Asianet News Hindi

Lockdown: चिंता और तनाव को दूर करते हैं पेट्स, इनके साथ से होंगे ये 5 फायदे

कोरोना वायरस की बीमारी फैलने की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। इसमें ज्यादातर लोग चिंता, तनाव और डिप्रेशन जैसी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं। 

Lockdown: Pets remove anxiety and stress, these are the 5 benefits of having a pet MJA
Author
New Delhi, First Published Apr 11, 2020, 3:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लाइफस्टाइल डेस्क। कोरोना वायरस की बीमारी फैलने की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। इसमें ज्यादातर लोग चिंता, तनाव और डिप्रेशन जैसी मानसिक समस्याओं से जूझ रहे हैं। कामकाज बंद होने और लगातार घर में समय बिताने से तनाव होना स्वाभाविक है। बहुत से लोग भविष्य को लेकर भी चिंतित रहने लगे हैं। उनके कई ऐसे जरूरी काम रुक गए हैं, जिसके लिए दूसरे शहरों में जाना जरूरी है। चिंता और डिप्रेशन से बचने के लिए लोग तरहृ-तरह के उपाय करते हैं। लेकिन जिन लोगों के घरों में पेट्स हैं, वे उनके साथ समय गुजार कर बेहतर महसूस कर सकते हैं। कई मनोवैज्ञानिक अध्ययनों में यह पाया गया है कि जो लोग पालतू पशुओं के साथ समय बिताते हैं, उनमें पॉजिटिविटी ज्यादा होती है। वे जल्दी तनाव, चिंता और डिप्रेशन के शिकार नहीं होते। जानें, पेट्स के साथ समय बिताने से क्या होते हैं फायदे।

1. एक्सरसाइज में होते हैं मददगार
कई साइकोलॉजिस्ट्स का कहना है कि पेट्स एक्सरसाइज में मददगार होते हैं। जो लोग डॉग पालते हैं, उन्हें एक्सरसाइज के लिए अलग से ज्यादा कुछ नहीं करना पड़ता। सामान्य दिनों में तो लोग उन्हें साथ लेकर घूमने निकलते हैं, लेकिन लॉकडाउन में भी आप उनके साथ खेलते हुए, उन्हें घर में इधर-उधर टहलाते हुए बेहतर महसूस कर सकते हैं। 

2. बेहतर साथी साबित होते हैं
कोई भी पालतू पशु आपका बेहतर साथी होता है। वह भावनात्मक रूप से आपसे जुड़ा होता है। उसके साथ रहते हुए आप अलगाव, अकेलापन और डिप्रेशन जैसी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। जब आप किसी पालतू जानवर का ख्याल रखते हैं, तो आपका ध्यान अपनी समस्याओं की तरफ से हट जाता है। जो लोग कु्त्ता या बिल्ली पालते हैं, देखा गया है कि वे उनसे बातचीत भी करते हैं। पालतू जानवरों से लोग इमोशनली काफी जुड़ाव महसूस करते हैं। इससे उन्हें ज्यादा मानसिक समस्याएं नहीं होतीं।

3. चिंता को दूर करने में होते हैं मददगार
जब आप अपने पालतू जानवर के साथ कुछ समय बितते हैं, उसे सहलाते हैं, उसे दुलारते हैं, तो आपकी चिंता अपने आप कम होने लगती है। कुत्ते आपने मालिकों से बहुत गहराई से जुड़े होते हैं। वे सुख-दुख की भावानाओं को समझ सकते हैं। आपको उदास देख कर वे आपके पास आकर बैठ जाएंगे। उनके साथ आप पुरानी दुख भरी बातों और आने वाले दिनों से जुड़ी चिंता भूल जाएंगे। 

4. पेट्स के साथ समय का पता नहीं चलता
अगर आपके पास पेट्स हों तो उनका ख्याल रखने में, उन्हें नहलाने-धोने, उन्हें खाना खिलाने और उनके साथ खेलने में आपको समय का पता नहीं चलता। आपका अच्छा-खासा समय उनके साथ बीत जाता है। पहले आप उनके साथ कम समय बिताते थे। अब जब आपके पास काफी समय है, अपने पेट्स के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं। इससे आपको सच्ची खुशी महसूस होगी और आपका सेल्फ कॉन्फिडेंस भी बढ़ेगा।

5. पेट्स आपसे लड़ते नहीं
आपका करीबी से करीबी दोस्त हो या रिश्तेदार, पत्नी हो, गर्लफ्रेंड या पेरेन्ट्स, उनसे जरूर कभी न कभी कोई कड़वाहट भरी बात हो ही जाती है। कई ऐसी परिस्थितियां आती हैं, जब आप करीबी दोस्तों से उलझ पड़ते हैं और आपकी दोस्ती टूट जाती है। लेकिन पेट्स के साथ ऐसा नहीं है। आप भले ही उनके साथ बुरा बर्ताव करें, लेकिन वे आपके साथ कुछ बुरा नहीं कर सकते। ऐसी बात नहीं कि उन्हें दुख नहीं होता है। उन्हें भी उतना ही दुख होता है, जितना किसी इंसान को, लेकिन प्रकृति ने उन्हें ऐसा बनाया है कि वे किसी की बुराई नहीं कर सकते। जब आप प्यार से उन्हें सहलाते हैं तो वे पहले की तरह ही खुश हो जाते हैं।   

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios