Asianet News HindiAsianet News Hindi

सोनिया गांधी के नेतृत्व में 5 राज्यों का चुनाव लडे़गी कांग्रेस, उत्तरप्रदेश में सबसे बड़ी चुनौती

उत्तरप्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में इस साल और 2022 की शुरुआत में चुनाव होने हैं। वहीं, गुजरात और हिमाचल प्रदेश में 2022 के अंत में चुनाव होने हैं। 

Assembly Elections 2022, Congress will contest under Sonia Gandhi leadership
Author
New Delhi, First Published Oct 16, 2021, 7:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन होगा इसका फैसला अगस्त-सितंबर 2022 में होगा। हालांकि की पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं (Congress) और पार्टी नेताओं को साफ मैसेज दे दिया है कि वो पार्टी की फुल टाइम प्रेसिडेंट हैं। सोनिया गांधी ने पार्टी के G-23 नेताओं को यह संदेश दिया है कि वे ही पार्टी की फुल टाइम प्रेसिडेंट हैं। इस साल और 2022 की शुरुआत में पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव होने हैं। अब साफ हो गया है कि ये चुनाव सोनिया गांधी के नेतृत्व में होंगे। 

इसे भी पढ़ें-  CWC Meeting: फिर कांग्रेस अध्यक्ष बन सकते हैं राहुल गांधी, अगले साल अगस्त-सितंबर में होगा कांग्रेस प्रसिडेंट
 

इन पांच राज्यों में होने हैं चुनाव 
उत्तरप्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में इस साल और 2022 की शुरुआत में चुनाव होने हैं। वहीं, गुजरात और हिमाचल प्रदेश में 2022 के अंत में चुनाव होने हैं। अगर सिंतबर 2022 में कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव हो जाते हैं तो सोनिया गांधी के नेतृत्व में पांच राज्यों में चुनाव होंगे।

अभी केवल एक राज्य में कांग्रेस की सरकार
दिसंबर 2022 तक देश के जिन 7 राज्यों में चुनाव होने हैं उनमें से केवल पंजाब ही एक ऐसा राज्य है जहां पर कांग्रेस की सरकार है। ऐसे में सोनिया गांधी के नेतृत्व की सबसे बड़ी चुनौती होगी पंजाब में पार्टी की वापसी के साथ-साथ अन्य राज्यों में भी पार्टी का जनाधार बढ़ाने की कोशिश होगी।

इसे भी पढ़ें-  Exclusive: राजनाथ सिंह के बयान पर तुषार गांधी ने जताई आपत्ति, कहा- सावरकर पहले ही 11 बार मांग चुके थे माफी

यूपी में सबसे बड़ी चुनौती
कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी चुनौती उत्तरप्रदेश में है। उत्तरप्रदेश में कांग्रेस के अभी केवल 7 विधायक हैं। जबकि 2019 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी खुद अमेठी से अपना चुनाव हार गए थे। ऐसे में सोनिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती है उत्तरप्रदेश में एक बार फिर से पार्टी का जनाधार मजबूत करने की।  यहां की 403 सीटों में से कांग्रेस के पास अभी सिर्फ 7 सीटें हैं।

किस राज्य में कितनी सीटें
गुजरात की 182 सीटों में से 66 कांग्रेस के पास हैं। इसी तरह पंजाब में 117 में से 80 और हिमाचल प्रदेश की 68 में से 19 सीटों पर कांग्रेस के विधायक हैं। ऐसे में सबसे बड़ी चुनौती कांग्रेस के लिए है राज्यों में एक बार फिर सत्ता की वापसी।  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios