Asianet News HindiAsianet News Hindi

अमेरिका में शुरू हुआ कोरोना वैक्सीनेशन, ट्रंप बोले- अमेरिका को बधाई! पूरी दुनिया को बधाई

अमेरिका में आज से वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि अमेरिका में पहली वैक्सीन लगा दी गई है। अमेरिका को बधाई! पूरी दुनिया को बधाई! वहीं, देश में पहली कोरोना वैक्सीन अश्वेत नर्स सैंड्रा लिंडसे को लगाई गई।

Corona vaccination started in America Trump said Congratulations to America Congratulations to the whole world kpl
Author
Washington D.C., First Published Dec 15, 2020, 8:52 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन. अमेरिका में आज से वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि अमेरिका में पहली वैक्सीन लगा दी गई है। अमेरिका को बधाई! पूरी दुनिया को बधाई! वहीं, देश में पहली कोरोना वैक्सीन अश्वेत नर्स सैंड्रा लिंडसे को लगाई गई। यहां पहले फेज में हेल्थ केयर वर्कर्स को यह वैक्सीन दी जानी है। इससे पहले पूरे दिन वैक्सीनेशन के लिए तैयारियां चलती रहीं। देश के कई राज्यों में 145 जगहों पर वैक्सीन पहुंचाई गई।

अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उप राष्ट्रपति माइक पेंस को भी वैक्सीन ऑफर होगी। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि ट्रम्प तुरंत यह वैक्सीन लगवाएंगे या नहीं, क्योंकि वे पहले एक बार संक्रमित हो चुके हैं। प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को भी टीका लगाने की योजना है। व्हाइट हाउस के जरूरी काम करने वाले स्टाफ और ऑफिसर्स को वैक्सीन लगाने में फिलहाल देरी होगी। इससे पहले यह खबर आई थी कि 10 दिन में इन्हें वैक्सीन लगा दी जाएगी। हालांकि, ट्रम्प ने इसके कुछ ही देर बाद सोशल मीडिया पर लिखा- व्हाइट हाउस के स्टाफ को वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत बाद में टीका लगाया जाएगा। 

फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स और बुजुर्गों को पहले लगेगा टीका 
अमेरिका में कई चरणों में वैक्सीनेशन होगा। पहले चरण में फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स और केयर होम में रह रहे बुजुर्ग लोगों को टीका लगाया जाएगा। कोरोना वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन की जिम्मेदारी जनरल गुस्ताव पेरना देख रहे हैं। पेरना के मुताबिक, इस हफ्ते के अंत तक सभी राज्यों में वैक्सीन के करीब 30 लाख डोज पहुंच जाएंगे। ट्रकों और जहाजों के जरिए वैक्सीन डोज पहुंचाई जा रही है। सरकार ने बीते हफ्ते ही फाइजर और बायोएनटेक को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है। देश के फेडरल ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) और डिजीस कंट्रोल सेंटर (सीडीसी) ने इसे सुरक्षित बताया है।

अमेरिका ने आधी आबादी के लिए वैक्सीन का इंतजाम किया
अमेरिका ने मॉडर्ना की वैक्सीन के 10 करोड़ एक्स्ट्रा डोज का ऑर्डर दिया है। इससे पहले जुलाई में अमेरिका ने मॉडर्ना से एक लाख डोज खरीदे थे। उसने कुल 30 करोड़ एक्स्ट्रा डोज खरीदने का टारगेट रखा है। हर मरीज को दो डोज की जरूरत पड़ती है। इस लिहाज से 15 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा सकेगी।अमेरिका की आबादी करीब 33 करोड़ है। इसका मतलब है कि उसने आधी आबादी के लिए वैक्सीन का इंतजाम कर लिया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios