Bollywood

90 के दशक की वो संगीतकार जोड़ी, 1 फंसा हत्या में, दूसरा यूं हुआ बर्बाद

Image credits: facebook

बॉलीवुड की सबसे मशहूर संगीतकार जोड़ी

वर्ल्ड म्यूजिक डे के मौके पर आपको बॉलीवुड की सबसे मशूर संगीतकार जोड़ी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने 90 के दशक में अपने संगीत से गदर मचाया था।

Image credits: facebook

संगीतकार नदीम-श्रवण

90 के दशक की ज्यादातर फिल्मों में नदीम-श्रवण का संगीत हुआ करता था। कहा जाता है कि जिस फिल्म में वे संगीत दे दें, वो बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर हो जाती थी।

Image credits: facebook

भोजपुरी फिल्म से किया था नदीम-श्रवण ने डेब्यू

आपको जानकर हैरानी होगी कि नदीम-श्रवण ने 1979 में भोजपुरी फिल्म दंगल से डेब्यू किया था। इसके बाद उन्होंने कुछ हिंदी फिल्मों में संगीत दिया, पर खास पहचान नहीं बना पाए।

Image credits: facebook

आशिकी से सुपरहिट हुई नदीम-श्रवण की जोड़ी

नदीम-श्रवण की जोड़ी को 1990 में आई फिल्म आशिकी से पहचान मिली। इस फिल्म के गाने सुपरहिट रहे। इनकी जोड़ी टी सीरीज के गुलशन कुमार की पसंदीदा जोड़ी बन गई। तीनों ने साथ मिलकर काम किया।

Image credits: facebook

हत्या की साजिश में फंसे नदीम सैफी

बॉलीवुड की कई फिल्मों में बेहतरीन संगीत देने वाली नदीम-श्रवण की जोड़ी का उस वक्त पतन शुरू हुआ जब नदीम का नाम गुलशन कुमार हत्याकांड में सामने आया।

Image credits: facebook

नहीं मिले नदीम सैफी के खिलाफ सबूत

बताया जाता है कि 1997 में नदीम सैफी पर गुलशन कुमार की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगा। 2002 में सबूत नहीं मिलने के कारण अदालत ने मामले को रद्द किया। 

Image credits: facebook

नदीम-श्रवण ने बंद किया साथ काम करना

नदीम पर गुलशन कुमार की हत्या की साजिश करने के आरोपों के बाद नदीम-श्रवण की जोड़ी भी टूट गई। 2005 में दोनों ने अपनी-अपनी राहें अलग कर ली।

Image credits: facebook

बर्बाद हुए श्रवण राठौर

गिरफ्तारी के डर से नदीम सैफी लंदन गए तो वापस ही नहीं लौटे। वहीं, श्रवण राठौर से मिलने में भी फिल्म इंडस्ट्री के लोग घबराने लगे और धीरे-धीरे उनका करियर बर्बाद हो गया।

Image credits: facebook

श्रवण राठौर का निधन

श्रवण राठौर ने धीरे-धीरे काम करना बंद कर दिया और अपने बेटों संजीव-दर्शन की जोड़ी को आगे बढ़ाने में बिजी हो गए। कोरोना काल में श्रवण का 2021 में निधन हो गया।

Image credits: facebook