Spiritual

प्रेमानंद महाराज: क्या पूजा-पाठ करने वालों का मांस-मदिरा सेवन ठीक है?

Image credits: facebook

जानें लाइफ मैनेजमेंट के सूत्र

प्रेमानंद महाराज अपने प्रवचनों में लाइफ मैनेजमेंट के कई गहरे सूत्र भी बता देते हैं। ये सूत्र हमारे लिए बहुत काम के होते हैं। इनसे हमारे जीवन की परेशानियां भी कम हो सकती हैं।

Image credits: facebook

वायरल हो रहा ये वीडियो

प्रेमानंद महाराज का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वे मांस-मदिरा का सेवन करने वाले लोगों के बारे में बता रहे हैं। आगे जानें क्या कहा प्रेमानंद बाबा ने…

Image credits: facebook

ऐसी भक्ति का कोई अर्थ नहीं

प्रेमानंद महाराज के अनुसार, ‘जो लोग मांस मदिरा का सेवन करते हैं उनकी भक्ति और पूजा का कोई अर्थ नहीं रह जाता। यही बात छल-कपट करने वाले लोगों पर भी लागू होती है।’

Image credits: facebook

कर्मों का फल तो भोगना ही पड़ेगा

प्रेमानंद महाराज के अनुसार, ‘ईश्वर की पूजा तो असुरों ने भी की थी लेकिन फिर भी उनकी प्रवृत्ति में कोई परिवर्तन नहीं आया। इसलिए उन्हें अपने कर्मों का फल भोगना ही पड़ा।’

Image credits: facebook

ऐसे लोगों का साथ नहीं देते भगवान

प्रेमानंद महाराज के अनुसार, ‘जो लोग सोचते हैं कि पूजा-पाठ करने से हमारे बुरे कर्म नष्ट हो जाएंगे, ये उनक भ्रम है क्योंकि गलत काम करने वालों का साथ तो भगवान भी नहीं देता।’

Image credits: facebook

मन में नहीं आती गलत बातें

प्रेमानंद महाराज के अनुसार, ‘जो लोग सच्चे मन से भगवान की पूजा-पाठ करते हैं उनके मन में मांस-मदिरा के सेवन और दूसरों से छल-कपट करने जैसी बातें आती ही नहीं है।’

Image credits: facebook