Asianet News Hindi

Assam Assembly Election: 3 चरणों 27 मार्च,1 और 6 अप्रैल को मतदान होगा, 2 मई को आएंगे नतीजे

असम में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव होगा। चुनाव आयोग ने शुक्रवार को असम विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया। असम में तीन चरणों 27 मार्च, 1 अप्रैल और 6 अप्रैल में चुनाव होगा। वहीं, नतीजे 2 मई को आएंगे। असम में अभी भाजपा की सरकार है। 126 सीटों वाले राज्य में कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल है।  

Assam Assembly election date and schedule Election Commission news and update KPP
Author
New Delhi, First Published Feb 26, 2021, 3:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली.  असम में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव होगा। चुनाव आयोग ने शुक्रवार को असम विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया। असम में तीन चरणों 27 मार्च, 1 अप्रैल और 6 अप्रैल में चुनाव होगा। वहीं, नतीजे 2 मई को आएंगे। असम में अभी भाजपा की सरकार है। 126 सीटों वाले राज्य में कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल है।  

असम में तीन चरणों में चुनाव

चरण मतदान तारीख सीटें
पहला   27 मार्च   47
दूसरा 1 अप्रैल 39
तीसरा 6 अप्रैल 40

असम: 3 चरण में मतदान 

पहला चरण
अधिसूचना: 2 मार्च
नामांकन: 9 मार्च
स्क्रूटनी: 10 मार्च
नाम वापसी: 12 मार्च
मतदान: 27 मार्च

दूसरा चरण
अधिसूचना: 5 मार्च
नामांकन: 10 मार्च
स्क्रूटनी: 16 मार्च
नाम वापसी: 17 मार्च
मतदान: 1 अप्रैल

तीसरा चरण
अधिसूचना: 12 मार्च
नामांकन: 19 मार्च
स्क्रूटनी: 20 मार्च
नाम वापसी: 22 मार्च
मतदान: 6 अप्रैल
           
कांग्रेस 97 सीटों पर लड़ सकती है चुनाव
कांग्रेस इस बार 97 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। बाकी सीटें कांग्रेस अपनी सहयोगी पार्टियों ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF), सीपीआई, सीपीआई (एमएल) और आंचलिक गंगा मोर्चा  के लिए छोड़ सकती है। 

असम : विधानसभा चुनाव 2016 के नतीजे
विधानसभा चुनाव में भाजपा को अकेले 60 सीटों पर जीत मिली थी। हालांकि, एनडीए की बात करें तो एजीपी को 14 और बीओपीएफ को 12 सीटें मिलीं। कुल मिलाकर चुनाव में एनडीए के खाते में 86 सीटें गई थीं।

असम : कुल विधानसभा सीटें : 126

बहुमत के लिए- 64

पार्टी सीटें  वोट %
भाजपा 60 29.8%
कांग्रेस 26 31.3%
एजीपी 14 20.1
एआईयूडीएफ 13 13.2%
बीओपीएफ 12 4%
निर्दलीय 1 11.2%

असम: कांग्रेस का रहा दबदबा
अब तक की बात करें तो असम में कांग्रेस का दबदबा रहा है। यहां सिर्फ चार बार गैर कांग्रेसी सीएम बने हैं। इनमें से दो बार एनडीए में भाजपा की सहयोगी एजीपी और एक बार जनता पार्टी और 2016 में भाजपा ने सरकार बनाई। बाकी चुनावों में कांग्रेस को ही जीत मिली। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios