Education

TCS में 80,000 पोस्ट खाली, नहीं मिल रहे स्किल्ड कैंडिडेट या वजह कुछ और

Image credits: social media

TCS में 80 हजार पद खाली, नहीं मिल रहे योग्य कैंडिडेट

भारत की सबसे बड़ी आईटी सर्विस कंपनी टाटा कंसल्टेंसी (TCS) को खाली पदों पर नियुक्ति के लिए योग्य कैंडिडेट नहीं मिल रहे हैं। इसकी वजह से 80 हजार पद रिक्त हैं।

Image credits: social media

स्किल गैप के कारण कंपनी चाह कर भी नहीं कर पा रही नियुक्ति

एक टाउन हॉल के दौरान टीसीएस के आरएमजी अमर शेट्टी ने खुलासा किया कि कंपनी के पास वर्तमान में हजारों पद खाली हैं लेकिन स्किल गैप के कारण चाह कर भी भर्तियां नहीं हो पा रही है।

Image credits: social media

कॉन्ट्रैक्ट के जरिए इस गैप को भरने की कोशिश

कंपनी इन खाली पदों को भरना चाहती है लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद ऐसा करने में मुश्किलें आ रही हैं। अब कंपनी कॉन्ट्रैक्ट के जरिए इस गैप को भरने की कोशिश कर रही है। 

Image credits: Getty

प्रोजेक्ट की जरूरत के अनुसार कैंडिडेट नहीं

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार टाउनहॉल में शामिल एक कर्मचारी ने बताया कंपनी को प्रोजेक्ट की जरूरत के अनुसार कैंडिडेट नहीं मिल रहे। जो मिल रहे उनका स्किल मैच नहीं कर रहा।

Image credits: Getty

फ्रेशर्स की ज्वाइनिंग क्यों टाल रही बड़ी कंपनियां

रिपोर्ट के अनुसार इस समय देश की बड़ी आईटी कंपनियां करीब 10 हजार फ्रेंशर्स की ज्वाइनिंग में देरी कर रही है। इन कंपनियों में टीसीएस, इंफोसिस, विप्रो समेत अन्य कई हैं।

Image credits: social media

इंफोसिस में फ्रेशर्स को नहीं बताया गया ज्वाइनिंग डेट

इंफोसिस ने फ्रेशर्स को ज्वाइनिंग डेट नहीं दी है। एक मेल के जरिए बताया है कि उनकी ज्वाइनिंग बिजनेस की जरूरतों के अनुसार तय की जायेगी। 3 से 4 हफ्ते पहले इसकी सूचना दी जायेगी। 

Image credits: Getty

इस साल कैंपस में चुने गये फ्रेशर्स की संख्या घटी

पिछले साल जहां इंफोसिस में 50 हजार लोगों को जॉब पर रखा था वहीं इस साल कैंपस के जरिए चुने गये कैंडिडेट की संख्या 12 हजार से भी कम हैं।

Image credits: Getty

बड़ी कंपनियों के वर्कफोर्स में 64 हजार से ज्यादा गिरावट

रिपोर्ट के अनुसार टीसीएस, विप्रो और इंफोसिस के वर्कफोर्स की संख्या में 64 हजार से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है।

Image credits: Getty

कर्मचारियों की संख्या में 1,759 की गिरावट दर्ज

टीसीएस की पूरे साल की कर्मचारियों की संख्या में 19 साल में पहली बार गिरावट आई है। 2024-25 की चौथी तिमाही में कर्मचारियों की संख्या में तिमाही-दर-तिमाही 1,759 की गिरावट है। 

Image credits: Getty