Asianet News Hindi

चौरी-चौरा पर पीएम मोदी ने जारी किया खास डाक टिकट, 100 साल पूरे होने पर कहीं ये 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चौरीचौरा की पवित्र भूमि पर देश के लिए बलिदान होने वाले और देश के स्वाधीनता आंदोलन को नई दिशा देने वाले वीरों को प्रणाम करता हूं। देश जब आजादी के 77वें बरस में प्रवेश कर रहा है। यह आयोजन उसे और महत्वपूर्ण बना दे रहा है।
 

PM Modi issued ticket on Chauri-Chaura, said such things on completion of 100 years asa
Author
Gorakhpur, First Published Feb 4, 2021, 12:35 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गोरखपुर  (Uttar Pradesh) । चौरी चौरा कांड के 100 साल पूरे हो गए। ऐसे में यूपी सरकार आज से शताब्दी वर्ष मना रही है, जिसके उपलक्ष्य में साल 2022 तक प्रदेश के सभी  75 जिलों में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। वहीं, गुरुवार को शताब्दी महोत्सव का आगाज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडिय कॉफ्रेसिंग के माध्यम से किया। इस दौरान उन्होंने चौरी-चौरा पर एक डाक टिकट जारी किया। साथ ही देश की आजादी की खातिर अपना जीवन बलिदान करने वाले बलिदानियों को नमन करते हुए  इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने चौरी-चौरा कांड पर प्रकाश डाला। जिसके बारे में हम आपको बता रहे है।

आंदोलन को नई दिशा देने वालों को किया नमन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि चौरीचौरा की पवित्र भूमि पर देश के लिए बलिदान होने वाले और देश के स्वाधीनता आंदोलन को नई दिशा देने वाले वीरों को प्रणाम करता हूं। देश जब आजादी के 77वें बरस में प्रवेश कर रहा है। यह आयोजन उसे और महत्वपूर्ण बना दे रहा है।

महामना के प्रयासों को बताया
पीएम नरेंद्र मोदी ने महामना मदन मोहन मालवीय का भी जिक्र किया। साथ ही कहा कि आजादी के आंदोलन में ऐसी बहुत कम घटना होगी जिसमें एक ही घटना में 19 संग्राम सेनानियों को फांसी पर लटका दिया गया हो। महामना के प्रयासों से डेढ़ सौ लोगों को फांसी से बचा लिया गया। आज का दिन बाबा राघव दास और महामना जी को भी प्रणाम करने का है। ब्रितानी हुकूमत 172 लोगों को फांसी देने पर उतारू थी, लेकिन बाबा राघवदास व महामना मदन मोहन मालवीय के प्रयास से 150 से अधिक की जान बवह ली। 

पीएम ने दिलाई ये याद
पीएम ने कहा कि जो शहीद हुए उनके कारण हम स्वतंत्र हुए। एक बात न भूलें कि वे देश के लिए शहीद हुए इसलिए हम स्वतंत्र हुए। देश के लिए जीने का संकल्प लें। हमें सौभाग्य मिला है देश के लिए जीने का। 

बहुत कम हुई होगी चौरी-चौरा जैसी घटनाएं
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस संग्राम के सेनानियों को भले ही इतिहास के पन्नों में जगह न दी गई हो, लेकिन उनके प्रयास ने महत्वपूर्ण कार्य किया। सभी मां भारती की वीर संतान थे। ऐसी बहुत कम घटना होगी, जिसमें एक साथ 19 लोगों को फांसी दी गई। आजादी के आंदोलन में ऐसी बहुत कम घटना होगी जिसमें एक ही घटना में 19 संग्राम सेनानियों को फांसी पर लटका दिया गया हो। 

नई तेजी देने वाला है बजट
कोरोना काल में देश के सामने जो चुनौतियां आईं उनके समाधान को यह बजट नई तेजी देने वाला है। पहले कई दिग्गज कह रहे थे कि इतने संकट के बाद कर लगाना पड़ेगा। लेकिन, देशवाशियों पर कोई बोझ नहीं बढ़ाया। सरकार ने ज्यादा से जुड़ खर्च करने का फैसला किया।

कहा खर्च होगा बजट का पैसा
पीएम मोदी ने कहा कि गांव को बाजार व मंडी से जोड़ने, पुल बनाने, रेल की पटरी बिछाने, शिक्षा, रेल बस चलाने, स्वास्थ्य के लिए खर्च किया जाएगा। इन कार्यों के लिए काम करने वालों की भी जरूरत होगी। निर्माण के लिए लोगों की जरूरत होगी। रोजगार मिलेगा। 

पीएम ने बताया क्या था पहले बजट का मतलब 
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि दशकों से बजट का मतलब सिर्फ घोषणा ही रह गई थी। बजट को हिसाब किताब का बही खाता बना दिया गया था। पहले की सरकारों ने बजट ऐसी घोषणाओं का माध्यम बन दिया था, जिसे पूरा ही नहीं कर पाते थे। लेकिन अब सोच व अप्रोच बदल दिया गया है। 

150 देशों में भेजी गई कोरोना की वैक्सीन
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज भारत खुद कोरोना की वैक्सीन बना रहा है। दुनिया के बड़े देशों से तेजी से टीकाकरण कर रहा है तो हमारे स्वतंत्रता सेनानियों की आत्मा को गर्व महसूस हो रहा होगा। उन्होंने कहा कि भारत ने कोरोना काल में 150 से अधिक देशों के नागरिकों को दवाई भेजी। मदद पहुंचाई। हजारों नागरिकों को सुरक्षित उनके देश भेजा। दुनिया के बड़े-बड़े देशों से भी तेज गति से टीकाकरण कर रहा है। कोरोना काल मे देश के सामने जो चुनौतियां आईं उनके समाधान को यह बजट नई तेजी देने वाला है। 

राज्यपाल और सीएम हुए कार्यक्रम में शामिल
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल कार्यक्रम में राजभवन लखनऊ से ऑनलाइन जुड़ी थी। जबकि सीएम योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से चौरी चौरा शहीद स्थल पर मौजूद थे। गोरखपुर में मंच पर चौरीचौरा थीम सांग की प्रस्तुति की गई। चौरीचौरा पर आधारित डॉक्यूमेंट्री का सूचना विभाग ने प्रसारण किया। 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios