Asianet News Hindi

राहुल गांधी ने बिहार में बताया- क्यों, पंजाब में दशहरे पर रावण की जगह पीएम का जलाया गया पुतला

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री कुछ साल पहले यहां आए थे और उन्होंने कहा था कि ये गन्ने का इलाका, चीनी मिल चालू करूंगा और अगली बार आऊंगा तो यहां की चीनी चाय में मिलाकर पिऊंगा। क्या उन्होंने आपके साथ चाय पी?
 

Rahul Gandhi told in Bihar - why, in Punjab, PM Narendra Modi's effigy was burnt in place of Ravana on Dussehra asa
Author
Bihar, First Published Oct 28, 2020, 2:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (Bihar) । राहुल गांधी ने कृषि कानूनों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं और दुख की बात है कि दशहरे के मौके पर देश के प्रधानमंत्री का पुतला जलाया जा रहा है। खुशी की बात नहीं है, दुख की बात है। कारण क्या है...कारण ये है कि जो नीतीश जी ने बिहार के साथ 2006 में किया। वो आज नरेंद्र मोदी जी पंजाब, हरियाणा और पूरे हिंदुस्तान के साथ कर रहे हैं। राहुल गांधी आज राहुल गांधी वाल्मीकि नगर (पश्चिम चंपारण) में चुनावी सभा कर रहे  थे।

राहुल ने पूछा-क्या पीएम ने आपके साथ चाय पी
राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री कुछ साल पहले यहां आए थे और उन्होंने कहा था कि ये गन्ने का इलाका, चीनी मिल चालू करूंगा और अगली बार आऊंगा तो यहां की चीनी चाय में मिलाकर पिऊंगा। क्या उन्होंने आपके साथ चाय पी?

राहुल ने कहा-ये है हिंदुस्तान की सच्चाई
राहुल गांधी ने कहा कि शहर का सहारा गांव होता है, गांव का सहारा किसान होता है और किसान का सहारा उसका खेत होता है। खेत और किसान के बिना शहर नहीं चल सकता है। यह हिंदुस्तान की सच्चाई है। 

नोटबंदी और तालाबंदी का एक था मकसद
राहुल गांधी ने रोजगार के मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी को घेरा। साथ ही कहा कि नोटबंदी और तालाबंदी का मकसद एक ही था। इसका उद्देश्य छोटे किसानों, छोटे व्यवसायों, व्यापारियों और मजदूरों को नष्ट करना था। बिहार के लोगों को दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और बंगलूरू में रोजगार मिलता है। लेकिन, बिहार में नहीं मिलता। इसकी वजह हैं नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी में कमी होना। 
 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios