Asianet News Hindi

Oxygen का NEWS मीटर: ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का जमाखोर नवनीत कालरा 3 दिन की पुलिस हिरासत में

देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर कमजोर पड़ती नजर आ रही है। इस बीच देश की स्वास्थ्य सेवाओं में भी लगातार सुधार हो रहा है। कोरोना के खिलाफ भारत की इस लड़ाई में देश और दुनियाभर से मदद मिल रही है। छोटे-बड़े कई मित्र देश लगातार भारत को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, सिलेंडर, वेंटिलेटर, दवाइयां और अन्य मेडिकल सहायता भेज रहे हैं। स्थानीयस्तर पर भी लगातार मदद मिल रही है। आइए जानते हैं विदेशों और स्थानीयस्तर पर मिल रही मदद से कैसे बदलती जा रहीं भारत की स्वास्थ्य सेवाएं...

NEWS meter of Oxygen, updated news on India getting medical help against Corona kpa
Author
New Delhi, First Published May 18, 2021, 9:29 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी लड़ाई में भारत के साथ दुनिया के कई देश कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हुए हैं। दुनियाभर से रोज मेडिकल सामग्री पहुंच रही है। इनमें ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, सिलेंडर और वेंटिलेटर से लेकर दवाइयां, मॉस्क और अन्य मेडिकल इक्विपमेंट शामिल हैं। स्थानीयस्तर पर भी औद्योगिक घराने और अन्य संगठन स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने अपना योगदान दे रहे हैं। बता दें कि पिछले 24 घंटे में 2.63 लाख नए केस आए हैं। इनमें से 4334 लोगों की मौत हुई, जबकि 4.22 लाख लोग ठीक हुए।

आइए जानते हैं विदेशों और स्थानीयस्तर पर मिल रही मदद से कैसे बदलती जा रहीं भारत की स्वास्थ्य सेवाएं...

दिल्ली: पुलिस कारोबारी नवनीत कालरा को खान मार्केट लाई। कालरा को दक्षिणी दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में कथित तौर पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जमाखोरी के मामले में तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया है।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस: चौथी ऑक्सीजन एक्सप्रेस 120 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन लेकर आज टाटानगर से व्हाइटफील्ड, बेंगलुरु पहुंची। कर्नाटक को अब तक रेल से 480 टन ऑक्सीजन मिल चुकी है।

विभिन्न देशों से मदद: केंद्र सरकार ने 27 अप्रैल से 16 मई तक कुल 11,321 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर, 15,801 ऑक्सीजन सिलेंडर, 19 ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट, 7,470 वेंटिलेटर/ बीआई पीएपी, करीब 5.5 लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन सड़क और हवाई माध्यम से विभिन्न राज्यों भेजे। 15 और 16 मई को ऑस्ट्रेलिया, रोमानिया, यूएसए, कजाकस्तान, यूके, ईयू (जर्मनी, पुर्तगाल, स्लोवेनिया), कतर, कुवैत, आईसीबीएफ (कतर), ब्रिटिश ऑक्सीजन कंपनी (यूके), मेडिकल ऐड (यूके) से बड़े पैमाने पर मिली राहत सामग्री शामिल हैं। इनमें ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर-263, वेंटिलेटर आदि 105, ऑक्सीजन सिलेंडर-2,332, रेमडेसिविर-30,753,कैसिरिविमैब/ इमडेविमैब- 20,000 शामिल हैं।

Asianet News का विनम्र अनुरोधः आइए साथ मिलकर कोरोना को हराएं, जिंदगी को जिताएं...। जब भी घर से बाहर निकलें माॅस्क जरूर पहनें, हाथों को सैनिटाइज करते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वैक्सीन लगवाएं। हमसब मिलकर कोरोना के खिलाफ जंग जीतेंगे और कोविड चेन को तोडेंगे। #ANCares #IndiaFightsCorona

 

pic.twitter.com/uiQ5UvhGaO

 

pic.twitter.com/O4HbaDNKmY

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios