42 विमान बीच में ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में विमान में सवार सभी 48 लोगों की मौत हो गई थी।

पाकिस्तान में 7 दिसंबर 2016 के बाद यह पहला बड़ा विमान हादसा है जब चित्राल से इस्लामाबाद आ रहा एक पीआईए एटीआर-42 विमान बीच में ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में विमान में सवार सभी 48 लोगों की मौत हो गई थी।

मृतकों में गायक और ईसाई धर्म के प्रचारक जुनेद जमशेद भी शामिल थे। तस्वीरों में घटनास्थल से धुएं का गुबार उठता नजर आ रहा है। निवासियों की मदद के लिये एंबुलेंस और राहतकर्मी मौके पर मौजूद थे।

मृतकों में गायक और ईसाई धर्म के प्रचारक जुनेद जमशेद भी शामिल थे। तस्वीरों में घटनास्थल से धुएं का गुबार उठता नजर आ रहा है। निवासियों की मदद के लिये एंबुलेंस और राहतकर्मी मौके पर मौजूद थे।

प्रधानमंत्री ने कराची में हुए इस विमान हादसे पर ट्वीट किया, पाकिस्तान में विमान हादसे के कारण लोगों के मारे जाने से गहरा दुख हुआ। हमारी संवेदना मृतक के परिजनों के साथ है और हम घायलों के जल्द-से-जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं।

प्रधानमंत्री ने कराची में हुए इस विमान हादसे पर ट्वीट किया, पाकिस्तान में विमान हादसे के कारण लोगों के मारे जाने से गहरा दुख हुआ। हमारी संवेदना मृतक के परिजनों के साथ है और हम घायलों के जल्द-से-जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं।

जहां पर हादसा हुआ, वहां का एरियल व्यू। 

जहां पर हादसा हुआ, वहां का एरियल व्यू। 

छतों के ऊपर से फायर ब्रिगेड के कर्मचारी आग पर काबू पा रहे थे। 

छतों के ऊपर से फायर ब्रिगेड के कर्मचारी आग पर काबू पा रहे थे। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios