नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे में कोरोना वैक्सीन बनने की तैयारियों का जायजा लिया। सबसे पहले पीएम ने अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क का दौरा किया। इसके बाद हैदराबाद में भारत बायोटेक, उसके बाद पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्लांट पहुंचकर वैज्ञानिकों से वैक्सीन पर विस्तार से बातचीत की। SII का दौरा करने के बाद मोदी ने कहा- मैंने वैक्सीन बनाने को लेकर डिटेल में बातचीत की। टीम से संतोषजनक बातचीत हुई। टीम ने मुझे भविष्य की योजनाओं के बारे में बताया।  

अहमदाबाद में जायडस के कोरोना वैक्सीन का जायजा लिया 

पीएम मोदी ने जायडस बायोटेक पार्क दौरे में कहा कि उन्होंने अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क में कोरोना के स्वदेशी डीएनए आधारित वैक्सीन के विकास का जायजा लिया। इस वैक्सीन को जायडस कैडिला डेवलप कर रही है। 

"

हैदराबाद में भारत बायोटेके लैब में पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक के लैब में कोराना की वैक्सीन कोवैक्सीन के निर्माण का जायजा लिया। पीएम यहां के लैब में पहुंचे और रिसर्चर से बात की। यहां कोवैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल चल रहा है। तीसरे फेज में कंपनी 26 हजार लोगों पर इस वैक्सीन का ट्रायल कर रही है। 
 

भारत बायोटेक की अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी अपनी कार से बाहर निकले और भारत माता की जय के नारे सुनने के बाद लोगों का अभिवादन किया।

पीएम मोदी ने इन तीन जगहों को क्यों चुना?

पीएम मोदी ने इन तीन जगहों को क्यों चुना? इसका जवाब है कि इन्हीं तीन जगहों पर कोरोना महामारी से निपटने के लिए वैक्सीन बन रही है। सबसे पहले बात अहमदाबाद की। यहां पर जायकोव-डी नाम की कोरोना वैक्सीन बन रही है। बनाने वाली कंपनी का नाम जायडस बायोटेक है। यह गुजरात के चांगोदर इंडस्ट्रियल एरिया में है। वैक्सीन का फेज-3 का ट्रायल्स शुरू हो चुका है। अब बात हैदराबाद की। यहां के प्लांट में भारत बायोटेक नाम की कंपनी कोवैक्सिन बना रही है। तीसरे फेज का काम जारी है। उम्मीद है कि जनवरी तक नतीजे आ जाएंगे। पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कोवीशील्ड नाम की वैक्सीन बना रही है। ट्रायल आखिरी दौर में है। 

गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल के मुताबिक, पीएम मोदी अहमदाबाद के पास जाइडस बायोटेक पार्क के प्लांट का दौरा करेंगे। जाइडस ने घोषणा की थी कि उसने टीके का पहला चरण पूरा हो चुका है। अगस्त में दूसरे चरण का काम शुरू हो चुका है। इसके बाद पीएम मोदी हैदराबाद के लिए उड़ान भरेंगे, जहां वह दवा निर्माता भारत बायोटेक में जाएंगे।