Asianet News Hindi

चुनाव से पहले तोहफे पर तोहफा दिए जा रहे PM मोदी, किस बात के लिए CM नीतीश ने केंद्र के आगे जोड़े हाथ?

नरेंद्र मोदी राज्य के विकास के लिए एक पर एक योजनाओं की सौगात दे रहे हैं और पूरी हो गई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन भी कर रहे हैं। इस बीच राज्य के जेडीयू चीफ और एनडीए के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में एक खास काम के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया। 

What cm Nitis Kumar ask to Narendra Modi and central government before bihar election
Author
Patna, First Published Sep 18, 2020, 4:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। बिहार में नवंबर के अंततक विधानसभा चुनाव (Assembly elections 2020) करा लेने की तैयारी है। हालांकि अभी तक चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान नहीं किया है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM  Narendra Modi) राज्य के विकास के लिए एक पर एक योजनाओं की सौगात दे रहे हैं और पूरी हो गई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन भी कर रहे हैं। इस बीच राज्य के जेडीयू चीफ और एनडीए (NDA) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने राज्य में एक खास काम के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया। 

दरअसल, नरेंद्र मोदी ने 86 साल के लंबे इंतजार के बाद मिथिलावासियों को कोसी महासेतु समेत रेलवे की 11 परियोजनाओं की सौगात दी। इस तोहफे से मिथिलांचल में लोग काफी खुश भी हैं। नीतीश कुमार राज्य के लिए केंद्र से और ज्यादा उम्मीद रखते हैं। दरअसल, बिहार के जमालपुर में इंडियन रेलवे इंस्टीट्यूट ऑफ मैकेनिकल इंजीनियरिंग (Jamalpur Indian Railway Institute of Mechanical and Electrical Engineering) है। नीतीश ने इसी संस्थान को दोबारा शुरू करवाने के लिए मोदी सरकार के आगे हाथ जोड़ा। 

नीतीश ने क्यों गुजारिश की?
नीतीश ने कहा, "एक और गुजारिश करेंगे रेलमंत्री (मोदी सरकार से) से कि मुंगेर-जमालपुर इंस्टीट्यूट को फिर से शुरू करवा दीजिए। कभी यूपीएससी (UPSC) के जरिए वहां छात्रों का दाखिला होता था। यहां मेकैनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद छात्रों को रेलवे में ही नौकरी मिल जाती थी।"

32 साल पहले खुला था संस्थान 
सीएम नीतीश ने कहा, "जमालपुर और मुंगेर (Munger) के पढ़े हुए मेकैनिकल इंजीनियर में एक अलग ही रुतबा देखने को मिलता है। इस संस्थान की एक अलग ही प्रतिष्ठा थी। छात्रों के लिए इंस्टिट्यूट को फिर से चालू करवा दीजिए। इलेक्ट्रिकल के रूप में ऐसे और संस्थान भी शुरू किए जा सकते हैं। हम आपसे (रेल मंत्रालय) यही गुजारिश करेंगे कि इसे देख लीजिएगा।" बताते बता दें कि साल 1888 में स्थापित जमालपुर इंडियन रेलवे इंस्टीटयूट ऑफ मैकेनिकल एंड इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग देश का सबसे पुराना संस्थान था जिसे बाद में बंद कर दिया गया। 

 

 

Kosi Mahasetu: 86 साल बाद Kosi-Mithila का मिलन, पीएम मोदी ने दी Bihar को खास सौगात

"

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios