Asianet News Hindi

अगर ज्यादा नींबू पानी पीते हैं तो हो जाएं सावधान, हो सकती हैं ये 5 परेशानियां

 गर्मी में ठंडा नींबू पानी हर किसी को रास आता है। ये गर्मी से राहत तो दिलाता ही है, साथ में लोगों को तरोताजा भी महसूस कराता है। इसमें  विटामिन-सी, पोटैशियम और फाइबर पाए जाते हैं जो शरीर को सेहतमंद रखते हैं। 

Know the demerits of drinking excessive lemon water kpv
Author
Bhopal, First Published Jun 17, 2021, 6:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हेल्थ डेस्क।  गर्मी में ठंडा नींबू पानी हर किसी को रास आता है। ये गर्मी से राहत तो दिलाता ही है, साथ में लोगों को तरोताजा भी महसूस कराता है। इसमें  विटामिन-सी, पोटैशियम और फाइबर पाए जाते हैं जो शरीर को सेहतमंद रखते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी हो सकता है। विशेषज्ञों का मानना है कि लोगों को दिन भर में 3 गिलास से ज्यादा नींबू पानी नहीं पीना चाहिए। इससे ज्यादा पीने से परेशानियां बढ़ सकती हैं।
 

1 पेट की दिक्कतें
पाचन संबंधी दिक्कतों को दूर करने में नींबू असरदार होता है। लेकिन जरूरत से ज्यादा इसके सेवन से पेट खराब होने का डर रहता है। इसके अलावा, ज्यादा नींबू पानी पीने से सीने में जलन और अल्सर का खतरा भी बढ़ता है।

2 दांतों के लिए नुकसान दायक
नींबू में एसिडिक तत्व की अधिकता होती है, ऐसे में इसके अधिक इस्तेमाल से लोगों की दांतें खराब हो सकती हैं। एसिड के संपर्क में आने से दांतों की तामचीनी खत्म हो जाती है। ऐसे में जो लोग दांतों से संबंधित दिक्कतों से जूझ रहे हैं उन्हें नींबू पानी का अधिक इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

3 हड्डियों को हो सकता है नुकसान
 बड़ी मात्रा में नींबू का रस लेते हैं, तो इसका आपकी हड्डियों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।  नींबू को धीरे-धीरे जोड़ों में तेल को अवशोषित करने के लिए कहा जाता है जो भविष्य की तारीख में हड्डी की समस्याओं का कारण बन सकता है।

4 माइग्रेन का दर्द
स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि खट्टे फल या ड्रिंक्स लोगों की माइग्रेन की परेशानी ज्यादा हो सकती है। बताया जाता है कि खट्टे फूड्स में पाया जाने वाला एक तत्व टायरामाइन होता है जो सिर दर्द दे सकता है। यही कारण है कि हेल्थ एक्सपर्ट्स माइग्रेन के मरीजों को इसके सेवन से बचने की सलाह दी जाती है।

5 हार्टबर्न की समस्या हो सकती है
रोजाना निम्बू पानी पीने से हार्टबर्न की समस्या हो सकती है. खासकर अगर आप नियमित रूप से हार्टबर्न का अनुभव करते हैं। हार्टबर्न, जिसे एसिड रिफ्लक्स के रूप में भी जाना जाता है, जब अन्नप्रणाली स्फिंक्टर ठीक से काम करने में विफल रहता है, पेट में एसिड को रिफ्लक्स नामक प्रक्रिया में घुटकी तक वापस जाने की अनुमति देता है. हार्टबर्न के सामान्य लक्षणों में दर्द और सीने में गंभीर जलन शामिल हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios