Asianet News Hindi

असम में बोले राहुल-CAA को लागू नहीं होने देंगे, 5 लाख लोगों को रोजगार और 200 यूनिट बिजली फ्री देंगे

राहुल गांधी शुक्रवार को असम विधानसभा चुनाव के लिए राज्य में प्रचार करने पहुंचे। अपनी 2 दिवसीय यात्रा के दौरान राहुल गांधी ऊपरी असम और उत्तरी असम में तीन चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। वह अपनी यात्रा के दौरान चाय बागान श्रमिकों और कॉलेज के छात्रों के साथ बातचीत भी करेंगे। इस दौरान उन्होंने  बेरोजगारी और सीएए मुद्दा फिर उठाया।

Assam assembly elections, Rahul Gandhi tour of Assam kpa
Author
Guwahati, First Published Mar 19, 2021, 12:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

दिसपुर, असम. कांग्रेस नेता राहुल गांधी असम विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करने शुक्रवार को अपने दो दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचे। अपनी 2 दिवसीय यात्रा के दौरान राहुल गांधी ऊपरी असम और उत्तरी असम में तीन चुनावी रैलियां करेंगे। उन्होंने यात्रा के दौरान चाय बागान श्रमिकों और कॉलेज के छात्रों के साथ बातचीत भी की।

डिब्रूगढ़ में बोले राहुल गांधी 

  • आज हिंदुस्तान में पढ़ रहे बच्चों को रोजगार नहीं मिल रहा। नरेंद्र मोदी ने मेड इन इंडिया की बात की। मगर आप मोबाइल फोन, शर्ट के पीछे देखिए आपको मेड इन इंडिया, मेड इन असम नहीं दिखेगा। आपको सिर्फ मेड इन चाइना दिखेगा। यहीं हम बदलना चाहते हैं ये काम BJP नहीं कर सकती।
  • हम गारंटी देते हैं कि CAA को लागू नहीं होने देंगे। असम में 5 लाख लोगों को रोजगार देंगे। 200 यूनिट बिजली मुफ्त में देंगे। हम हर गृहणी को 2,000 रुपये देंगे। हमने अपना घोषणापत्र असम की जनता से बात करके बनाया है, बंद कमरों में नहीं बनाया है।
    आज हिंदुस्तान में पढ़ रहे बच्चों को रोजगार नहीं मिल रहा। नरेंद्र मोदी ने मेड इन इंडिया की बात की। मगर आप मोबाइल फोन, शर्ट के पीछे देखिए आपको मेड इन इंडिया, मेड इन असम नहीं दिखेगा। आपको सिर्फ मेड इन चाइना दिखेगा। यहीं हम बदलना चाहते हैं ये काम BJP नहीं कर सकती।
  • लोकतंत्र में गिरावट आ रही है। युवा बेरोजगार है, किसान विरोध कर रहे हैं, सीएए है। अगर हम दिल्ली में आते हैं, तो हम असम के लोगों से उनकी संस्कृति, भाषा को भूलने के लिए नहीं कह सकते। एक बल, नागपुर में पैदा हुआ, पूरे देश को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहा था।
  • मेरा विचार है कि ज्यादा से ज्यादा युवाओं को राजनीति में आना चाहिए। सक्रिय रूप से राजनीति में योगदान देना चाहिए। जहां भी आपको लगता है कि असम से चोरी की जा रही है। फिर आपको असम के लिए प्यार से लड़ना चाहिए।
  • असम में आपको बांटा जा रहा है। एक धर्म को दूसरे धर्म से लड़ाकर। एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति से लड़ाकर और उसके बाद जो आपका है चाहे एयरपोर्ट हो, टी गार्डन हो उन सबको बेचकर अपने मित्रों को दिया जा रहा है।

यह भी जानें
असम की 126 विधानसभा सीटों के लिए तीन चरणों में चुनाव होना है। पहले चरण के लिए 27 मार्च का वोटिंग होगी। इसमें 47 सीटें हैं। दूसरे चरण में 39 सीटों पर एक अप्रैल का वोट डाले जाएंगे। तीसरे और अंतिम चरण में 40 सीटों के लिए 6 अप्रैल को वोटिंग होगी। सभी की गिनती अन्य चार राज्यों-पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी के साथ 2 मई को होगी। असम में विधानसभा का कार्यकाल 31 मई को खत्म हो रहा है। 2016 में हुए चुनाव में भाजपा ने 15 साल से यहां सत्तारूढ़ कांग्रेस को शिकस्त दी थी। तब भाजपा को 86 सीटें मिली थीं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios